शहर की रफ्तार रोक रहीं प्रतिबंधित मोबाइल फूड वैन, हाथ पर हाथ धरे बैठे जिम्मेदार

  • सडक़, फुटपाथ से लेकर पार्कों तक पर कब्जा, जाम हो रहा टै्रफिक
  • पुलिस की शह पर चल रहा धंधा, कार्रवाई से कतरा रहा नगर निगम

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शहर में नो वेंडिंग जोन से अतिक्रमण हटाने की सभी कोशिशें नाकाम हो चुकी हैं। प्रतिबंधित मोबाइल फूड वैन जहां-तहां खड़ी की जा रही हैं। सडक़ और फुटपाथ से लेकर पार्कों तक में फूड वैन का संचालन हो रहा है। ये फूड वैन मुख्य मार्गों में ट्रैफिक व्यवस्था को ध्वस्त कर रहे हैं। यह सब स्थानीय पुलिस की शह पर चल रहा है। दूसरी ओर सब कुछ जानते-बूझते नगर निगम प्रशासन हाथ पर हाथ धरे बैठा है।
सडक़, फुटपाथ, नालों के किनारे, सरकारी और प्राइवेट कार्यालय समेत तमाम स्थानों पर फूड वैन का संचालन कर खान-पान की सामग्री बेची जा रही है। ऐसे में शहर के मार्गों पर वाहनों का ठहराव और जमावड़ा लगा रहता है। शाम होते ही मोबाइल फूड वैन की संख्या में इजाफा हो जाता है। ये वैन देर रात तक संचालित होती रहती हैं। जहां-तहां खड़ी मोबाइल फूड वैन का सीधा असर शहर की यातायात व्यवस्था पर पड़ रहा है। कुछ दिनों पहले नगर निगम की वेंडिंग कमेटी ने यह स्पष्ट कर दिया था कि सडक़ों पर अब मोबाइल फूड वैन नहीं चलेंगी। फूड ट्रक पर खानपान का सामान बेचना प्रतिबंधित होगा। बैठक में नगर निगम की वेंडिंग कमेटी ने ठेला, साप्ताहिक बाजार, टोकरी, झऊवा, साइकिल और फेरी के लिए वेंडिंग जोन और किराया तय कर दिया है। उस समय वेंडिंग कमेटी से मोबाइल फूड वैन के लिए भी मंजूरी मांगी गई थी, जिस पर कमेटी ने विचार करने तक से इनकार कर दिया था। मोबाइल वैन से खानपान का सामान बेचने के लिए आवेदन करने भी अनुमति नहीं दी गई। यही नहीं वेंडिंग कमेटी ने इसको शहर की यातायात व्यवस्था के लिहाज से गलत माना था और इसको प्रतिबंधित करते हुए कार्रवाई करने के लिए भी कहा था। बावजूद आज तक इनको लेकर कोई अभियान नहीं चलाया गया है। हकीकत यह है कि पुलिस की शह पर मोबाइल फूड वैन का संचालन हो रहा है। यातायात व्यवस्था व सडक़ों पर लगने वाले जमावड़े पर पुलिस का कोई ध्यान नहीं है। आलम यह है कि तमाम जगहों पर मोबाइल फूड वैन शराब पीने वालों को नाश्ता परोसने का काम कर रही है जो कि सुरक्षा के लिहाजा से भी सही नहीं है। बावजूद इसके इनके खिलाफ जिम्मेदार कोई भी कार्रवाई करने से कतरा रहे हैं।

यहां होता है संचालन

हजरतगंज, कपूरथला, महानगर, समतामूलक चौक, बंधा मार्ग, कुर्सी रोड, खुर्रम नगर, सीतापुर रोड, किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज के आस-पास, आईटी चौराहा, फैजाबाद रोड, गोमतीनगर, फन और वेब माल के आस-पास, चिनहट, निशातगंज, चारबाग, आलमबाग, चौक, पुराना लखनऊ, कैसरबाग समेत शहर के लगभग सभी इलाकों में मोबाइल फूड वैन का संचालन किया जा रहा है।

गंदगी फैला रहे वैन संचालक

मोबाइल फूड वैन संचालक जहां-तहां गंदगी फैला रहे हैं। कई जगह मोबाइल फूड वैन बेस्ट माल और डिस्पोजल कप प्लेट को नाली-नाले व सडक़ के आसपास डालकर चली जाती हैं। चूंकि मोबाइल फूड वैन का संचालन ज्यादातर शाम के समय होता है इसलिए नगर निगम इन पर स्पॉट फाइन या किसी प्रकार का जुर्माना नहीं लगा पाता है। प्रतिबंध के बावजूद इनके संचालन को रोकने के लिए नगर निगम किसी प्रकार का अभियान नहीं चला रहा है।

Loading...
Pin It