रेप पीडि़ता ने फेसबुक पर लिखा…बलात्कार के आरोपी सीजीएम अखिलेश को मत बनाना दशहरा पर मुख्य अतिथि

  • नींद की गोली खिलाकर हजरतगंज स्थित होटल रेजीडेंसी में अखिलेश ने किया था बलात्कार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अनपरा तापीय परियोजना के मुख्य महाप्रबंधक अखिलेश सिंह पर कार्रवाई को लेकर उनकी दूसरी पत्नी ने सोशल साइट्स पर अभियान छेड़ रखा है। पीडि़ता ने साफ तौर पर लिखा है कि दशहरा त्यौहार पर उसकी कॉलोनी में सीजीएम अखिलेश सिंह हर बार मुख्य अतिथि होते हैं। लेकिन इस बार उसने सभी लोगों से अपील की है कि उसके पति को कोई मुख्य अतिथि नहीं बनाएगा। क्योंकि दशहरा त्यौहार बुराई पर अच्छाई की जीत का प्रतीक है। जबकि उसका पति इतना बुरा है कि कोई कल्पना ही नहीं की जा सकती है। उसके साफ तौर पर कहा है कि उसके पति के हाथ से कोई दीप प्रज्ज्वलित नहीं कराये क्योंकि वह उस लायक नहीं है।

यह है मामला

अनपरा तापीय परियोजना में मुख्य महा प्रबंधक अखिलेश सिंह के खिलाफ हजरतगंज में एक युवती ने रेप सहित कई अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कराया है। यह मुकदमा 18 जून 2018 को दर्ज हुआ लेकिन कार्रवाई के नाम पर पुलिस ने कुछ नहीं किया। आरोप है कि अखिलेश सिंह ने झूठ बोलकर युवती से शादी की, लेकिन बाद में पता चला कि अखिलेश सिंह शादीशुदा हैं, उनके चार बेटे व एक बेटी है। युवती का आरोप है कि इस मामले की जानकारी जब अखिलेश की पत्नी को हुई तो वह भी धमकी देने लगी। युवती ने बताया कि अखिलेश ने उसे एक कार्य के सिलसिले में लखनऊ बुलाया था। जहां होटल रेजीडेंसी में धोखे से नींद की गोली खिलाकर उसके साथ कई बार बलात्कार किया। जब वह बेहोशी से जगी और घटना का विरोध किया तो अखिलेश सिंह ने उसकी पिटाई कर दी। इसके बाद वह जैसे-तैसे कोतवाली पहुंची। जहां कई बार दौड़ाने के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया गया है, लेकिन अब तक कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

थाने पर नहीं होटल में बुलाती है पुलिस

पीडि़ता का आरोप है कि हजरतगंज पुलिस आरोपी अखिलेश को थाने पर नहीं बल्कि फाइव स्टार होटल में बुलाती है और वहां खुद जाकर उनसे बातचीत करती है। यदि यह सही है तो कहना गलत नहीं होगा कि लखनऊ पुलिस चेहरा और व्यक्ति को देखकर कार्रवाई करती है। उसकी नजर में सभी समान नहीं हैं।

उद्योग विभाग के कार्यालय में गंदगी देख भडक़े मंत्री सत्यदेव पचौरी

  • सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री ने किया निरीक्षण, अधिकारियों को लगाई फटकार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सत्यदेव पचौरी ने आज कैसरबाग स्थित निर्यात प्रोत्साहन भवन में उद्योग विभाग के कार्यालय का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान कार्यालय में जगह-जगह फैली गंदगी और गैलरी में टूटे-फूटे फर्नीचर देखकर मंत्री जी भडक़ गये। उन्होंने निरीक्षण के दौरान वहां मौजूद ज्वाइंट कमिश्नर पवन अग्रवाल को फटकार लगाई और कहा कि जिस जगह बैठकर आप सब काम करते हैं, जब वहां की सफाई नहीं करवा पा रहे हैं तो बाकी जगहों का क्या हाल होगा।
सत्यदेव पचौरी ने निरीक्षण के बाद कहा कि कार्यालय में फैली गंदगी को साफ करने और सारी व्यवस्था दुरुस्त करने के लिए अधिकारियों को एक सप्ताह का समय दिया गया है। विभाग की जर्जर बिल्डिंग को दुरुस्त करने के लिए भी अधिकारियों को उचित निर्देश दिए गए हैं। उनसे स्पष्ट कहा गया है कि काम में लापरवाही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगा। वहीं निर्देशों का पालन किया गया या नहीं इसकी जांच करने के लिए वह एक सप्ताह बाद दोबारा कार्यालय आएंगे।

