अब अपराधियों की खैर नहीं, एक फोन पर तत्काल पहुंचेगी एंटी क्राइम टीम

  • जारी किया गया हेल्प लाइन नंबर, व्हाट्सएप पर भेजा जा सकता है घटना का वीडियो
  • एसएसपी कलानिधि नैथानी ने जनता की सुविधा के लिए की पहल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अब अपराधियों और उपद्रवियों की खैर नहीं है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी ने जनता की सुविधा के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है। इस नंबर पर घटना की सूचना व वीडियो भेजा जा सकता है। सूचना मिलते ही एंटी क्राइम टीम तत्काल मौके पर पहुंच कर कार्रवाई करेगी।
गली-मोहल्लों व सडक़ों पर होने वाले अपराध जैसे जुआ, सट्टा, अवैध शराब की तस्करी व संगठित अपराधों से क्षेत्र का माहौल खराब होता है, जिसकी रोकथाम के लिए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक लखनऊ ने हेल्प लाइन नम्बर 7839861314 जारी किया है। जिस पर सूचना देने वाले कॉलर का नाम गोपनीय रखा जायेगा। वहीं सूचनाओं को तस्दीक कर नियमानुसार त्वरित कार्रवाई की जायेगी। इसे एंटी क्राइम हेल्प लाइन के नाम से जाना जायेगा। यह हेल्प लाइन नम्बर जनता द्वारा सूचना के लिए 24 घंटे एक्टिव रहेगा। इसी नम्बर पर व्हाट्सएप भी चलता रहेगा, जिससे फोटो/वीडियो भेजकर भी सूचना दी जा सकेगी। इस टीम का नोडल अधिकारी दीपक कुमार सिंह क्षेत्राधिकारी अलीगंज को बनाया गया है। टीम में पुलिस उपाधीक्षक प्रज्ञान, राधेश्याम राय, प्रभारी मीडिया सेल, अरुण कुमार सिंह व अनिल कुमार सिंह, प्रभारी निरीक्षक, महिला थाना शारदा चौधरी, प्रभारी निरीक्षक, कैन्ट रंजना सचान, प्रभारी साइबर सेल, विजय वीर सिंह सिरोही, स्वाट टीम प्रथम, अपराध शाखा निरीक्षक विमलेश कुमार सिंह, आरक्षी सर्विलांस सेल और वीर सिंह शामिल हैं।

लापरवाही पर नपेंगे पुलिसकर्मी
एसएसपी ने कहा है कि 30 अक्टूबर तक आपराधिक घटनाओं पर पूरी तरह से रोक लगेगी। यदि ऐसा नहीं होता है तो संबंधित पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी। 30 अक्टूबर के बाद किसी हल्का प्रभारी या वीट आरक्षी के क्षेत्र में यदि अवैध कार्य होता मिलेगा तो और प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष/चौकी प्रभारी/हल्का इंचार्ज अनभिज्ञता प्रकट करते हैं, तो संबंधित हल्का प्रभारी एवं बीट आरक्षी के साथ-साथ प्रभारी निरीक्षक/थानाध्यक्ष के विरुद्ध दंडात्मक कार्रवाई अथवा निलंबन तक की कार्रवाई की जा सकती है।

Pin It