थाने में ही रह रहा था आरोपी दारोगा इनाम घोषित करने पर हुआ गिरफ्तार

  • बेगुनाहों को भेजा दिया था जेल, अलीगंज थाना परिसर के आवासीय कॉलोनी में रहता था धीरेंद्र

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बेगुनाहों को जेल भेजने के मामले में फरार आरोपी दारोगा धीरेंद्र शुक्ला को पुलिस ने देर रात अलीगंज थाना परिसर में बने आवासीय कॉलोनी से गिरफ्तार कर लिया जबकि वह वहां अपने परिवार के साथ एक साल से रह रहा था लेकिन इस मामले में पुलिस तब सक्रिय हुई जब इसके ऊपर इनाम घोषित किया गया। अभी इस मामले में आरोपी सिपाही धीरेंद्र यादव और अनिल सिंह फरार चल रहे हैं।
सआदतगंज थाना क्षेत्र के तेल व्यवसायी श्रवण साहू के बेटे की हत्या हो गई थी। इस मामले में श्रवण पैरवी कर रहे थे। जहां श्रवण को फर्जी मुकदमें में फंसाने के लिए धीरेंद्र शुक्ला ने चार बेगुनाह युवकों को शूटर बताकर जेल भेज दिया था। इस मामले का पर्दाफाश होते ही हिस्ट्रीशीटर अकील अंसारी ने जेल से शूटर भेजकर श्रवण साहू की फरवरी 2017 में हत्या करा दी थी। अहम सवाल यह है कि जब दारोगा धीरेंद्र शुक्ला को बर्खास्त कर दिया गया था तो वह सरकारी आवास में कैसे रह रहा था।

Loading...
Pin It