पर्यावरण रक्षा के लिए अपनाया अनोखा तरीका

लाहौल। हमारी पृथ्वी को हरा-भरा रखने और प्रदूषण से मुक्ति दिलाने के लिए पेड़ पौधे अहम भूमिका निभाते हैं। ऐसे में अगर पेड़ों को तेजी से काटा जाए तो हरियाली ही खत्म नहीं होगी। बल्कि प्रदूषण भी बढ़ जाएगा। पर्यावरण की रक्षा और पेड़-पौधों के काटने से बचाने के लिए तमाम मुहिम चलाई जाती है। लेकिन हिमाचल प्रदेश की रहने वाली एक लडक़ी ने तो पेड़ों को बचाने के लिए कुछ अनोखा ही तरीका अपनाया। इस लडक़ी ने पेड़-पौधों को भाई मानना शुरु कर दिया। यही नहीं ये लडक़ी हर साल राखी के मौके पर पेड़-पौधों को अपने भाई के समान राखी बांधती है।
दरअसल, हिमाचल के लाहौल की नन्ही पर्यावरणविद कल्पना ठाकुर ने बचपन से ही पेड़ों को अपना भाई बना लिया है। कल्पना हर साल रक्षाबंधन पर न सिर्फ पेड़ों को राखी बांधती हैं, बल्कि उनकी देखभाल भी करती हैं। 14 साल की कल्पना लाहौल-स्पीति के मूलिंग में रहती हैं। उनके द्वारा रोपे गए पौधे अब वृक्ष का आकार लेने लगे हैं।

Loading...
Pin It