केंद्रीय मंत्रियों को भी बासी खाना परोसने से बाज नहीं आ रहा रेलवे

  • वंदे भारत एक्सप्रेस में यात्रा कर रहीं राज्यमंत्री निरंजन ज्योति व अन्य का मामला

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बनारस से दिल्ली जा रही वंदे भारत एक्सप्रेस ट्रेन से सफर कर रहीं केंद्रीय ग्रामीण विकास राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति और अन्य यात्रियों को घटिया और बासी खाना परोस दिया गया। केंद्रीय राज्यमंत्री के साथ कोच में मौजूद दिल्ली जा रहे आईआईटी कानपुर के प्रोफेसर अमय करकरे समेत कई यात्रियों ने शिकायत पुस्तिका में शिकायत दर्ज की है।
केंद्रीय राज्यमंत्री साध्वी निरंजन ज्योति व आईआईटी प्रोफेसर के साथ ही ट्रेन के एग्जिक्यूटिव कोच ई-1 में कथावाचक आचार्य शांतनु महाराज, बीएनडी कालेज के प्राचार्य डॉ. विवेक द्विवेदी, सीएसजेएम यूनिवर्सिटी के सिस्टम मैनेजर डॉ. सरोज द्विवेदी, इलाहाबाद विश्वविद्यालय के डॉ. अभिषेक भी दिल्ली के लिए सफर कर रहे थे। उन सभी ने बताया कि रात करीब आठ बजे पेंट्री कार के कर्मचारी खाना लाए तो पनीर से दुर्गंध आने जैसा लगा। पैकेट खोला तो पूरा खाना बासी लगा। कोच अटेंडेंट से पूछा तो कहा कि जो खाना आया, वही दिया गया। इस पर साध्वी उठीं और कोच के अन्य यात्रियों से बात की। खाना खराब होने पर साध्वी समेत कई यात्रियों ने शिकायत पुस्तिका में शिकायत दर्ज की। इस बीच रेलवे स्टाफ ने बताया कि ट्रेन में रात का खाना होटल लैंडमार्क से आता है। होटल लैंडमार्क के एमडी विकास मेहरोत्रा का कहना है कि खाना घटिया नहीं था। एक यात्री नशे में था। उसने खाना खराब होने की शिकायत की है। खाने के सैंपल की रोज जांच की जाती है। जांच में खाने में कोई गड़बड़ी नहीं मिली।

खराब पनीर-पराठा और कच्चा चावल परोसा

वंदे भारत एक्सप्रेस से यात्रा कर रहे मेहुल और अमित खंडेलवाल ने बताया कि डिब्बा बंद होने के बाद भी खाने से दुर्गंध आ रही थी। इसी प्रकार अन्य यात्रियों ने बताया कि पनीर और पराठे खराब थे तो चावल कच्चा दिया गया था। घटिया खाना परोसे जाने पर साध्वी ने नाराजगी जताते हुए एक-एक कर अन्य कोचों में परोसा गया खाना देखा। पता चला कि केवल ई-1 कोच में ही खराब खाना परोसा गया। उन्होंने ट्रेन स्टाफ को तलब कर खाने के संबंध में जानकारी ली।

रेलमंत्री से करेंगी शिकायत

केंद्रीय मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति ने कहा कि मुझे भी खाना खराब मिला। इसकी शिकायत रेल मंत्री से जरूर करेंगे। यह यात्रियों की सेहत के साथ खिलवाड़ है। जो लोग भी इसके लिए जिम्मेदार हैं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।

कठुआ दुष्कर्म मामले में छह दोषी करार

  • अपराधियों को दी जा सकती है मौत की सजा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर के कठुआ में बंजारा समुदाय की आठ साल की बच्ची के साथ बलात्कार और उसकी हत्या के मामले में पठानकोट की अदालत ने आज फैसला सुनाया। जिसमें कुल छह लोगों को दोषी करार दिया गया है। जबकि सातवें आरोपी विशाल को बरी कर दिया गया। इस मामले में आज दोपहर बाद दोषियों को उम्र कैद या मृत्युदंड का फैसला सुनाया जा सकता है।
बता दें, देश को स्तब्ध कर देने वाले इस मामले में बंद कमरे में सुनवाई तीन जून को पूरी हो गई थी। जिन आरोपियों को दोषी करार दिया गया है, उनमें ग्राम प्रधान सांजी राम (मुख्य आरोपी), स्पेशल पुलिस ऑफिसर दीपक खजुरिया, रसाना गांव के परवेश दोषी, असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर तिलक राज, असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर आनंद दत्ता और पुलिस ऑफिसर सुरेंद्र कुमार शामिल हैं। जबकि सांजी राम के बेटे विशाल को बरी कर दिया है। वहीं इस फैसले को देखते हुए पठानकोट कोर्ट परिसर को एहतियातन छावनी में तब्दील कर दिया गया है।

