नकली पुलिस ने किया असली पुलिस की नाक में दम राजधानी में गिरोह सक्रिय, महिलाओं को बना रहे शिकार

  • 100 से ज्यादा वारदातों को दे चुके हैं अंजाम, गश्त के दावे फेल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नकली पुलिस ने राजधानी की असली पुलिस की नाक में दम कर दिया है। यह गिरोह पिछले पांच माह में सौ से अधिक वारदातों को अंजाम दे चुका है। महिलाएं इस गिरोह की साफ्ट टारगेट हैं। वहीं राजधानी में असली पुलिस नकली पुलिस वालों को नहीं पकड़ पा रही है। पुलिस के वेश में बदमाश दिनदहाड़े महिलाओं के जेवरात उतरवा ले रहे हैं और पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है। पुलिस की इस लापरवाही का खामियाजा आम लोगों को उठाना पड़ रहा है। ताबड़तोड़ हो रही वारदातों से लोगों में दहशत का माहौल है।
पिछले पांच माह में करीब 100 से अधिक महिलाओं के जेवरात लेकर बदमाश फरार हो चुके हैं। खाकी वर्दी पहने इन टप्पेबाजों के बारे में पुलिस के पास कोई ठोस जानकारी नहीं है। यही नहीं अभी तक राजधानी पुलिस ने इनके खिलाफ सख्त कदम उठाने का कोई प्लान भी नहीं बनाया है। यही कारण है कि इनके हौसले बुलंद हैं और लगभग हर दिन इस तरह की घटनाएं प्रकाश में आ रही हैं। महिलाओं को निशाना बनाने वाले टप्पेबाज गिरोह में काम कर रहे हैं। वह क्षेत्र बदल-बदलकर घटनाओं को अंजाम देते हैं। खासकर एकांत स्थान पर महिलाओं को रोकते हैं और उन्हें झांसे में लेने के लिए अपने ही साथियों से चेकिंग करने का नाटक करते हैं। इन घटनाओं से पुलिस के सुबह के समय गश्त करने के दावे फेल साबित हो रहे हैं। इस मामले में एसएसपी के सीयूजी नम्बर पर कॉल किया गया तो पीआरओ ने कॉल रिसिव करते हुए कहा कि अभी बात नहीं हो पाएगी।

शिकंजा कसने के लिए नहीं बनी रणनीति

लगातार हो रही वारदातों के बावजूद पुलिस इन नकली पुलिस के गिरोहों पर शिकंजा कसने को लेकर अभी तक कोई रणनीति नहीं बना सकी है। वह मामलों को दर्ज कर शांत बैठ जाती है और पीडि़त थानों के चक्कर लगाते रहते हैं।

वारदातें

जानकीपुरम सेक्टर एच में सविता सिंह के जेवरात लेकर भागे बदमाश
डालीगंज निवासी प्रेम कुमारी को झांसे में लेकर गहने ले लिए
तेलीबाग पुलिस चौकी के पास सुनीता कौल के जेवर उतरवा लिए
शीतल खेड़ा निवासी मैकू की पत्नी रानी से जेवर और नगदी ले गए बदमाश

5 माह में करीब 100 से अधिक महिलाओं के जेवरात लेकर बदमाश फरार हो चुके हैं।

बात करने में होते हैं माहिर

शातिर बदमाश बातचीत करने में बेहद माहिर होते हैं। वह खाकी वर्दी का रौब दिखाकर महिलाओं के जेवरात उतरवाते हैं और फिर उसे बड़ी चालाकी से बदल देते हैं। पीडि़तों की आनाकानी करने पर वह उन्हें जेल भेजने तक की धमकी भी देते हैं। यही वजह है कि महिलाएं झांसे में आकर कीमती जेवर उतार कर दे देती हैं।

 

Loading...
Pin It

Comments are closed.