खत्म हो प्रदेश में चल रही पुरानी कुप्रथा: बृजलाल

  • ललितपुर के डीएम और एसएसपी से मांगी रिपोर्ट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। 21वीं सदी में बरसों पुरानी कुप्रथा की कहानी सामने आई है। ललितपुर के एक गांव में सवर्ण वर्ग के लोगों के घर के सामने से गुजरने के दौरान एससी-एसटी बिरादरी के व्यक्तियों को जूते-चप्पल उतारने पड़ते हैं। इस मामले को गंभीरता से लेकर एससी-एसटी आयोग ने ललितपुर के डीएम-एसएसपी को तत्काल ऐसी कुप्रथा को समाप्त कराने व पूरे प्रकरण की विस्तृत रिपोर्ट सौंपने का आदेश दिया है।
एससी-एसटी आयोग के अध्यक्ष बृजलाल ने बताया कि आयोग के संज्ञान में आया है कि ललितपुर के ग्राम सेमराडांग में अनुसूचित जाति-अनुसूचित जनजाति की महिलाएं व पुरुष जब किसी सवर्ण व्यक्ति अथवा उसके घर के सामने से गुजरते हैं, तो अपने जूते-चप्पल उतार देते हैं।

Pin It