देश भर में मनाई जा रही छोटी दीपावली

  • गणेश-लक्ष्मी की मूर्तियों, झालरों व पटाखों से सजे बाजार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। देश भर में रोशनी के त्यौहार दीवापली की धूम है। आज छोटी दीपावली है, जिसे दीपावली से एक दिन पहले मनाया जाता है। इसे नरक चतुर्दशी या नरक चौदस के नाम से भी जाना जाता है। छोटी दीपावली के दिन भी पूजा-पाठ और दीप जलाए जाते हैं और मृत्यु के देवता यमराज की पूजा की जाती है। इस दिन यमराज की पूजा कर गलतियों से बचने के लिए उनसे माफी मांगी जाती है। दीपावली से दो दिन पहले यानी धनतेरस से ही बाजारों में खासी रौनक देखने को मिल रही है। खासकर मां लक्ष्मी और गणेश की मूर्तियां, गहनों की खरीदारी, घर की सजावट के लिए झालरों, मोमबत्तियों फूलों, मिठाइयों व अन्य सामानों की खरीदारी के लिए लोगों की भारी भीड़ बाजारों में उमड़ रही है।

चीन के बॉर्डर पर जवानों के साथ दीपावली मनाएंगे मोदी

  • सेना की तैयारियों और बॉर्डर पर इंफ्रास्ट्रक्चर का लेंगे जायजा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस बार भी सेना के जवानों के साथ ही दीपावली का त्यौहार मनाएंगे। मोदी इस बार उत्तराखंड के हर्षिल बॉर्डर पर जवानों के साथ रहेंगे। उनके साथ सेना प्रमुख बिपिन रावत और सेना के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।
पीएम मोदी इस दौरे पर वहां पर सेना की तैयारियों और बॉर्डर पर इंफ्रास्ट्रक्चर के चल रहे कामों का जायजा लेंगे। साथ ही जवानों के साथ बातचीत करेंगे और दीपावली की शुभकामनाएं देंगे। हर्षिल बॉर्डर भारत-चीन सीमा से करीब 45 किमी. की दूरी पर है। इसके पास गंगोत्री नेशनल पार्क है। इस जगह का नजारा भी मशहूर लाहौल-स्पीति की तरह ही है। बॉर्डर पर जाने के अलावा पीएम नरेंद्र मोदी केदारनाथ मंदिर में दर्शन भी करेंगे। यहां पीएम केदारनाथ में चल रहे जीर्णोद्धार के कार्यक्रमों का जायजा भी लेंगे। गौरतलब है कि नरेंद्र मोदी ने जब से प्रधानमंत्री का पद संभाला है, तभी से वह इस प्रकार के बड़े त्यौहारों को सेना के जवानों के साथ ही मनाते आए हैं। खासकर अगर दीपावली की बात करें तो 2014 से अभी तक उन्होंने इस त्योहार को जवानों के साथ ही मनाया है। इससे पूर्व पीएम ने 2014 में सियाचीन में जवानों के साथ दीपावली मनाई थी। 2015 में अमृतसर के युद्ध स्मारक में, 2016 में चीन सीमा पर और 2017 में एलओसी पर पीएम मोदी ने दीपावली मनाई थी।

कल से पांच दिन बंद रहेंगे बैंक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। दीपावली व अन्य त्यौहारों के मद्देनजर सभी बैंक पांच दिन तक बंद रहेंगे। इस दौरान आम जनता को कैश की किल्लत का सामना करना पड़ सकता है। त्यौहारों के मौके पर खरीद फरोख्त के चलते एटीएम भी दगा दे सकते हैं। ऐसे में हमें पहले से तैयार रहना होगा। दीपावली, परेवा और भाई दूज पर बैंक बंद रहेंगे। इसके बाद अगले दो दिन शनिवार और रविवार की छुट्टी रहेगी। अब ऐसे में नकदी की कमी कभी भी खल सकती है। हालांकि बैंकों ने दावा किया है कि किसी भी तरह की क्राइसिस नहीं होने दी जाएगी।

भगवान राम के स्वागत में दुल्हन की तरह सजी अयोध्या

  • नगर में निकली झांकियों का लोगों ने किया स्वागत 3.20 लाख दीयों से जगमगाएगी रामनगरी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। त्रेता युग में लंका विजय के बाद प्रभु श्रीराम के अयोध्या आगमन पर जिस तरह उनका भव्य स्वागत किया गया था, कुछ वैसा ही नजारा आज अयोध्या में दिखेगा। भगवान श्रीराम, माता सीता और लक्ष्मण स्वरूपों के स्वागत के लिए राम की नगरी अयोध्या सज-धजकर पूरी तरह से तैयार है। इस दीपोत्सव का शुभारंभ राम की लीलाओं पर आधारित झांकियों को निकाल कर किया जा रहा है। अयोध्या की गलियों से झांकियां निकाली जा रही हंै।
आज शाम जिस तरह प्रभु श्रीराम रावण वध के बाद पुष्पक विमान से अयोध्या पहुंचे थे, ठीक वैसे ही हेलीकॉप्टर से राम, सीता और लक्ष्मण के स्वरूप अयोध्या पहुंचेंगे। उनकी अगवानी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और दक्षिण कोरिया की प्रथम महिला किम जोंग सुक करेंगी। साथ ही विदेशी कलाकारों द्वारा रंगारंग प्रस्तुति, आतिशबाजी के बीच रिकॉर्ड 3.20 लाख दीये को एक साथ प्रज्ज्वलित किया जाएगा। साकेत महाविद्यालय से झांकियां निकाली गई हैं। 15 झांकियों में चार विदेशी झांकियां आकर्षण का केंद्र हैं। लाओस टिनिटस, कोरिया सहित 15 झांकियां नगर भ्रमण कर रही हैं। नगर में जगह-जगह झांकियों का स्वागत किया गया है। इस मौके पर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक, बिहार के राज्यपाल लालजी टंडन, विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह समेत कैबिनेट के कई मंत्री मौजूद रहेंगे।

मेनका गांधी ने की मंत्री सुधीर मुनगंटीवार को हटाने की मांग

  • बाघिन की मौत के मामले में महाराष्ट्र के सीएम को लिखी चिट्ठी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को चिट्ठी लिखकर कर बाघिन अवनि की मौत पर कार्रवाई की मांग की है। उन्होंने लिखा है कि अवनि की मौत की जिम्मेदारी तय करते हुए मंत्री सुधीर मुनगंटीवार को वन और पर्यावरण मंत्रालय से हटाया जाना चाहिए।
मेनका गांधी का कहना है कि पर्यावरण मंत्री सुधीर मुनगंटीवार संवेदनशील होते तो बाघिन अवनि को बचाया जा सकता था। उन्होंने चिट्ठी में लिखा है, ‘मैं लगातार 2 महीने से इस मुद्दे पर उनसे बात कर रही थी। अगर कोई वन और पर्यावरण मंत्री जानवरों को बचाने की बजाय उनको मारेगा, तो मतलब साफ है कि वह अपनी जिम्मेदारी पूरी करने में असफल है। यह उसी तरह से है, जैसे एक महिला और बाल विकास मंत्री चाइल्ड ट्रैफिकिंग के लिए काम करे।’

 

Pin It