औद्योगिक विकास में लाभकारी साबित होंगी नई नीतियां: महाना

  • कैबिनेट मंत्री ने कहा युवाओं को मिलेंगे रोजगार के पर्याप्त अवसर
  • उद्योग बंधु की समीक्षा बैठक में समस्याओं के निराकरण पर जोर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने प्रदेश में उद्योगों के विस्तार में सरकार की नई नीतियों को लाभकारी बताया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सैकड़ों उद्योग लगाये जाने को लेकर विभिन्न कंपनियों के साथ समझौते हुए हैं। वे कंपनियां उद्योग लगाने को तत्पर दिख रही हैं। उद्योग लगाने में किसी भी प्रकार की बाधा उत्पन्न न हो इसका समाधान करने के लिए नई औद्योगिक नीति बनाई गई है। जो विकास में सहायक होगी। इससे रोजगार के अवसर पैदा होंगे और युवाओं को उसका लाभ मिलेगा।
सतीश महाना शुक्रवार को मेरठ में मण्डलीय उद्योग बन्धु की समीक्षा कर रहे थे। इस दौरान उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास यही है कि प्रदेश में उद्योगों का तेजी से विस्तार हो। इसके लिए सरकार ने अनेक ऐसी नीतियां तैयार की हैं, जिससे उद्यमियों को अधिक से अधिक छूट व अन्य सुविधाएं मिल सके। कैबिनेट मंत्री ने अधिकारियों से कहा कि वे उद्योगों एवं उद्यमियों के प्रति सकारात्मक सोच रखें और बिना किसी असुविधा के सरकारी योजनाओं का लाभ देते हुए उद्यमियों को उद्यम स्थापित करने की अनुमति प्रदान करें।
इस समीक्षा बैठक में मेरठ के नगर आयुक्त की गैरमौजूदगी को श्री महाना ने गम्भीरता से लिया और उनसे स्पष्टीकरण प्राप्त कर शासन को भिजवाने के निर्देश दिए। इस दौरान कैबिनेेट मंत्री ने बैठक में मौजूद तमाम उद्यमियों की समस्याओं का मौके पर ही निपटारा भी किया।

सिंगल विंडो सिस्टम

बता दें, प्रदेश सरकार ने लखनऊ में इंवेस्टर्स समिट आयोजित की थी, जिसमें देश और विदेश की नामचीन कंपनियों ने हिस्सा लिया था। इन कंपनियों ने उत्तर प्रदेश में उद्योग स्थापित करने की इच्छा जाहिर करते हुए तमाम समझौतों पर हस्ताक्षर किए थे। जिनको जमीन पर उतारने की कवायद शुरू हो गई है। प्रदेश सरकार उद्यमियों की सारी समस्याओं का समाधान एक ही काउंटर यानी सिंगल विंडो सिस्टम से करने की दिशा में काम कर रहा है। इसके साथ ही संबंधित जिलों के अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए गए हैं कि वे उद्यमियों की समस्याओं का जल्द से जल्द समाधान करें, ताकि उद्योगों की स्थापना की जा सके।

 

Loading...
Pin It

Comments are closed.