अपने देश के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री मानने को तैयार नहीं दीदी: मोदी

  • कहा, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री मानने में करती हैं गौरव की अनुभूति
  • सत्ता के नशे में दीदी ने बंगाल को बर्बाद किया लेकिन अब तबाह करने पर हैं आमादा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में अपने उम्मीदवारों के पक्ष में बांकुरा में रैली करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर करारा हमला बोला। उन्होंने कहा कि दीदी (ममता बनर्जी) पर्दे के पीछे रहकर गुंडों से राज चलवा रही हैं। इतना ही नहीं दीदी अपने देश के प्रधानमंत्री को प्रधानमंत्री मानने के लिए तैयार नहीं हैं। लेकिन, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को, प्रधानमंत्री मानने में उन्हें गौरव का अनुभव होता है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए कहा कि दीदी कितनी परेशान हैं, इसका अंदाजा उनकी भाषा से लगाया जा सकता है। वो अब मेरे लिए पत्थरों की बात करती हैं, थप्पड़ों की बात करती हैं। मुझे तो गालियों की आदत है लेकिन बौखलाहट में दीदी देश के संविधान का भी अपमान कर रही हैं। फानी तूफान को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि सत्ता के नशे में दीदी ने बंगाल को बर्बाद किया लेकिन अब तबाह करने पर तुली हैं। मैं यहां के तूफान प्रभावित लोगों को मदद करना चाहता था लेकिन ममता बनर्जी ने मेरा फोन तक नहीं उठाया। इतना ही नहीं ममता बनर्जी यहां की मिट्टी का रंग बदलना चाहती हैं। यहां की कोयला खादानों में माफिया का राज चल रहा है। ममता बनर्जी के टोलेबाज ने पश्चिम बंगाल को तबाह कर दिया है। इसलिए अहंकार ही ममता बनर्जी को ले डूबेगा। यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल में बीजेपी की रैली न हो पाए इसके लिए टीएमसी की सरकार ने पूरी शक्ति लगा दी। लेकिन, जिस पर आपका आशीर्वाद हो, उसे आपके बीच आने से कोई नहीं रोक सकता।

तूफान पीडि़तों के मुद्दे पर घेरा
पीएम मोदी ने कहा कि जब पश्चिम बंगाल में समुद्री तूफान आया, तो मैंने दीदी को दो-दो बार फोन किया, लेकिन उनका अहंकार इतना है कि उन्होंने देश के प्रधानमंत्री से बात करना उचित नहीं समझा। यहां तक की भारत सरकार यहां के अफसरों के साथ बैठक करके राज्य की मदद करना चाहती थी लेकिन दीदी ने उस मीटिंग को भी अटेंड करने से इनकार कर दिया। मोदी ने रैली में आए कार्यकर्ताओं का उत्साह बढ़ाते हुए ‘बूथ-बूथ टीएमसी साफ’ के नारे भी लगवाए। बता दें, लोकसभा चुनाव के दो चरण अभी शेष हैं। इसके बाद 23 मई को वोटों की गिनती की जाएगी।

मोदी-जेटली ने चौपट की अर्थव्यवस्था: चिदंबरम

  • कहा, 23 मई के बाद अर्थव्यवस्था पटरी पर लाने के लिए कांग्रेस तैयार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। देश में अब तक 425 लोकसभा सीटों पर चुनाव संपन्न हो चुका है। तीन दिन बाद लोकसभा चुनाव के छठें चरण का मतदान होना है। छठें और सातवें चरण में 59-59 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। इन सभी चुनावों के नतीजे 23 मई को आएंगे, मगर कांग्रेस पार्टी ने इशारों ही इशारों में कह दिया है कि 23 मई के बाद मोदी-जेटली द्वारा चौपट अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए कांग्रेस तैयार है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने कहा कि कांग्रेस पार्टी अर्थव्यवस्था को मंदी की मार से बाहर निकालेगी। जीएसटी को खत्म कर उसकी जगह कोई दूसरी प्रभावी व्यवस्था अमल में लाई जाएगी।
चिदंबरम के मुताबिक मोदी और इनके ब्लॉग मंत्री अरुण जेटली ने अर्थव्यवस्था को पूरी तरह खत्म कर दिया है। अब देश की अर्थव्यवस्था एक ऐसे दौर में पहुंच गई है, जिसे दलदल से बाहर निकालना अगली सरकार के लिए किसी बड़ी चुनौती से कम नहीं होगा। कांग्रेस पार्टी यह प्रयास करेगी कि जल्द से जल्द अर्थव्यवस्था पटरी पर आ जाए। यह भी कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी पहले ऐसे पीएम हैं, जिन्हें नौकरी खत्म करने वाले पीएम के तौर पर जाना जाएगा। वहीं 23 मई को जब चुनाव के नतीजे आएंगे तो आप देखेंगे कि लोगों ने राष्ट्रीय सुरक्षा पर नहीं बल्कि रोजगार, शिक्षा, भ्रष्टाचार, किसानों की समस्याएं और चौपट अर्थव्यवस्था जैसे मुद्दों पर अपना वोट दिया है। बता दें, कांग्रेस पार्टी ने मतदान के पांच चरण खत्म होने के बाद मोदी को घेरने के लिए अंतिम हथियार के तौर पर चौपट अर्थव्यवस्था का मुद्दा वोटरों के बीच उठाने का फैसला किया है। पार्टी वोटरों को बताएगी कि मोदी सरकार के दौरान अर्थव्यवस्था गर्त में चली गई है। नौकरी, कृषि आय, निवेश और बैंकिंग सेक्टर तबाह हो चुका है। जीएसटी और नोटबंदी से रोजगार खत्म हो गया। रुपया गिरता जा रहा है और निर्यात टूट रहा है। अब मतदान के छठें और सातवें चरण से पहले कांग्रेस पार्टी वोटरों तक इन मुद्दों को पहुंचाएगी।

