कटौती पर भडक़े कर्मचारी लड़ेंगे आर-पार की लड़ाई

  • दशहरा के बाद कर्मचारी बनाएंगे रणनीति, करेंगे आंदोलन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम में कर्मचारियों को वेतन समेत अन्य देयों के भुगतान को लेकर आर्थिक संकट गहराता जा रहा है। वहीं राज्य वित्त आयोग से मिलने वाले पच्चीस करोड़ में कटौती रोकने के बजाए इसे लगातार बढ़ाने के मामले को लेकर नगर निगम के कर्मचारी संगठन भडक़ गए हैं। इस मामले को लेकर अब कर्मचारी आर-पार की लड़ाई लडऩे को तैयार हैं। दशहरे के बाद कर्मचारी आंदोलन की रणनीति बनाएंगे।
उत्तर प्रदेश नगर निगम एवं जलकल महासंघ के अध्यक्ष शशि मिश्र ने बताया कि प्रदेश की निकायों को पूर्व से चुंगी क्षतिपूर्ति समेत अन्य आमदनी के स्रोत बंद होने की दशा में राज्य वित्त आयोग से वेतन, पेंशन व अन्य भत्तों के लिए जो धनराशि दी जाती है, उससे वर्तमान समय में वेतन आदि भी प्रदेश की बहुत सी इकाइयां नहीं दे पा रही है। देनदारियों का भुगतान हमारी धनराशि से कटौती करके दिया जा रहा, जिसे दो माह में बढ़ा कर काटा गया है। ऐसी स्थित में प्रदेश की बहुत सी इकाइयों में अगले माह से वेतन के लाले पड़ जाएंगे। ऐसे में 15 से 20 करोड़ प्रति माह वेतन कहां तक दिया जा सकेगा। हम प्रदेश सरकार व शासन से बराबर अनुरोध कर रहे हैं कि जनहित के कामों के लिए अलग से पैसा दिया जाए और हमारे वेतन निधि से कटौती बंद की जाए। यदि यही स्थिति रही तो पूरे प्रदेश में चक्का जाम कर हड़ताल की जाएगी। इस संबंध में बीते 12 अक्टूबर को मुख्य सचिव ने सम्बधित इकाइयों से जहां वेतन आदि में कटौती के कारण दिक्कत आ रही है वहां अतिरिक्त धनराशि देने की बात कही थी। उस पर निर्णय होना चाहिए। दशहरा के बाद बैठक बुला कर महासंघ व सहयोगी संगठन कोई बड़ा निर्णय लेंगे।

Pin It