देशभर में दीपोत्सव की धूम, पीएम मोदी ने जवानों संग मनायी दीपावली

  • केदारनाथ मंदिर में की पूजा-अर्चना, विकास कार्यों का लिया जायजा
  • राष्टï्रपति, उपराष्टï्रपति, राज्यपाल और मुख्यमंत्री ने दी शुभकामनाएं

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। देशभर में दीपोत्सव धूमधाम से मनाया जा रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी उत्तराखंड में भारत-चीन सीमा के नजदीक स्थित हर्षिल पहुंचे। यहां उन्होंने 11 हजार फुट की ऊंचाई पर स्थित सेना के बेस पर जवानों के साथ दीपावली मनाई। इस दौरान पीएम ने जवानों को मिठाई खिलाई। राष्टï्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्टï्रपति वेंकैया नायडू, राज्यपाल राम नाईक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव समेत विभिन्न दलों के प्रमुखों ने देशवासियों को दीपावली की शुभकामनाएं दीं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज सुबह देहरादून पहुंचे। वे उत्तराखंड में भारत-चीन सीमा के नजदीक स्थित हर्षिल पहुंचे और यहां मौजूद सेना बेस पर सेना प्रमुख और आईटीबीपी के डीजी से मुलाकात करने के बाद जवानों के साथ दीपावली मनाई। महार रेजिमेंट के जवानों के साथ प्रधानमंत्री ने दीपावली के मौके पर पहले उनको मिठाई खिलाई और उसके बाद उनके साथ फोटो खिंचाई। इसके पहले उन्होंने ट्वीट कर लोगों को दीपावली की बधाई दी। पीएम ने ट्वीट में लिखा, दीपावली की सभी देशवासियों को हार्दिक बधाई। मेरी कामना है कि प्रकाश का यह पावन पर्व सबके जीवन में सुख, शांति एवं समृद्धि लेकर लाए। हर्षिल से पीएम सीधे केदारनाथ घाटी पहुंचे। यहां उन्होंने बाबा केदारनाथ के दर्शन किए और केदारनाथ धाम के पुनर्निर्माण कार्यों का जायजा लिया। यहां उन्होंने कई प्रोजेक्ट्स का लोकार्पण भी किया। गौरतलब है कि केदारनाथ में 2013 में विनाशकारी बाढ़ आई थी। लिहाजा इसका पुनर्निर्माण किया जा रहा है। वहीं सीएम योगी गोरखपुर में वनटांगिया समुदाय के लोगों के साथ दीपावली मनाने पहुंचे। वहीं वरिष्ठï आईएएस नवनीत सहगल ने राज्यपाल राम नाईक से मुलाकात कर दीपावली की बधाई दी।

राजधानी में हर्षोल्लास से मनायी जा रही दीपावली

राजधानी लखनऊ में भी दीपावली हर्षोल्लास से मनाई जा रही है। सुबह से ही लोग एक-दूसरे को शुभकामनाएं दे रहे हैं। लोगों ने मंदिरों में जाकर पूजा-अर्चना की। प्रकाश पर्व पर मंदिरों को भव्य तरीके से सजाया गया है। इस मौके पर विशेष आरती का आयोजन भी किया गया है।

अयोध्या में राम मंदिर था, है और रहेगा: योगी

  • भगवान राम की भव्य मूर्ति स्थापित करने के लिए जमीन का किया निरीक्षण
  • सीएम ने रामलला और हनुमानगढ़ी का किया दर्शन, संतों के साथ की बैठक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में राम की भव्य मूर्ति स्थापित करने की घोषणा की। उन्होंने यह फैसला फैजाबाद का नाम बदलकर अयोध्या करने के दूसरे दिन लिया। मुख्यमंत्री ने रामलला और हनुमानगढ़ी का दर्शन करने के बाद कहा कि उन्होंने दो जगहों को राम की मूर्ति स्थापित करने के लिए चुना है। उन्होंने कहा कि अयोध्या में मंदिर था, है और रहेगा। हम वे सारी व्यवस्थाएं करेंगे जिससे आस्था का सम्मान हो और अयोध्या की पहचान बन सके।
मुख्यमंत्री ने कहा कि मूर्ति निर्माण करने पर वह विचार कर रहे हैं। हम इस पर आगे चर्चा करेंगे। इस संबंध में कई सुझाव मिले हैं। उन्होंने कहा कि पूजनीय मूर्ति मंदिर में होगी, लेकिन एक दर्शनीय मूर्ति बनेगी जो यहां की पहचान बन सके। सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या के बारे में सकारात्मक सोच के साथ यहां की आध्यात्मिक गतिविधियों को सामने रख सकें, यही मंशा है। उन्होंने कहा कि बिजली के तारों को अंडरग्राउंड करने के लिए कार्य चल रहा है। स्वच्छता के लिए विशेष अग्रह किया गया है। सुविधाओं के लिए प्रयास किए जा रहे हैं। विकास के सर्वे का काम अंतिम चरण में चल रहा है। योगी ने कहा कि विधवा और अनाथ बच्चों को लिए एक आश्रम बनाने की योजना है। ये आश्रम माता कौशल्या के नाम पर होगा। अयोध्या परम आदर और श्रद्धा का प्रमुख केंद्र है। इस दौरान सीएम ने संतों के साथ बैठक भी की।

विकास पर फोकस

योगी ने कहा कि अयोध्या में विकास की हम हरसंभव कोशिश में लगे हैं। इन योजनाओं को व्यावहारिक धरातल पर उतारने के लिए हमने स्वयं निरीक्षण किया है। हमारा विश्वास है कि आने वाले कुछ सालों में यह दुनिया की एक बेहतरीन नगरी के रूप में स्थापित होगी। इसके जरिए आस-पास के इलाकों में विकास होगा। सरयू नदी के पवित्र जल को अविरल बनाने की दिशा में भी कदम उठा रहे हैं।

Pin It