‘मैम आएगा तो मोदी ही’

  • स्वरा भाष्कर के साथ सेल्फी लेकर युवक बोला
  • सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भाष्कर के साथ एयरपोर्ट पर युवक द्वारा सेल्फी बनाने का वीडियो इंटरनेट पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में एक युवक सेल्फी लेने के बहाने स्वरा भाष्कर के पास आता है और वीडियो बनाते हुए कहता है कि मैम आएगा तो मोदी ही। वीडियो को एक ट्विटर पेज पर पोस्ट किया गया है। जिसको लोग खूब पसंद कर रहे हैं, वहीं कमेंट भी काफी आ रहे हैं। फिलहाल ट्विटर पर स्वरा का वीडियो ट्रेंड कर रहा है। अभिनेत्री स्वरा भाष्कर ने इस चुनाव में बेगुसराय से सीपीआई उम्मीदवार कन्हैया कुमार, आम आदमी पार्टी की उम्मीदवार आतिशी आदि को रोड शो और रैलियों के जरिए समर्थन दिया है। ट्विटर पर इस वीडियो के वायरल होने के बाद स्वरा भास्कर ने भी जवाब दिया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि एक युवक ने एयरपोर्ट पर सेल्फी खिंचवाने को कहा था। मैं लोगों की राजनैतिक विचारधारा के आधार पर भेदभाव नहीं करती हूं। उसने चुपके से वीडियो बना लिया।

सुप्रीम कोर्ट में तेजबहादुर की याचिका खारिज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश की वाराणसी लोकसभा सीट से नामांकन रद्द होने के बाद सुप्रीम कोर्ट का रुख करने वाले पूर्व बीएसएफ जवान तेज बहादुर यादव की याचिका अदालत ने खारिज कर दी है। तेज बहादुर ने चुनाव आयोग के वाराणसी सीट से नामांकन खारिज करने के फैसले को चुनौती दी थी। इस मामले में आज सीजेआई रंजन गोगोई ने याचिका खारिज करते हुए कहा कि याचिका सुनने योग्य ही नहीं है। बता दें, पिछली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने चुनाव आयोग को तेज बहादुर यादव की तरफ से उठाई गई आपत्तियों को सुनने को कहा था। इसी कड़ी में बुधवार को निर्वाचन आयोग से ब्यौरा मांगा गया था। जो निर्वाचन आयोग ने कोर्ट में प्रस्तुत कर दिया। इसके बाद सीजेआई ने तेज बहादुर की याचिका को लेकर स्पष्ट कहा कि इस मामले में सुनने योग्य कुछ भी नहीं है। इसलिए याचिका खारिज की जाती है। बता दें, डीएम वाराणसी ने सुसंगत दस्तावेज न मिलने की वजह से तेज बहादुर का नामांकन रद्द किया था।

देवरिया में सुनाई दे रही सांसद के जूतों की गूंज

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लोकसभा चुनाव अपने अंतिम पड़ाव तक पहुंचने को है। यूपी की राजनीति में पूर्वांचल की कई महत्वपूर्ण सीटों पर 12 और 19 मई को मतदान होना है। इसी बीच देवरिया में लगी एक होर्डिंग सुर्खियों में बनी हुई है। जिसमें सांसद के जूता कांड की घटना को लेकर सवाल उठाये जा रहे हैं। वहीं बेटे शरद त्रिपाठी के साथ पिता रमापति राम त्रिपाठी को भी निशाना बनाया जा रहा है। फिलहाल इस विवादित होर्डिंग को देवरिया प्रशासन ने उतरवा दिया है। देवरिया बचाओं मंच के बैनर तले लगी इस होर्डिंग में लिखा है ‘क्षत्रियों को जूता मारने वाला बेटा और व्यापारियों व महिलाओं को गाली देने वाला बाप’ खलीलाबाद से भगाने के बाद देवभूमि देवरिया में वोटरों को चारा डालने आया है। अब फैसला आपका है, देवरिया भी आपका है। दरअसल गोरखपुर और आसपास के इलाके में ठाकुर और ब्राह्मण वर्चस्व की लड़ाई पुरानी है। अब जूता कांड के बाद दोनों खेमे एक-दूसरे के सामने आ गए हैं।

Loading...
Pin It