नदी के रास्ते से भी कुंभ पहुंच सकेंगे श्रद्घालु: गडकरी

  • परिवहन मंत्री ने सीएम योगी आदित्यनाथ से की मुलाकात

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। इलाहाबाद में जनवरी, 2019 में लगने वाले कुंभ में श्रद्घालु वाराणसी से इलाहाबाद के बीच जलमार्ग से आ जा सकेंगे। केंद्रीय सडक़ परिवहन, राजमार्ग, जहाजरानी मंत्री नितिन गडकरी ने इसकी घोषणा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ हुई बैठक में की है। इसके लिए वाराणसी से इलाहाबाद के बीच जलमार्ग पर काम किया जा रहा है। इसके अलावा कुंभ के मद्देनजर अलग-अलग जिलों से इलाहाबाद को जोडऩे वाली सडक़ों के निर्माण कार्य में तेजी आएगी। एनेक्सी में शाम को हुई बैठक के दौरान प्रदेश के अलग-अलग जिलों में एनएचएआई की सडक़ों के निर्माण और मरम्मत कार्य पर भी विस्तार से चर्चा हुई।
सीएम योगी ने लखनऊ से इलाहाबाद, अयोध्या से इलाहाबाद, इलाहाबाद से चित्रकूट, मीरजापुर से इलाहाबाद और वाराणसी से इलाहाबाद की सडक़ों के काम में तेजी लाए जाने का अनुरोध किया। उन्होंने कहा कि जिन स्थानों पर सडक़ों की गुणवत्ता ठीक नहीं है, उन स्थानों पर भी तेजी से मरम्मत करते हुए सडक़ों को गड्ढामुक्त करने का काम किया जाए। इसके अलावा इलाहाबाद में गंगा नदी पर फाफामऊ में एक और पुल का निर्माण करावाया जा रहा है। बैठक के दौरान केंद्रीय मंत्री ने कई जगहों पर सडक़ निर्माण में जमीन अधिग्रहण की दिक्कतों के बारे में मुख्यमंत्री को बताया। उन्होंने कहा कि अगर इन समस्याओं को दूर कर लिया जाएगा तो सडक़ों के निर्माण कार्य में तेजी आएगी। इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने रुदौली से नेपाल बॉर्डर, गोरखपुर से वाराणसी, लखनऊ से सीतापुर, सहारनपुर से देहरादून, मेरठ से बिजनौर की सडक़ों के सुधार कार्यों में तेजी लाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर मुख्य सचिव डॉ. अनूप चंद्र पांडेय, प्रमुख सचिव लोक निर्माण विभाग नितिन रमेश गोकर्ण, प्रमुख सचिव राजस्व सुरेश चन्द्रा समेत कई अन्य विभागों के अधिकारी मौजूद थे।

इटावा को मिला आईएसओ 9001 प्रमाण-पत्र

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को भारतीय मानक ब्यूरो द्वारा स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत इटावा जिले को आईएसओ 9001 प्रमाण-पत्र दिए जाने पर डीएम सेल्वा कुमारी जे को बधाई दी है। सेल्वा कुमारी ने मुख्यमंत्री से भेंट कर उन्हें प्रमाण-पत्र सौंपा।

 

Pin It