जरूरतमंदों को प्राथमिकता के आधार पर दिए जाएंगे शस्त्र लाइसेंस: कौशल राज

  • कलेक्ट्रेट में काउंटर खुलने के बाद डीएम ने दिए निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सरकार द्वारा शस्त्र लाइसेंस की खिडक़ी खोलने के बाद अब प्रशासन सक्रिय हो गया है। डीएम कौशल राज शर्मा ने साफ कर दिया है कि शस्त्र लाइसेंस केवल जरूरतमंदों को प्राथमिकता के आधार पर ही जारी किए जाएंगे। आवेदन करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को लाइसेंस जारी नहीं किया जाएगा।
डीएम का कहना है कि शासनादेश जारी होने के बाद से ही कलेक्ट्रेट में गहमागहमी बढ़ गई है। शस्त्र अनुभाग में स्टाफ और संसाधन दोनों की बढ़ोतरी की जाएगी। इसके अलावा राइफल क्लब की भी मदद लेंगे। फिलहाल आवेदनों की स्क्रीनिंग शुरू कर दी गई है। प्रशासन ने सभी आवेदनों के निस्तारण के लिए छह महीने का टारगेट रखा है। प्रशासन की मंशा है कि चुनाव की आचार संहिता से पहले सभी आवेदनों का निस्तारण कर दिया जाए। प्रशासन के पास करीब पचास हजार आवेदन लंबित हैं। प्राथमिकता के आधार पर स्लाट तय किए जाएंगे, जिसके बाद लाइसेंस जारी होंगे। बता दें, शस्त्र लाइसेंस के लिए शासनादेश जारी हुए अभी तीन दिन ही हुए हैं, लेकिन स्टांप वेंडरों के पोस से चालान फार्म कम पड़ गए हैं। कलेक्ट्रेट में बहुत से लोग चालान फार्म ढूंढ़ते नजर आए।

Pin It