अब होमगार्ड जवानों की ड्यूटी लगाने में नहीं चलेगी मनमानी, लापरवाही मिली तो नपेंगे जिम्मेदार

  • करीब सौ होमगार्ड के जवान सीओ, इंस्पेक्टर व दारोगा का कर रहे निजी कार्य
  • जांच में हुए खुलासे के बाद एसएसपी ने जनहित में ड्यूटी लगाने के दिए निर्देश
  • अपने बंगले में तैनात होमगार्ड के जवान को देख दंग रह गए कप्तान, हटाया

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अब होमगार्ड जवानों की तैनाती में मनमानी नहीं चलेगी। एसएसपी कलानिधि नैथानी ने होमगार्ड जवानों की ड्यूटी ऐसे स्थान पर लगाने को कहा है जहां से जनता को लाभ मिले। इसके साथ ही उन्होंने निर्देश दिया है कि यदि किसी होमगार्ड की ड्यूटी किसी अधिकारी के व्यक्तिगत कार्य में लगी हुई मिली तो दोनों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। एसएसपी के इस निर्देश से विभाग में खलबली मच गई है।
राजधानी में लगभग 1100 होमगार्डों की संख्या है। इसमें प्रतिदिन लगभग 260 से 300 तक ही होमगार्ड के जवान ड्यूटी करते है। इस मामले में एसएसपी कलानिधि नैथानी ने जब स्वयं जांच किया तो हैरान रह गए। जांच में पता चला कि लगभग 100 होमगार्ड जवान दारोगा, इंस्पेक्टर व सीओ के घरों पर तैनात हैं। ये होमगार्ड के जवान विभाग का नहीं बल्कि उनके व्यक्तिगत कार्य कर रहे हैं जबकि पैसा विभाग दे रहा है। दिलचस्प यह कि ऐसा ही एक होमगार्ड का जवान उनके आवास पर भी लगाया गया था जबकि यहां उसका कोई काम नहीं है। वह सिर्फ आता और चला जाता है। ड्यूटी में ऐसी लापरवाही देख एसएसपी दंग रह गए। लिहाजा उन्होंने नया फरमान जारी कर दिया है। सबसे पहले एसएसपी ने अपने आवास पर लगे होमगार्ड को हटाया और सीओ यातायात को निर्देश दिया कि होमगार्ड के जवानों की ड्यूटी ऐसे स्थान पर लगाई जाय जहां से जनता को सीधे तौर पर लाभ मिले। सडक़ पर वर्दी दिखेगी तो बदमाशों के अंदर भी भय व्याप्त होगा। किसी के घर का व्यक्तिगत कार्य करने के लिए होमगार्ड के जवान नहीं होते है। उनसे विभागीय कार्य लिए जाए।

यहां लग सकती है ड्यूटी

एसएसपी ने कहा कि होमगार्डों की ड्यूटी जहां जाम लग रहा है वहां लगाई जा सकती है। इसके साथ ही मेट्रो का कार्य चल रहा है जिससे जाम की स्थिति उत्पन्न हो रही है। वहां भी उन्हें लगाया जा सकता है। इसके साथ ही कई ऐसे अन्य कार्य है जहां इनकी ड्यूटी लगाने पर जनता को सीधे तौर पर लाभ मिलेगा।

उचित तरीके से लगाई जाएगी ड्यूटी
होमगार्ड के जवानों की तैनाती पर अब नजर भी रखी जाएगी। शिकायतें मिली हंै कि कई जवानों को ड्यूटी नहीं मिल पाती है जबकि कुछ लगातार ड्यूटी करते रहते हैं। इस व्यवस्था पर नजर रखी जाएगी और ध्यान रखा जाएगा कि हर जवान की उचित अनुपात में ड्यूटी लगाई जाए।

व्यवस्था में होगा सुधार: एसएसपी
एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि लगभग 1100 होमगार्ड है। इसमें प्रतिदिन लगभग 300 लोगों की ड्यूटी लगती है। इसमें तमाम होमगार्ड के जवान किसी अधिकारी का व्यक्तिगत कार्य कर रहे हैं। खुद मेरे आवास भी एक लगाया गया था। मैने उसे हटाया। इन होमगार्डों की ड्यूटी को एक तय समय पर बदला जाएगा।

 

Pin It