सीएम खफा, पुलिस के आला अफसरों को बुलाकर कहा नहीं सुधरे हालात को नपेंगे अफसर

  • सीएम के तेवर देखकर कंपकपी छूटी अफसरों की, हुए पसीने-पसीने
  • डीजीपी ने कहा सारी घटनाएं जानने वालों ने की, फास्ट ट्रैक कोर्ट में लाये जायेंगे यह मामले
  • डीजीपी बैठे सीएम के साथ, पीएस होम को बिठाया गया साइड में
  • सीएम ने कहा जो लापरवाही करेंगे वे होंगे दंडित

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बिगड़ती कानून व्यवस्था से मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ काफी खफा हैं। आज उन्होंने पुलिस के सभी आला अफसरों को तलब कर अपनी गहरी नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि जिस तरह की घटनाएं सामने आ रही हैं, वह बहुत ही चिंताजनक हैं। पुलिस अफसरों को तत्परता से काम करना चाहिए।
मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक में एक-एक घटनाओं की समीक्षा की। उन्होंने चिंता जाहिर करते हुए कहा कि पुलिस विभाग के कुछ अफसर कामों में रुचि नहीं ले रहे हैं। जो लोग काम में रुचि नहीं लेंगे उनके खिलाफ कठोरतम कार्रवाई की जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी कीमत पर कानून व्यवस्था से समझौता नहीं किया जाएगा। जो अफसर दोषी होंगे, उनके खिलाफ कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। योगी के तेवरों से आज पुलिस अफसरों में कंपकपी चढ़ी रही। समीक्षा बैठक के पहले ही अलीगढ़ के सीओ का तबादला कर दिया गया। आज पुलिस के अफसर इस बात को लेकर परेशान थे कि आखिर मुख्यमंत्री की गाज किस पर गिरेगी। आज एक बात और उल्लेखनीय नजर आई कि मुख्यमंत्री की बैठक में डीजीपी बराबर में बैठे थे। जबकि प्रमुख सचिव गृह समेत तमाम अफसरों को साइड में बिठाया गया। मतलब साफ है कि डीजीपी को और अधिकार देने के मूड में हैं सीएम योगी। यह संदेश स्पष्ट है कि कानून व्यवस्था को लेकर सीएम योगी काफी चिंतित हैं। लग रहा है कि इसकी गाज बहुत जल्दी किसी न किसी पर गिरने वाली है।

क्या बंगाल में लगेगा राष्ट्रपति शासन

  • प्रधानमंत्री मोदी व गृहमंत्री शाह से मिले पश्चिम बंगाल के राज्यपाल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पश्चिम बंगाल पर मजबूती से शिकंजा कसने की तैयारी में जुट गई है। आज बंगाल के राज्यपाल केसरीनाथ त्रिपाठी ने दिल्ली में पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। दोनों लोगों के साथ बंगाल की दिन-ब-दिन खराब होती स्थितियों की चर्चा होने की बात सामने आई है। इसके अलावा बंगाल की स्थिति में सुधार न होने पर भाजपा की तरफ से लगातार धारा 356 लागू करने की मांग की जा रही है। पश्चिम बंगाल में बिगड़ते हालात के बीच भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय ने बंगाल में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग की है। कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि अगर बंगाल में ऐसे ही हालात रहे तो केंद्र को हस्तक्षेप करना पड़ सकता है, इसलिए हम धारा 356 की मांग करते हैं। इसके अलावा भाजपा के कार्यकर्ता पश्चिम बंगाल में अलग-अलग इलाकों में प्रदर्शन कर रहे हैं। बीजेपी बंगाल में आज ब्लैक डे मना रही है। इसलिए भारी संख्या में पुलिस बल का इंतजाम किया गया है।

पद्मश्री अभिनेता गिरीश कर्नाड का निधन

  • बेंगलुरू स्थित घर में ली अंतिम सांस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मशहूर फिल्म अभिनेता गिरीश कर्नाड का लंबी बीमारी के बाद आज सुबह निधन हो गया। वह ज्ञानपीठ अवॉर्ड से सम्मानित थे। अभिनेता के अलावा गिरीश कर्नाड लेखक और निर्देशक भी थे। उनका निधन उनके बेंगलुरु स्थित घर पर हुआ। इस घटना की सूचना मिलते ही लोग आवास पर परिजनों को सांत्वना देने पहुंचने लगे।
बता दें कि गिरीश कर्नाड का जन्म 19 मई, 1938 को माथेरान, महाराष्ट्र में हुआ था। वे भारत के जाने माने लेखक, अभिनेता, फिल्म निर्देशक और नाटककार थे। कन्नड़ और अंग्रेजी भाषा दोनों के ही जानकार थे। गिरीश कर्नाड को 1998 में ज्ञानपीठ सहित पद्मश्री व पद्मभूषण जैसे कई प्रतिष्ठित पुरस्कारों से नवाजा जा चुका है। कार्नाड द्वारा रचित तुगलक, हयवदन, तलेदंड, नागमंडल व ययाति जैसे नाटक काफी लोकप्रिय हुए और भारत की अनेकों भाषाओं में इनका अनुवाद व मंचन हुआ है।

Loading...
Pin It

Comments are closed.