मुलायम की सेहत में सुधार, अस्पताल से डिस्चार्ज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गोमती नगर स्थित डॉ. राम मनोहर लोहिया संस्थान में भर्ती समाजवादी पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव को अस्पताल से छुट्टी मिल गयी है। उन्हें रविवार को भर्ती कराया गया था। मुलायम को आवश्यक जांच होने और स्थिति नॉर्मल होने के बाद डिस्चार्ज कर दिया गया। मुलायम को डायबिटीज का लेवल बढऩे की शिकायत के बाद लोहिया संस्थान में भर्ती कराया गया था। जहां पर उनकी जांचें हुईं तथा इंसुलिन से ब्लड शुगर का लेवल नॉर्मल लाया गया। इसके बाद रात में करीब दो बजे उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। मुलायम को संस्थान के द्वितीय तल स्थित प्राइवेट वार्ड में भर्ती किया गया था। उनका इलाज करने वाले डॉ भुवन चंद्र तिवारी के अनुसार शुगर का लेवल हाई होने के कारण उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था। आवश्यक जांचें होने तथा जांच रिपोर्ट में स्थिति ठीक आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। आपको बता दें कि उन्हें हाईपरटेंशन की भी शिकायत है। मुलायम के भर्ती होने की खबर सुनने के बाद उनके भाई शिवपाल सिंह यादव भी भाई अस्पताल पहुंच गये और उनका हालचाल जाना। शिवपाल ने चिकित्सकों से भी बात की।

.राम मंदिर मुद्दे पर शिवसेना की राजनीति तेज

  • संजय राउत ने कहा मोदी ही न्यायालय, मोदी ही न्यायाधीश

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद संजय राउत ने पीएम मोदी और राम मंदिर निर्माण को लेकर बड़ा बयान दिया है। संजय राउत ने लखनऊ में कहा कि देश की जनता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा और एनडीए को लोकसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत देकर शक्तिशाली बना दिया है। जनता के वोट ने देश के चौकीदार नरेंद्र मोदी को बड़े निर्णय लेने की शक्ति दे दी है। क्योंकि जनता की नजर में मोदी ही न्यायालय हैं और मोदी ही न्यायधीश हैं। इसलिए अयोध्या में भगवान श्रीराम का मंदिर बहुत जल्द बनेगा।
बता दें, केंद्र की एनडीए सरकार के सहयोगी दल शिवसेना ही नहीं विहिप और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की भी चाहत है कि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर निर्माण शुरू होना चाहिए। शिवसेना के संजय राउत ने कुछ दिन पूर्व कहा था कि लोकसभा चुनाव में भाजपा को 302 सीटें मिली हैं। इसके अलावा शिवसेना भी एनडीए में शामिल है। इस प्रचंड बहुमत के बाद तो राम मंदिर का निर्माण होना ही चाहिए। यदि हमने अब भी राम मंदिर निर्माण में विलंब किया तो देश की जनता हमें माफ नहीं करेगी। वहीं अयोध्या में संतों की सभा हो चुकी है, जिसमें राम मंदिर निर्माण का कार्य जल्द करने की मांग की गई थी।

रफ्तार के कहर ने ली 15 लोगों की जान, 35 घायल

  • झारखंड के चौपारण में ट्रक-बस की भिड़ंत, 11 की मौत
  • इटावा में राजधानी ट्रेन की चपेट में आकर चार मरे

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। देश के दो-अलग अलग हिस्सों में दो बड़ी घटनाओं में रफ्तार के कहर ने 15 लोगों की जान ले ली और 35 से अधिक लोग घायल हो गये। इसमें पहला हादसा झारखंड के चौपारण में आज तडक़े जीटी रोड पर दनुआ घाटी के पास हुआ जिसमें ट्रक और बस की जोरदार भिड़ंत हो गई। इस हादसे में 11 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। मृतकों में कई लोग बिहार के गया, डोभी, बाराचट्टी के रहने वाले थे। वहीं दूसरी तरफ इटावा में राजधानी एक्सप्रेस की चपेट में आकर चार लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि 10 से अधिक लोग घायल हो गये। इन दोनों घटनाओं में मरने वालों की संख्या और बढ़ सकती है।
जानकारी के मुताबिक झारखंड बस हादसा साढ़े तीन बजे के करीब हुआ। ब्रेक फेल होने के कारण बस सरिया लदे ट्रक में जा भिड़ी। हादसे में जान गंवाने वाले यात्रियों की पहचान अब तक नहीं हो पाई है। मरने वालों में बस का ड्राइवर और खलासी भी शामिल हैं। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जबकि इटावा में राजधानी एक्सप्रेस की चपेट में आने से चार लोगों की मौत का मामला सुबह का है। हादसा उस वक्त हुआ जब अवध एक्सप्रेस को बलरई रेलवे स्टेशन के लूप लाइन पर रोककर कानपुर की ओर से आ रही राजधानी एक्सप्रेस को पास कराया जा रहा था।

प्रदर्शन

गर्मी बढऩे के साथ ही पानी की आपूर्ति की समस्या भी बढऩे लगी है। शहर के कई इलाकों में पानी के लिए हाहाकार मचा हुआ है। इसी बीच आज सुबह डालीगंज क्षेत्र में अनेकों परिवारों को पानी नहीं मिला तो उन्होंने पानी की समस्या को लेकर प्रदर्शन किया।

Loading...
Pin It