केटी तकनीकी से ऑर्थोपेडिक समस्याओं का समाधान आसान: डॉ. रोहित

  • मलेशिया में आयोजित केटी ट्रेनिंग कोर्स में लिया हिस्सा
  • यूएसए द्वारा आयोजित कोर्स करने वाले देश के पहले सीकेटीपी बने

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। काईनेसीयो टेपिंग एसोसिएशन इंटरनेशनल यूएसए की तरफसे कुआलालम्पुर (मलेशिया) में आयोजित केटी 3/4 ( टेपिंग सेमिनार) कोर्स की ट्रेनिंग में रेडीयस ज्वाइनंट सर्जरी हॉस्पिटल के फिजियोथेरेपिस्ट डा. रोहित श्रीवास्तव ने हिस्सा लिया। कोर्स के पहले चरण केटी (1/2) में भी उन्होंने हिस्सा लिया था। यूएसए द्वारा आयोजित इस कोर्स को करने वाले वह भारत के पहले सर्टिफाइड काईनेसीयो टेपिंग प्रैक्टिशनर (सीकेटीपी)बन गये हैं।
डा. रोहित ने बताया इस तकनीक द्वारा विभिन्न प्रकार की ऑर्थोपेडिक समस्याओं जैसे लिगामेंट, टेंडॉन, मांसपेशियों की कमजोरी इत्यादि से कम समय में छुटकारा पाया जा सकता है। उन्होंने यह भी बताया की यह तकनीक ओलिम्पिक गेम्ज में खिलाडय़िों के लिए भी बहुत उपयोगी साबित हुई है तथा इस तकनीक से ऐथलीट्स कम से कम समय में अपने खेल में वापसी कर सकते हंै। उन्होंने बताया कि कोर्स में कीनेसीयो यूनिवर्सिटी के इन्स्ट्रक्टर मथाइयस पहर ने अत्याधुनिक तकनीक जैसे ईडीएफ, एमडीटी और एस्कार करेक्शन तकनीकी की जानकारी दी।

Pin It