दबंगों ने कांग्रेस विधायक अदिति सिंह और पंचायत सदस्यों पर किया हमला

रायबरेली में जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव से पहले बवाल

  • अदिति की गाड़ी पलटी, जख्मी, एक सदस्य के अपहरण की सूचना
  • ट्रक खड़ा कर रोका रास्ता, कई राउंड फायरिंग से दहशत
  • कई थानों की फोर्स बुलाई, पीएसी तैनात, कमिश्नर और आईजी रेंज मौके पर रवाना

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। रायबरेली के जिला पंचायत सभागार में आज जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह के खिलाफ अविश्वाास प्रस्ताव के लिए मतदान होने से पहले बवाल हो गया। दबंगों ने फिल्मी स्टाइल में बछरावां-लखनऊ मार्ग के टोल प्लाजा पर जिला पंचायत सदस्यों के वाहन पर हमला कर दिया। वाहन को टक्कर मारी और फायरिंग करते हुए जिला पंचायत सदस्यों को गाड़ी से उतार लिया। बताया जा रहा है कि दबंग अविश्वास प्रस्ताव की अगुवाई कर रहे जिला पंचायत सदस्य राकेश अवस्थी का अपहरण कर ले गए है। कांग्रेस विधायक अदिति सिंह पर भी फायरिंग की गई और उनकी गाड़ी का पीछा किया गया, जिससे उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर पलट गई। इसमें वे जख्मी हो गई हैं। बवाल को देखते हुए कमिश्नर और आईजी रेंज रायबरेली रवाना हो गए हैं। आसपास के थानों की फोर्स बुलाई गई है। मौके पर पीएसी को तैनात किया गया है।
दबंगों ने पहले से ही हमले की पूरी तैयारी कर रखी थी। उन्होंने लालगंज के पास डलमऊ मार्ग पर गेगासो पुल पर ट्रक खराब कर बीच रास्ते में खड़े कर दिए गए ताकि उधर से आने वाले जिला पंचायत सदस्यों को बीच में रोका जा सके। इससे चार-पांच किलोमीटर लंबा जाम लग गया। सुरक्षा की दृष्टि से पुलिस प्रशासन ने कमान संभालते हुए जिला पंचायत कार्यालय के आस-पास बैरिकेडिंग कर दी थी। बावजूद इसके दंबग बवाल करने में सफल रहे। गौरतलब हो कि 10 मार्च को जिला पंचायत सदस्यों ने जिला पंचायत अध्यक्ष अवधेश सिंह के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव को लेकर 31 सदस्यों ने शपथ पत्र जिलाधिकारी को सौंपे थे। प्रस्ताव को यह कहकर निरस्त कर दिया गया था कि ये निर्धारित प्रारूप में नहीं है। सदस्यों ने दोबारा शपथ पत्र सौंपे और हाईकोर्ट गए। शपथ पत्रों की जांच कराने के बाद 14 मई को मतदान की तिथि निर्धारित की गई। अवधेश सिंह के भाई एमएलसी दिनेश प्रताप सिंह को भाजपा ने कांग्रेस प्रत्याशी सोनिया गांधी के खिलाफ रायबरेली से सत्रहवीं लोकसभा 2019 के चुनावी मैदान में उतारा है।

धरने पर बैठे सपा नेता

लखनऊ। (4पीएम न्यूज़ नेटवर्क) अविश्वास प्रस्ताव के पहले ही जिला पंचायत सदस्य के अपहरण और मारपीट मामले में पुलिस प्रशासन की ढिलाई को देखते हुए समाजवादी पार्टी के नेता व पूर्व मंत्री मनोज पांडे समेत बड़ी संख्या में लोग चौक पर धरने पर बैठ गए और मामले में सख्त कदम उठाए जाने की मांग सरकार से की।

महामिलावटियों के चेहरे पर दिख रही हार की हताशा: पीएम मोदी

  • पिछड़ी जाति में पैदा हुआ लेकिन देश को अगड़ा बनाने का है लक्ष्य, सपा-बसपा समेत कांग्रेस पर साधा निशाना

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज बलिया में भाजपा विजय संकल्प रैली को संबोधित करते हुए कहा कि महामिलावट वाले, सपा हो, बसपा हो, कांग्रेस हो, सभी मोदी को गाली देने में जुटे हैं। इसका जवाब जनता जनार्दन देगी। हार की हताशा महामिलावटियों के चेहरे पर देखी जा रही है। मैं तो मां, बहन बेटियों के सम्मान में खड़ा हूं। मैं पैदा भले अति पिछड़ी जाति में हुआ लेकिन दुनिया में देश को अगड़ा बनाने का लक्ष्य है। विरोधियों ने सत्ता के नाम पर धोखा दिया है लूटा है।

मोदी सरकार की डूब रही नैया, RSS ने भी छोड़ दिया साथ: मायावती

  • बरगलाने वाला नहीं बल्कि शुद्ध पीएम चाहिए
  • बलिया में गठबंधन की संयुक्त रैली को संबोधित करने पहुंचे सपा प्रमुख अखिलेश यादव व बसपा सुप्रीमो मायावती

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बलिया में गठबंधन की संयुक्त रैली को संबोधित करने के पहले बसपा प्रमुख मायावती ने पीएम मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि मोदी सरकार की नैया डूब रही है। आरएसएस के स्वयंसेवक झोला लेकर नजर नहीं रहे हैं और भाजपा को जनविरोध का सामना करना पड़ रहा है इसलिए मोदी के पसीने छूट रहे हैं। जनता को बरगलाने वाला नहीं बल्कि शुद्ध पीएम चाहिए।

 

Loading...
Pin It