अब कांग्रेस का और इंतजार नहीं बसपा से करेंगे बात: अखिलेश

  • मध्यप्रदेश में सपा लड़ेगी चुनाव, भाजपा पर साधा निशाना
  • शिक्षा के बारे में न सोचकर वोटों के जुगाड़ में लगी सरकार
  • शिक्षामित्र और किसान कर रहे हैं आत्महत्या

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। सपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गठबंधन को लेकर कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस ने बहुत इंतजार कराया है। अब और इंतजार नहीं करेंगे। बसपा से बातचीत जरूर की जाएगी। मध्य प्रदेश में सपा चुनाव लड़ेगी।
वरिष्ठï शिक्षक सम्मेलन में अखिलेश यादव ने भाजपा सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार शिक्षा व्यवस्था में सुधार के बारे में न सोचकर वोटों के जुगाड़ में लगी है। प्राइमरी स्कूलों की हालत ठीक नहीं है। यदि प्राइमरी स्कूलों की हालत ठीक नहीं की गई तो शिक्षा का स्तर नहीं सुधरेगा। उन्होंने स्वदेशी मूवमेंट पर सरकार को घेरते हुए कहा कि चीन से सामान मंगाने के लिए कई लाइसेंस दिए गए हैं। अब तो भगवान की मूर्तियां भी चीन से आ रही हैं। डिजिटल तकनीकी ने बच्चों की आंखों पर असर डाला है। डायबिटीज और कैंसर रोगियों की संख्या बढ़ती जा रही है। चुनाव आयोग की प्रेस कॉन्फ्रेंस पीएम की रैली की वजह से टालने के कांग्रेस नेता के बयान पर अखिलेश ने कहा कि सब जानते हंै कि चीजें कैसे काम कर रही हैं। इलाहबाद छात्रसंघ के चुनावों के बाद हुई हिंसा और आगजनी के लिए सरकार में बैठे लोग जिम्मेदार हैं। वे जीत नहीं पाए इसलिए हिंसा पर उतर आए। शिक्षामित्र आत्महत्या कर रहे हैं। शिक्षामित्रों की व्यवस्था भाजपा ने ही शुरू की थी और अब सरकार उनको छोडऩे पर आमादा है। शिक्षक लाठी खा रहे हैं और किसान आत्महत्या कर रहे हैं। ऑन लाइन परीक्षा के बावजूद विद्यार्थियों को परीक्षा देने बाहर जाना पड़ता है। शिक्षकों का आशीर्वाद रहा तो हम चुनाव जीतेंगे।

संस्थाओं के गलत इस्तेमाल का भुगतना पड़ता है खामियाजा

अखिलेश ने सिपाहियों के काला दिवस मनाने पर कहा कि यदि संस्थाओं का अगर गलत इस्तेमाल होगा तो उसका खामियाजा भुगतना ही पड़ेगा। आप गलत करवा रहे थे उसी के कारण ऐसा हो रहा है। आज अधिकारी आत्महत्या कर रहे हैं। ललितपुर में एसडीएम पर दवाब था, उसके लिए डीएम जिम्मेदार है। भाजपा के लोग जमीन को लेकर दबाव बना रहे थे।

आज हो सकता है पांच राज्यों में चुनाव का ऐलान, राजनीति तेज

  • प्रेस कॉन्फ्रेंस का समय बदलने पर कांग्रेस ने चुनाव आयोग पर उठाया सवाल
  • कहा, पीएम नरेंद्र मोदी की रैली की वजह से बदला गया वक्त

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। चुनाव आयोग आज पांच राज्यों मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम चुनाव की तारीखों की घोषणा कर सकता है। इसके लिए आयोग ने प्रेस कॉन्फेंस बुलाई है लेकिन इसके समय को लेकर विवाद शुरू हो गया है। कांग्रेस ने इस मामले में चुनाव आयोग पर सवाल उठाते हुए कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की रैली की वजह से आयोग ने समय में बदलाव किया है। पहले प्रेस कॉन्फ्रेंस साढ़े 12 बजे होनी थी लेकिन बाद में इसका समय बदलकर तीन बजे शाम कर दिया गया।
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि तीन तथ्य हैं, निष्कर्ष स्वयं निकालिए। चुनाव आयोग ने 5 राज्यों के चुनाव कार्यक्रम का एलान करने के लिए 12:30 बजे प्रेस कॉन्फे्रंस बुलाई। पीएम मोदी राजस्थान के अजमेर में दोपहर एक बजे रैली करने वाले हैं और चुनाव आयोग ने अचानक प्रेस कॉन्फ्रेंस का समय बदलकर तीन बजे कर दिया। क्या चुनाव आयोग स्वतंत्र है? कांग्रेस के आरोपों पर चुनाव आयोग ने कहा की प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए इंतजाम करने के लिए और जानकारी देने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस के लिए ज्यादा वक्त ना होने की बात को देखते हुए समय में बदलाव किया गया है। इससे पहले कर्नाटक विधानसभा चुनाव के समय भी चुनाव तारीखों को लेकर विवाद सामने आया था।

इलाहाबाद विवि में जीतते ही अध्यक्ष के कमरे को किया आग के हवाले, अध्यक्ष पद पर समाजवादी छात्र सभा का कब्जा

  • हॉलैंड हॉल हॉस्टल में लगाई आग, अध्यक्ष उदय प्रकाश ने बवाल के लिए एबीवीपी को बताया जिम्मेदार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
इलाहाबाद। इलाहाबाद विश्वविद्यालय में छात्रसंघ चुनाव नतीजे आने के बाद बवाल हो गया। समाजवादी छात्रसभा से अध्यक्ष चुने गए उदय प्रकाश यादव के हॉस्टल पर न केवल बम फेंके गए बल्कि कमरे में आग लगा दी गई। हालात को काबू में करने में पुलिस-प्रशासन के अफसरों को काफी मशक्तत करनी पड़ी। सीओ जख्मी हो गए।
कल देर रात छात्रसंघ चुनाव नतीजे आए। अध्यक्ष पद पर समाजवादी छात्रसभा (सछास)ने कब्जा जमाया है। उदय प्रकाश यादव विजयी हुए हैं। उपाध्यक्ष पद पर कांग्रेस समर्थित नेशनल स्टूडेंट्स यूनियन ऑफ इंडिया (एनएसयूआई) के अखिलेश यादव और महामंत्री पद भाजपा समर्थित अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के खाते में गया है। इसके शिवम सिंह विजयी रहे। संयुक्त सचिव पद पर सछास के सत्यम सिंह सनी और सांस्कृतिक सचिव पद पर एनएसयूआई के आदित्य सिंह विजयी रहे। परिणाम के तुरंत बाद बवाल मच गया। हालैंड हाल छात्रावास में आग लगा दी गई। इसी हॉस्टल में नवनिर्वाचित अध्यक्ष उदय प्रकाश यादव रहते हैं।

 

Pin It