ट्रॉमा सेंटर में गुल रही बिजली, मरीज हलकान

  • 29 घंटे बाद ठीक हो सका फाल्ट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। केजीएमयू के ट्रॉमा सेंटर में घंटों बिजली गुल रहने से क्रिटिकल केयर यूनिटों में सेंट्रलाइज एसी बंद हो गए। इससे गंभीर मरीजों में संक्रमण का खतरा बढ़ गया। वहीं मरीज के परिजन हलकान रहे।
केजीएमयू का ट्रॉमा सेंटर पांच मंजिला है। इसमें विभिन्न विभागों की इमरजेंसी सेवा चलती हैं। गुरुवार की सुबह चौथे और पांचवें तल पर बिजली केबिल में फॉल्ट आ गया। जनरेटर से विद्युत आपूर्ति की गई मगर उससे सेंट्रलाइज एसी नहीं चल सके। लिहाजा, नियोनेटिल इंटेंसिव केयर यूनिट (एनआईसीयू), पीडियाटिक इंटेंसिव केयर यूनिट (पीआइसीयू) की दीवारों से पानी फर्श पर फैलने लगा। पांचवें तल पर क्रिटिकल केयर मेडिसिन व रेस्परेटरी मेडिसिन के आईसीयू में भी एसी बंद रहे। ऐसा ही हाल पीडियाटिक इमरजेंसी वार्ड का रहा। इन सभी यूनिटों में सौ के करीब अति गंभीर मरीज भर्ती हैं। शुक्रवार को विद्युत फाल्ट ठीक होने के बाद स्थिति में सुधार आया। हालांकि ट्रॉमा सेंटर की केबिल फॉल्ट सही करने के लिए शताबदी फेज-टू की बिजली ठप हो गई थी।

Pin It