कथक के रंगों से गुलजार हुई अवध की शाम

  • संगीत नाटक अकादमी में कथक कलाकारों ने दी शानदार प्रस्तुति
  • होली के अलग-अलग भावों और रंगों का भावपूर्ण वर्णन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी व कथक केंद्र की ओर से शुक्रवार को संत गाडगे सभागार में कथक का आयोजन किया गया। कथक के कलाकारों ने अपनी शानदार प्रस्तुति के माध्यम से अवध की शाम को गुलजार कर दिया। कथक आचार्य पंडित बिरजू महाराज की शिष्या काजल शर्मा ने मनोहारी नृत्य से समा बांध दिया। काजल का साथ उनकी छात्राओं ने दिया, जिन्हे वह पिछले तीन दिनों से कथक सिखा रही थीं।
इस कार्यक्रम की शुरुआत सरस्वती वंदना से हुई। इसके बाद उन्होंने परम्परागत कथक नृत्य में थाट उठान परन आमद भाव रंग प्रस्तुत किए। रंग डारूंगी नन्द के लालन पे…गीत पर शानदार नृत्य प्रस्तुत किया, जिसने दर्शकों को होली की अनुभति करा दी। कथक कार्यशाला में प्रशिक्षित हुई छात्राओं में, अंकिता, वन्या, हर्षिता, अदिति, रूबल, इशिका, अन्तरा, अनन्या, परी, गौरी, मिशिका आदि ने यहां नमन तथा रास शीर्षक से नृत्य प्रस्तुतियां दीं। कलाकारों के साथ तबले पर अरुण, हारमोनियम व गायन पर पं. धर्मनाथ मिश्रा, सारंगी पर पं. विनोद मिश्रा, पखावज पर दिनेश प्रसाद और मंजरी पर डॉक्टर अलका यादव ने संगत दी। इस कार्यक्रम का संचालन राजेंद्र विश्वकर्मा ने किया।

Loading...
Pin It