4पीएम में प्रकाशित हुई खबर तो कप्तान ने दर्ज कराया मुकदमा

दो बार कहने के बाद भी पूर्व कोतवाल ने नहीं लिखी थी रिपोर्ट

 

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। कोलकाता के व्यापारी की खबर जब 4पीएम अखबार ने 23 अगस्त को प्रकाशित किया तो कप्तान ने स्वत: मामले को संज्ञान में लेते हुए मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए हैं। इस मामले में कप्तान कलानिधि नैथानी ने दो बार हजरतगंज के पूर्व कोतवाल आनन्द शाही से कहा था लेकिन शाही अपने आनन्द में मस्त रहे और कप्तान के आदेश को दरकिनार कर दिया। इसके बाद कई अन्य मामलों में भी इंस्पेक्टर शाही की लापरवाही सामने आई तो कप्तान ने पहले उनको लाइन हाजिर किया फिर बाद में निलंबित कर दिया।

ये है मामला
कोलकाता निवासी कौशिक घोष व्यापारी है। कौशिक के मुताबिक साजी अहमद सिद्दीकी ने खुद को आईएएस अफसर बताकर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बेसिक शिक्षा विभाग में बैग निकालने का टेंडर दिलाने की बात कही थी। साजी ने हजरतगंज के सिलवेट होटल में कौशिक की अभिषेक निगम और उसके पिता अजय निगम से मुलाकात कराई। यह दोनों सचिवालय के पास लगी हुई लालबत्ती कार से आये थे। टेंडर दिलवाने की बात भी कही। इन तीनों ने कहा कि उसकी फर्म नीट इंटरप्राइजेज में पचास लाख रुप

ये जमा कर दें। कौशिक ने उनके कहे मुताबिक धनराशि जमा कर दी। इसके बाद रामशुक्ला की मांग पर आरटीजीएस द्वारा चार लाख रुपये ट्रांसफर किया गया। कौशिक ने बताया कि इसके कुछ ही दिनों बाद अभिषेक ने 15 लाख रुपये और मांगे। उसने कहा कि डिमांड पूरी नहीं हुई तो सारा काम रुक जाएगा। इस पर कौशिक ने वह रुपये भी दे दिए। लेकिन कई माह बीतने के बाद भी टेंडर नहीं मिला तो कौशिक अपने रुपयों की मांग करने लगा। कौशिक ने बताया कि तब तीनों युवकों ने मिलकर उसको जान से मारने की धमकी देनी शुरू कर दी। कौशिक ने जांच किया तो पता चला कि सभी बहुत बड़े जालसाज हैं। इस मामले की शिकायत कौशिक व उसके वकील ने हजरतगंज थाने में की। लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई तो कप्तान कलानिधि से मिलकर न्याय की गुहार लगाई थी।

मिली थी धमकी मुकदमा दर्ज

व्यापारी के वकील के मुताबिक कप्तान ने फोन करके कार्रवाई करने को कहा था। इस कॉल को पांच मिनट भी नहीं हुआ कि व्यापारी के पास एक अन्य नंबर से फोन गया। फोन करने वाले ने कहा कि हजरतगंज कोतवाली मत जाना। यदि मुकदमा लिखवाया तो जान से हाथ धो बैठोगे। इतना ही नहीं फोन करने वाले ने इतनी गालियां दीं की कौशिक काफी डर गया। सवाल उठता है कि कप्तान और एसएचओ के बीच जो वार्ता हुई उसकी जानकारी तीसरे व्यक्ति को कैसे हो गई। आरोपियों को कैसे पता चला कि वह मुकदमा दर्ज कराने जा रहा है। इस मामले में भी मोबाइल नंबर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया गया है। फिलहाल वो मोबाइल नंबर सद्दान अंसारी ऊर्फ जैन का बताया जा रहा है।

नगर निगम: ड्राइवरों के ठेंगे पर कूड़ा वाहनों में लगा जीपीएस

चालकों ने ध्वस्त कर दिया जीपीएस, जब नहीं मिली लोकेशन तो जागे जिम्मेदार
नगर आयुक्त ने जारी किया नोटिस, कहा क्यों न काली सूची में डाल दिया जाए संस्था को

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम के आरआर विभाग द्वारा संचालित कूड़ा वाहनों से डीजल चोरी जारी है। वाहनों में लगा ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम (जीपीएस) वाहन चालकों को रास नहीं आ रहा है। लगातार जीपीएस से छेड़छाड़ की जा रही है। यह सारा खेल नगर निगम में मैनपावर सप्लाई करने वाली कार्यदायी संस्था के कर्मचारियों द्वारा किया जा रहा है। नगर निगम के जीपीएस में कई दिनों से 35 कूड़ा वाहनों की लोकेशन नहीं मिली तो अफसरों में हडक़ंप मच गया। पता किया गया तो जानकारी मिली की जीपीएस के साथ छेड़छाड़ की गई। इस संबंध में नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी ने कार्यदायी संस्था अवनी परिधि एनर्जी एण्ड कम्युनिकेशन प्राईवेट लिमिटेड को नोटिस जारी कि

