देश में पूंजी निवेश का हब बन रहा यूपी: अनूप चंद्र

  • मुख्य सचिव ने दिल्ली में अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले में यूपी पैवेलियन का किया उद्घाटन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला-2018 में यूपी पैवेलियन का बुधवार को नई दिल्ली में मुख्य सचिव अनूप चंद्र पांडेय ने दीप प्रज्ज्वलित करके उद्घाटन किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि यूपी पूंजी निवेश के लिए एक हब के रूप में विकसित हो रहा है। प्रदेश सरकार द्वारा बनाई जा रही सुलभ एवं सरल नीतियों तथा विकसित इन्फ्रास्ट्रक्चर के चलते प्रदेश को बड़े पैमाने पर पूंजी निवेश प्राप्त हो रहा है। जो हम सब के लिए खुशी और गर्व की बात है। उद्घाटन के मौके पर अधिशासी निदेशक आईटीपीओ दीपक कुमार, आयुक्त एवं निदेशक उद्योग एवं उद्यम प्रोत्साहन के. रविन्द्र नायक और नोएडा व ग्रेटर नोएडा के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे।
मुख्य सचिव ने अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेले के जरिए सभी देशी-विदेशी श्रद्धालुओं को कुम्भ-2019 के लिए आमंत्रित किया है। उन्होंने कहा कि अध्यात्म एवं सांस्कृतिक विरासत को संजोए हुए इस बार के कुम्भ में श्रद्धालुओं के लिए विशेष तैयारियां की गई हैं। इस बार जनवरी, 2019 से शुरू होने वाले कुम्भ में 10 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं द्वारा भाग लेना सम्भावित है। केन्द्र सरकार के सहयोग से भी प्रदेश सरकार बड़े व्यापक स्तर पर तैयारियां एवं व्यवस्थाएं कर रही है। इस बार भारतीय प्रवासी दिवस जनवरी में वाराणसी में हो रहा है, जिसमें सभी आगन्तुकों को कुम्भ में भ्रमण भी कराया जाएगा।

उद्योगों की थीम पर आधारित होगा व्यापार मेला

मुख्य सचिव ने बताया कि 38वां भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला-2018 ‘भारत में ग्रामीण उद्योग’ की थीम पर आधारित है। प्रदेश में प्रत्येक जनपद के उत्पाद को विश्व पटल पर पहचान दिलाने के उद्देश्य से यूपी सरकार ने ‘एक जनपद-एक उत्पाद योजना’ शुरू की है। छोटे-मझोले एवं परम्परागत उद्योग को पैवेलियन में स्थान दिया गया है। अगस्त 2018 में ओडीओपी समिट आयोजित कर प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, स्टैण्डअप योजना एवं प्रदेश सरकार की मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना के तहत 1006 करोड़ का लाभ लाभार्थियों को दिया गया है। साथ ही वर्ष 2018-19 के लिए 250 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान इस काम के लिए किया गया है।

पैवेेलियन में तरह-तरह के स्टॉल

यूपी पैवेलियन में नोयडा अथॉरिटी, वाराणसी से बनारसी फाइन आर्ट, आगरा से दिव्यानी फूड इण्डस्ट्रीज, लखनऊ से लखनवी चिकनकारी आर्ट तथा निर्मला चिकन हैंण्डीक्राफ्ट, कानपुर से माधव फूड इण्डस्ट्रीज, कन्नौज से फारगेट इण्डिया, उन्नाव से सेवा लखनवी चिकन आर्ट, गाजियाबाद से मानसी आयुर्वेदिक फार्मेसी तथा हाईटेक इलैक्ट्रोप्लास्ट, आजमगढ़ से वीवर्स हैण्डलूम विकास केन्द्र, नोएडा से ट्राइश्योरा इण्डिया एवं कृति आर्ट, कन्नौज से पूरनमल श्री कृष्णलाल, भदोही से शबाना बानो, आजमगढ़ से नवयुग करघा उद्योग, गाजियाबाद से यूनिवर्सल ग्रुप आफ इण्डिया लिमटेड, कानपुर से गोविंद फ्लेवर्स, नोएडा से सूर्या वाटर व उत्तर प्रदेश पयर्टन आदि इकाइयों ने स्टाल लगाया है।

Pin It