बढ़ेगा गोमती का जलस्तर, लोगों को मिलेगी राहत

  • 30 लाख की आबादी को नहीं होगी पेयजल समस्या
  • शारदा नहर का पानी गोमती में छोडऩे के लिए महापौर ने सिंचाई मंत्री को लिखा पत्र

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गोमती के गिरते हुए जलस्तर से लखनऊ के संभावित पेयजल संकट को दृष्टिगत रखते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया ने सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह सैनी को पत्र लिखकर पूरे विषय से अवगत करवाते हुए शारदा नहर का पानी छोडऩे के लिए अनुरोध किया।
महापौर ने सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह सैनी को लिखे पत्र के माध्यम से अवगत करवाया कि भीषण गर्मी के चलते गोमती नदी में पानी की मात्रा बहुत कम हो गयी है, जिससे गोमती नदी किनारे गऊघाट से शोधन के लिए गोमती के पानी के साथ अत्याधिक मात्रा में कीचड़ भी आ रहा है जिससे जल शोधन की प्रक्रिया में कठिनाई हो रही थी। महापौर ने मंत्री जी से गोमती में पानी छोडऩे की अपील करते हुए लिखा कि लखनऊ की 30 लाख की जनता को पेयजल आपूर्ति में बाधा उत्पन्न न हो इसलिए शारदा नहर का पानी गोमती नदी में अतिशीघ्र छोडऩे के लिए विभाग के अधिकारियों को आदेशित करें।

आलमबाग में पेयजल की किल्लत

एक सप्ताह से नहीं आ रहा पानी, सडक़ पर उतरने की तैयारी में क्षेत्रवासी
लखनऊ। (4पीएम न्यूज़ नेटवर्क) आलमबाग स्थित चंदरनगर में ट्यूबवेल खराब होने से हजारों की आबादी के आगे पेयजल की समस्या खड़ी हो गई है। घरों में 5 से 10 मिनट बड़ी मुश्किल से पानी पहुंच रहा है जिसके साथ बालू भी आ रही है। चंदरनगर, कुरियाना, एसबीआई रोड के निवासियों को दूर-दराज से पेयजल आपूर्ति करनी पड़ रही है। भीषण गर्मी में पानी की किल्लत से हजारों लोग परेशान हैं। चंदरनगर निवासी मनीष श्रीवास्तव ने बताया कि पिछले एक सप्ताह से पानी की समस्या है। घरों में बूंद-बूंद पानी पहुंच रहा है, जिसकी शिकायत जलकल के अफसरों से की जा चुकी है। अगर जल्द पेयजल की आपूर्ति शुरू नहीं हुई तो मोहल्ले के लोग सडक़ पर उतर कर प्रदर्शन करेंगे।

Loading...
Pin It

Comments are closed.