या है। इसमें कहा गया है कि संस्था के 35 वाहन चालकों ने कूड़ा वाहनों में लगा जीपीएस खराब कर दिया है। जिसके चलते यह पता नहीं चल पा रहा है कि आखिर नगर निगम के वाहन कहां जा रहे हैं। यही नहीं वाहनों से कूड़ा उठ रहा है या नहीं यह भी अफसरों को नहीं पता चल रहा है। ऐसे में एक ओर वाहनों के डीजल चोरी की संभावना बढ़ गई है तो वहीं, दूसरी ओर शहर की सफाई व्यवस्था पर भी असर पड़ रहा है। मामले की गंभीरता को देखते हुएं नगर आयुक्त ने सख्ती दिखाई है। उन्होंने नाराजगी जाहिर करते हुए नोटिस मे कहा है कि क्यों न उक्त मामले को लेकर संस्था को काली सूची में डाल दिया जाए। बता दें कि यह कोई पहला मामला नहीं है जब कूड़ा वाहनों में लगे जीपीएस को खराब कर दिया गया। इससे पहले भी कई बार ऐसे मामले प्रकाश में आ चुकें हैं। लेकिन पूर्व में तैनात अफसरों की मिली भगत के कारण ऐसी संस्थाओं पर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो पा रही थी।

इस संबंध में संस्था को नोटिस जारी किया गया है। जवाब मिलने के बाद नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी।
इन्द्रमणि त्रिपाठी, नगर आयुक्त

छात्र ने फांसी लगाकर दी जान

सआदतगंज कोतवाली क्षेत्र का मामला

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। सआदतगंज कोतवाली क्षेत्र में सोमवार को देर रात एक छात्र ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम

के लिए भेज दिया है। सआदतगंज कोतवाल नीरज ओझा ने बताया कि पान दरीबा निवासी 14 वर्षीय वाशु साहू पुत्र शीतला प्रसाद सिटी कान्वेंट स्कूल राजाजीपुरम में कक्षा 9 का छात्र था। सोमवार को देर रात उसने कमरे में लगे हुए पर्दे के सहारे फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। कारण स्पष्ट नहीं हो पा रहा है। एसएचओ के मुताबिक मोमो गेम का कोई मामला नहीं है। परिजन भी इंकार कर रहे हैं। प्रथम दृष्टया मामला डांट फटकार का लग रहा है। कल जन्माष्टमी पर वह बाहर जाने की जिद कर रहा था लेकिन पिता ने मना कर दिया। पिता की डांट से नाराज होकर वह कमरे में अकेले ही बैठा रहा, कहीं बाहर भी नहीं गया। इसी वजह से उसने फांसी लगाकर आत्महत्या की है।

शामली: ग्यारहवीं के छात्र की गोली मारकर हत्या

हमलावर तमंचा मौके पर छोडक़र फरार

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। शामली में कस्बा कांधला में आज सुबह स्कूल जा रहे एक छात्र की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बाइक सवार दो बदमाशों ने छात्र को रोका और उसकी क

नपटी पर असलहा सटाकर गोली मार दी। मृत छात्र प्रियांशु मुजफ्फरनगर के थाना फुगाना के गांव डूंगर का रहने वाला था। वह कांधला कस्बे के नेशनल इंटर कॉलेज में कक्षा 11 में पढ़ता था। जानकारी के मुताबिक आज सुबह प्रियांशु हिंदू इंटर कॉलेज के पास से अपने स्कूल की ओर जा रहा था। इसी दौरान दो बाइक सवार आए और प्रियांशु को रोक कर उसकी कनपटी से सटाकर तमंचे से गोली मार दी। हमलावर तमंचा मौके पर छोडक़र फरार हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस छात्र को शामली के एक निजी अस्पताल ले गई। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। छात्र की जेब से मिले आईकार्ड से उसकी पहचान हुई। पुलिस ने परिजनों को सूचना दी है। छात्र के स्कूल से भी जानकारी जुटाई जा रही है।

शामली: ग्यारहवीं के छात्र की गोली मारकर हत्या

लाल निशान के ऊपर बह रहीं नदियों ने गांवों में मचाई तबाही

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में बारिश और बाढ़ का कहर नहीं थम रहा है। करीब 15 दिनों से शुरू बारिश का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। राजधानी लखनऊ में लगातार बारिश के कारण जगह-जगह जल जमाव की स्थिति उत्पन्न हो गई है। शहर के कई मोहल्लों में लोग अपने घरों में कैद हो गये हैं। आफिस और स्कूल जाने के लिए लोगों का घर से निकलना मुश्किल हो गया है। वहीं प्रदेश के कई जिलों में बाढ अपना कहर ढा रही है। बिजली चमकने, मकान गिरने और एक्सीडेंट की घटनाओं में 24 घंटे के अंदर 16 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। लाल निशान के ऊपर प्रवाहित हो रही नदियों का पानी सैकड़ों गांवों में तबाही मचा रहा है। लोग सुरक्षित स्थानों की तरफ कूच कर रहे हैं। राजधानी लखनऊ में आज सुबह एक बार फिर से तेज बारिश हुई। मौसम विभाग के अधिकारियों के मुताबिक अगले दो दिन बारिश और होगी। हरदोई, गोंडा, बस्ती और आसपास के जिलों में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है। आंबेडकर नगर में घाघरा नदी स्थिर है। तटीय इलाकों में बाढ़ का खतरा बरकरार है। क्योंकि लगातार कई दिनों से रुक-रुक कर हो रही तेज बारिश के कारण नदियों का जल स्तर तेजी से बढ़ रहा है।

वैक्सीनेशन की शुरुआत
प्रदेश सरकार की महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी ने आज राजधानी के होटल हिल्टन गार्डेन इन में वैक्सीनेशन अभियान का शुभारंभ किया। प्रदेश में रोटा वायरस से बचाव के लिए 57 लाख बच्चों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य रखा गया है।
प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने अपने सरकारी आवास पर प्रदेश भर से आये लोगों की शिकायतों को सुना और उनके निस्तारण के लिए संबंधित जिलों व विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिए।

Pin It