एनडी तिवारी का पार्थिव शरीर पहुंचा लखनऊ

  • सीएम योगी व अखिलेश ने दी श्रद्घांजलि, विधान भवन में पूर्व मुख्यमंत्री का अंतिम दर्शन करने उमड़ी भीड़
  • दोपहर बाद उत्तराखंड भेजा जाएगा शव हरिद्वार में कल की जाएगी अंत्येष्टि

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश और उत्तराखण्ड के पूर्व मुख्यमंत्री तथा पूर्व केन्द्रीय मंत्री नारायण दत्त तिवारी का पार्थिव शरीर आज नयी दिल्ली स्थित उनके आवास से लखनऊ लाया गया। प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा पार्थिव शरीर लाने के लिए दिल्ली गये थे। वह एनडी तिवारी के परिजनों के साथ शव लेकर लखनऊ लौटे। अमौसी एयरपोर्ट पर सीएम योगी आदित्यनाथ, सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, ब्रजेश पाठक, सुरेश खन्ना, रीता जोशी, सूर्य प्रताप शाही, स्वाति सिंह, मोहसिन रजा, महेंद्र सिंह, कांग्रेस नेता प्रमोद तिवारी, संजय सिंह, सपा के राजेंद्र चौधरी समेत कई मंत्री व नेता उपस्थित रहे। यहां से उनका शव विधान भवन ले जाया गया। जहां लोगों के दर्शनार्थ शव को रखा गया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव समेत कई मंत्रियों और नेताओं ने नारायण दत्त तिवारी को श्रद्घांजलि अर्पित की। श्री तिवारी का शव दोपहर एक बजे एयर एम्बुलेंस से नयी दिल्ली स्थित उनके आवास से लखनऊ लाया गया। पार्थिव शरीर विधान भवन में लोगों के दर्शनार्थ के लिए रखा गया। जहां अंतिम दर्शन करने वालों की भीड़ जुटी रही। दोपहर ढाई बजे पार्थिव शरीर को एयर एंबुलेंस के जरिये लखनऊ हवाई अड्डे से उत्तराखण्ड स्थित पंतनगर रवाना कर दिया जाएगा। उनकी अंत्येष्टि रविवार को होगी।

चीनी उत्पादन में यूपी का कद बढ़ा: सुरेश

  • गन्ना मंत्री ने कहा 99 प्रतिशत तक हुआ बकाया भुगतान

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में गन्ना विकास राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सुरेश राणा ने सपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि सपा की अखिलेश सरकार ने अपने कार्यकाल में कई वर्षों तक किसानों का भुगतान ही नहीं किया लेकिन प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद अन्नदाता पूरी तरह से संतुष्ट है। अधिकतर किसानों का भुगतान हो गया है।
राज्य मंत्री सुरेश राणा ने कहा कि पिछली सपा सरकार ने गन्ना किसानों के विषय में कुछ भी नही सोचा। उनका भुगतान अटकाये रखा। लेकिन योगी सरकार ने पहली बार गन्ना किसानों के लिये 35 लाख करोड़ का बजट पास किया। जिससे प्रदेश के गन्ना किसानों को समय पर भुगतान मिल गया। चीनी मिलों का करीब 99 प्रतिशत भुगतान हो चुका है। कायमगंज की चीनी मिल का 99 प्रतिशत भुगतान कर दिया गया। उन्होंने बताया की योगी सरकार प्रयास कर रही है की आगामी 2022 तक किसानों की आय दो गुनी हो जाये। इस कार्यक्रम में मेधावी छात्र-छात्राओं को प्रतीक चिन्ह व प्रमाण पत्र देकर सम्मानित भी किया गया।

राजा भैया की राजनीति में सिल्वर जुबली

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश की राजनीति में बड़ा चेहरा बन चुके कुंडा से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया सक्रिय राजनीति में अपनी सिल्वर जुबली मना रहे हैं। प्रतापगढ़ के कुंड़ा से 1993 में पहली बार निर्दलीय विधायक चुने गए थे। वह प्रदेश में आधा दर्जन बार भले ही कैबिनेट मंत्री रहे हैं, लेकिन किसी भी पार्टी का दामन नहीं थामा। राजनीतिक गलियारे में चर्चा है कि वे आज अपनी नई पार्टी के नाम का ऐलान कर सकते हैं।
राजा भैया 26 वर्ष की उम्र में प्रतापगढ़ के कुंडा से पहली बार निर्दलीय विधायक बने थे। इसके बाद उन्होंने अपना जीत का सिलसिला बरकरार रखा। वह लगातार सात बार विधायक रहे। हमेशा से ही रिकार्ड मतों से जीतने वाले रघुराज प्रताप सिंह ने अपना एक राजनीतिक दल बनाने का फैसला किया है। उनके साथ ही समर्थकों को भरोसा है कि प्रदेश के एक दर्जन से अधिक राजपूत नेता उनके साथ जुड़ सकते हैं।

लखनऊ में दो ट्रकों के बीच आई कार, दो लोगों की मौत, पांच घायल

  • पुलिस ने घायलों को पहुंचाया अस्पताल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ फैजाबाद नेशनल हाईवे पर एक भीषण सडक़ दुर्घटना में चालक समेत दो लोगों की मौत हो गई, जबकि कार पर सवार 12 साल की मासूम बच्ची समेत पांच लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। यह सडक़ हादसा शुक्रवार को देर रात हुआ। घटना की सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। जबकि घायलों को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।
जानकारी के मुताबिक रुदौली निवासी महेश गुप्ता कानपुर में रिश्तेदार के यहां रहकर अपना इलाज करा रहे थे। महेश को दो दिन पहले अस्पताल से छुट्टी मिली थी और वह शुक्रवार को वापस रुदौली लौट रहे थे। उनके साथ उनकी पत्नी आशा गुप्ता, रिश्तेदार जीतू गुप्ता, 12 साल की लक्ष्मी, मुन्ना गुप्ता, आयुष गुप्ता भी थे। उस कार को गुरुदीन उर्फ रामसेवक चला रहा था। रात में करीब 12 बजे दादरा के पास पहुंचते ही कार अचानक से ट्रकों के बीच में आ गई। हादसे के बाद कार के परखचे उड़ गए। चीख-पुकार मच गई। हादसे में दो लोगों की मौत हो गई। पांच लोग घायल हैं।

मूर्ति विसर्जन के बाद गंदगी के बोझ तले कराहती ‘गोमा’

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नवरात्रि की समाप्ति और दशहरा खत्म होते ही गोमती नदी में मूर्तियों का विसर्जन किया जा रहा है। जिन भक्तों ने नौ दिन तक माता के विभिन्न रूपों की पूजा-अर्चना की थी, उन्हीं भक्तों ने जीवनदायिनी गोमती माता (गोमा) को गंदगी से पाटना शुरू कर दिया है। मूर्ति विसर्जन से गोमती नदी बुरी तरह से गंदी हो चुकी हैं। घाटों पर बांस की पट्टियां, पुआल और ढेर सारा कूड़ा-कचरा बिखरा पड़ा है। इनकी सुध लेने वाला कोई नहीं हैं। अब न तो गोमती बचाओ का नारा देने वाला कोई संगठन नजर आ रहा है और न ही कोई सरकारी नुमाइंदा। इसलिए गोमा अपनी बेबसी पर रो रही हैं।

 

Pin It