त्यौहारों पर गड़बड़ी फैलाने वालों को लेकर सीएम सख्त

  • कहा, छोटी-छोटी घटना को गंभीरता से लें अधिकारी
  • माहौल खराब करने वालों को चिन्हित कर पाबंद करने के निर्देश

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने त्यौहारों पर गड़बड़ी फैलाने वालों के खिलाफ सख्त रुख अख्तियार कर लिया है। उन्होंने नवरात्रि से लेकर छठ पूजा की तैयारियों और सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा के दौरान अफसरों से कहा कि वे छोटी से छोटी घटना को गंभीरता से लें। माहौल खराब करने वालों को पहले से चिन्हित कर पाबंद कर दें ताकि वे गड़बड़ी न फैला सकें। यात्राओं के दौरान सडक़ हादसों और विसर्जन के दौरान होने वाले हादसों को रोकने की पर्याप्त व्यवस्था की जाए। मूर्ति विसर्जन के समय नदियों के घाटों, सरोवरों पर जल पुलिस व बाढ़ राहत पुलिस के साथ प्रकाश की उचित व्यवस्था की जाए।
सीएम योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से त्यौहारों पर की जा रही तैयारी की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने नवरात्रि से छठ तक अधिकारियों को सकारात्मक रुख से काम करने के निर्देश दिए। यह भी कहा कि अगर किसी भी अफसर के नकारात्मक रुख के चलते त्योहारों का माहौल बिगड़ा तो उसे बख्शा नहीं जाएगा। इस दौरान उन्होंने मेरठ, आगरा, कानपुर नगर, बलरामपुर, बहराइच व महाराजगंज के डीएम-एसपी से उनके यहां बीते साल हुई घटनाओं के बारे में पूछा। जिन जिलों में पिछले साल घटनाएं हुई थीं, वहां के अफसरों को अतिरिक्त सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए। उन्होंने कहा कि नवरात्र में मंदिर और उससे जुड़े रास्तों, राम लीला व रामबारात के रास्तों में सुरक्षा के विशेष इंतजाम किए जाएं। महिलाओं के साथ चेन स्नेचिंग या छेड़छाड़ की घटनाएं न हों। इस दौरान सीएम के साथ प्रमुख सचिव गृह, डीजीपी व अन्य अफसर मौजूद रहे।

अति संवेदनशील स्थानों पर लगेंगे सीसीटीवी कैमरे

सीएम ने कहा कि शोभा यात्राओं व जुलूस के लिए जो भी रास्ते तय हों, वे वहीं से निकाले जाएं। जहां रास्तों के विवाद हों, उन्हें पहले ही निपटा लिया जाए। रामलीला, दुर्गा मूर्ति के स्थान व प्रतिमा विसर्जन और रावण दहन के स्थानों का पहले से निरीक्षण कर अतिसंवेदनशील स्थानों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएं और वीडियोग्राफी की व्यवस्था की जाए।

 

Pin It