दरकने लगी राजधानी के कानून व्यवस्था की दीवार, पुराने ढर्रे पर पुलिस, बदमाश बेलगाम

  • हर दिन सनसनीखेज वारदातों को अंजाम दे रहे अपराधी
  • शहर में चोरों की दशहत रोज तोड़ रहे दुकानों और घरों के ताले

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। योगी सरकार सूबे की कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए तमाम दावे कर रही है लेकिन पुलिस पुराने ढर्रे पर चल रही है। लिहाजा प्रदेश की राजधानी लखनऊ की कानून व्यवस्था की दीवार दरकने लगी है। बदमाश आए दिन सनसनीखेज वारदातों को अंजाम देकर राजधानी पुलिस की कार्यशैली पर सवालिया निशान लगा रहे हैं। वहीं राजधानी पुलिस बढ़ते अपराधों के बाद भी आंकड़ों में खेल कर खुद को सुरक्षित करने की कोशिश कर रही है। पुलिस के इस रवैए से अपराधी बेलगाम हो रहे हैं और राजधानी में आए दिन वारदात कर आसानी से फरार हो रहे हैं।
प्रदेश के मुख्यमंत्री और पुलिस महकमे के मुखिया राजधानी में निवास करते हैं। बावजूद इसके यहां अपराधी बेलगाम हो गए हैं। हत्या, चेन स्नेचिंग, लूट और बलात्कार की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। यही नहीं पुलिस हत्याकर फेंकी गई कई लाशों की आज तक शिनाख्त नहीं कर सकी है। पिछले दिनों मडिय़ांव में बुजुर्ग दंपति को बंधक बनाकर बदमाशों ने घर में लूटपाट की थी। पुलिस की जांच अभी बढ़ी ही नहीं थी कि बदमाशों ने गुडंबा में चार घरों को निशाना बना दिया था। हर दिन राजधानी में लूट, हत्या, रेप, चोरी और वाहन चोरी की वारदातें हो रहीं हैं पर राजधानी पुलिस आंकड़ों से खेल कर रही है। कई बार यह मामला उजागर भी हुआ है लेकिन पुलिस अपने आंकड़ों की फेहरिस्त आलाधिकारियों तक पहुंचाकर वाह-वाही लूटने में मस्त हो जाती है। लगातार बढ़ रहे अपराधों को रोकने में राजधानी पुलिस विफल होती है तो वह झूठे आंकड़े जारी करने से भी परहेज नहीं कर रही है। यह हाल तब है जब प्रदेश को अपराध मुक्त करने का आदेश सीएम योगी ने दे रखा है और पुलिस ताबड़तोड़ एनकाउंटर कर रही है लेकिन स्थितियां काबू में नहीं आ रही है।

Pin It