जौनपुर के शाहगंज स्टेशन पर टूटी मिली पटरी

  • आरपीएफ कांस्टेबल ने स्टेशन मास्टर को दी जानकारी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राायबरेली के हरचंदपुर में बुधवार को न्यू फरक्का एक्सप्रेस के दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद भी रेलवे ने सबक नहीं लिया। आज जौनपुर जिले के शाहगंज रेलवे स्टेशन पर पटरी टूटी मिलने से रेलवे और यात्रियों में खलबली मच गई।
जौनपुर के शाहगंज रेलवे स्टेशन के पार्सल के पास आज सुबह पटरी टूटी मिलने से रेलवे महकमे में खलबली मच गई। आरपीएफ कांस्टेबल श्याम सुंदर ने इसकी जानकारी तुरंत स्टेशन मास्टर को दी। उसी समय किसान एक्सप्रेस के आने का समय हो चुका था, जिसे तुरंत प्लेटफार्म नंबर दो पर लाया गया। फिलहाल रेलवे कर्मचारी मरम्मत कार्य में जुट गए हैं। इसके साथ ही इंजीनियरिंग विभाग की टीम भी मौके पर पहुंच गई है। जल्द ही पटरी दुरुस्त हो जाने की उम्मीद है।

कल्पना तिवारी बनीं नगर निगम की ओएसडी

  • डिप्टी सीएम ने सौंपा नियुक्ति पत्र

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शासन के निर्देश पर आज कल्पना तिवारी को डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने उनके आवास पहुंचकर नगर निगम में विशेष कार्याधिकारी (ओएसडी) पद के लिए नियुक्ति पत्र सौंपा। इस मौके पर मेयर संयुक्ता भाटिया, आशुतोष टंडन, नीरज बोरा, प्रमुख सचिव सूचना अवनीश अवस्थी, डीएम कौशल राज शर्मा, नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी, नगर निगम के ओएस दिनेश कुमार सहित नगर निगम और शासन के अफसर मौजूद रहे।
डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि दुख की इस घड़ी में परिवार के साथ हम और हमारी सरकार खड़ी है। सीएम योगी से भी परिजनों की पूर्व में मुलाकात कराई गई थी। परिजनों ने जो मांग की थी। उसके तहत 40 लाख की मुआवजा राशि दी गई। यही नहीं आवास के लिए भी जल्द व्यवस्था की जाएगी। कल्पना ने कहा कि मुख्य बात न्याय की थी। इस बात की थोड़ी संतुष्टि है कि सरकार ने मुझसे जो भी वादा किया था वह धीरे-धीरे पूरा कर रही है। वहीं नियुक्ति पत्र मिलने पर कल्पना ने कहा कि उन्हें सरकार पर पूरा भरोसा है। न्याय मिलेगा और देरी नहीं होगी। जबकि सीबीआई जांच के सवाल पर कहा कि मैंने सीबीआई जांच की बात कभी नहीं कही थी निष्पक्ष जांच की मांग की थी, क्योंकि हमें पता है कि दोषी कौन है और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई जरूर होगी।

15 सूत्रीय मांगों को लेकर नगर निगम मुख्यालय पर धरना

  • उत्तर प्रदेश नगर निगम एवं जलकल कर्मचारी संघ के बैनर तले कर्मचारियों ने जताया विरोध

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कर्मचारियों की लंबित मांगों को लेकर पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत आज उत्तर प्रदेश नगर निगम एवं जलकल कर्मचारी संघ ने नगर निगम मुख्यालय पर धरना दिया।
संघ के महामंत्री कैसर रजा ने बताया कि कर्मचारियों की 15 सूत्री मांगों को लेकर शासन कोई निर्णय नही ले रहा है। इस संबंध में कई बार शासन के अफसरों को पत्र लिखा जा चुका है। पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत आज केवल धरना दिया जा रहा है। अगर अभी भी शासन मांगों को नहीं मानेगा तो जल्दी ही हड़ताल की जाएगी। जिसकी सारी जिम्मेदारी शासन की होगी।

 

Pin It