पूर्व मंत्री के ध्वस्त कराए गए अवैध निर्माण की जमीन पर एलडीए निकालेगा प्लाट

  • विभिन्न योजनाओं के भटक रहे आवंटियों को दिए जाएंगे प्लाट
  • जल्द तैयार किया जाएगा खाका

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। किला मोहम्मदी गांव में पूर्व मंत्री शारदा प्रताप शुक्ला के ध्वस्त किए गए अवैध निर्माण की जगह एलडीए प्लाट निकालेगा। इसके लिए जमीन से मलबा हटवाया जाएगा। जमीन पर आवसीय भू-खंडों के अलावा कमर्शियल प्लाट भी काटे जाएंगे। ये प्लाट अन्य योजनाओं में भटक रहे आवंटियों को दिए जाएंगे। मंगलवार को ध्वस्तीकरण की कार्रवाई होने के बाद एलडीए ने जमीन की नाप-जोख कर ली। यह जमीन 1374 वर्ग मीटर है।
एलडीए ने काफी मशक्कत के बाद पूर्व मंत्री शारदा प्रताप शुक्ला का अवैध निर्माण जमींदोज कर दिया है। एलडीए के अफसर नहीं चाहते हैं कि इस जमीन को खाली छोड़ा जाए। किला मोहम्मदी गांव में पूर्व मंत्री शारदा प्रसाद शुक्ला ने खसरा संख्या 249, 251, 252 पर वर्षों से कब्जा कर रखा था। जिस पर अवैध रूप से आवास, मंदिर समेत शुक्ला मार्केट बना ली गई थी। इस मामले में हाईकोर्ट ने भी बिल्डिंग को अवैध करार दिया था। यही नहीं कोर्ट ने यह आदेश जारी किया था कि एलडीए निर्माण को ध्वस्त करे और जमीन पर कब्जा हासिल करें। इस आदेश के खिलाफ पूर्व मंत्री ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई थी लेकिन उनकी याचिका खारिज की दी गई। इसी क्रम में एलडीए के संयुक्त सचिव डॉ. महेंद्र कुमार मिश्र के नेतृत्व में अधिशाषी अभियंता आरडी राय की टीम ने स्थानीय थाना आशियाना की पुलिस, जेसीबी व प्रवर्तन दल के सहयोग से अवैध कब्जे को मुक्त कराने की कार्रवाई की। एलडीए के अफसरों ने बताया कि पूर्व मंत्री के मकान के ठीक बगल में नजूल की जमीन पर स्कूल बने होने की सूचना मिली है। इस मामले में भी जांच की जाएगी। इस संबंध में एलडीए सचिव मंगला प्रसाद सिंह से जानकारी करने का प्रयास किया गया लेकिन कई बार सम्पर्क करने के बावजूद उनका फोन रिसीव नहीं हुआ।

Pin It