नगर निगम: चेक से पेमेंट का मोह नहीं छोड़ पा रहे अफसर

  • ऑनलाइन व्यवस्था में रुचि नहीं ले रहे अधिकारी
  • नगर आयुक्त के निर्देश के बाद भी धड़ल्ले से हो रहा चेक से पेमेंट
  • कमीशनखोरी के आरोप में तीन बाबुओं के निलंबन के बाद भी नहीं सुधरे हालात

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम के लेखा विभाग पर लम्बे समय से कमीशनखोरी के आरोप लगते रहे हैं। कुछ माह पूर्व तीन बाबू निलंबित भी किए गए लेकिन विभाग में किसी प्रकार का सुधार नजर नहीं आ रहा है। तत्कालीन नगर आयुक्त उदयराज से लेकर लेखाधिकारी निजलिंगप्पा का तबादला हुए कई महीने बीत गए लेकिन पेमेंट की व्यवस्था आज भी पुरानी ही चल रही है। निगम में अभी भी चेक के माध्यम से ही ठेकेदारों का पेमेंट किया जा रहा है।
नगर आयुक्त इन्द्रमणि त्रिपाठी ने एक अगस्त से नगर निगम के सभी भुगतान ऑनलाइन किए जाने के निर्देश दिए थे। जिससे ठेकेदारों समेत अन्य लोगों को लेखा विभाग के चक्कर न लगाने पड़े। कोई भी चेक बाउंस न हो और भुगतान के नाम पर ली जा रही कमीशनखोरी बंद हो। लेकिन लेखा विभाग की मंशा नगर आयुक्त के आदेश के विपरीत नजर आ रही है। नगर निगम में लम्बे समय से भुगतान की व्यवस्था में कोई बदलाव नहीं हो रहा है। यह हाल तब है जब नगर निगम में कमीशनखोरी और कर्मचारियों के छोटे-छोटे पेमेंट रोके जाने के आरोप में तीन बाबू निलंबित हो चुके हैं। ऐसे में पेमेंट की प्रक्रिया में किसी भी प्रकार का बदलाव न होना बड़ा सवाल खड़ा कर रहा है। सूत्रों का कहना है कि नगर निगम में अभी भी कमीशन का खेल चल रहा है।

नगर आयुक्त के निर्देशानुसार ऑनलाइन पेमेंट की व्यवस्था के लिए प्रयास किया जा चुका है। जल्द ही सभी पेमेंट ऑनलाइन किए जाएंगे।
महा मिलिन्द लाल, मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी,नगर निगम

संविदाकर्मियों को नहीं मिल रहा वेतन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। विद्युत वितरण खंड चिनहट के संविदाकर्मी बकाया वेतन का भुगतान कराने को लेकर धरना और प्रदर्शन करने को मजबूर हैं। कर्मचारी नेता सीपी सिंह ने बताया कि संविदाकर्मियों को करीब पांच महीने से वेतन नहीं मिला है। इसके अलावा संविदा कर्मचारी संतोष यादव, शिवकांत विश्वकर्मा, दिनेश कुमार, धर्मपाल, राम सिंह, अर्जुन शर्मा एवं परशुराम ने बताया कि उन्हें मई महीने से वेतन नहीं मिला है। जब तक बाकी वेतन नहीं मिलेगा वे तब तक काम नहीं करेंगे। इस मामले में अधिशासी अभियंता प्रेमचंद ने बताया कि एक माह के बकाया वेतन का भुगतान करने पर संविदाकर्मी काम करने को राजी हो गये हैं। बता दें, विद्युत वितरण खंड चिनहट के संविदाकर्मियों ने इस संबंध में ऊर्जा मंत्री को भी पत्र लिखकर बकाया वेतन का भुगतान करने की मांग की है।

सडक़ हादसे में सिपाही की मौत

  • ड्यूटी पर जाते समय ट्रक ने बाइक समेत कुचला

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। जानकीपुरम थाना क्षेत्र में एक तेज रफ्तार ट्रक ने बाइक सवार सिपाही को कुचल दिया। इस हादसे में सिपाही की मौके पर ही मौत हो गई। हादसा इतना भयंकर था कि टक्कर लगने से सिपाही ट्रक में फंसकर बाइक सहित दूर तक घसीटता चला गया। राहगीरों ने घटना की सूचना पुलिस को दी। साथ ही घटना से आक्रोशित लोगों ने सडक़ जाम कर हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर डेडबॉडी को कब्जे में लिया और भीड़ को समझाबुझाकर शांत कराया।
देवरिया जिला के भाटपाररानी थाना क्षेत्र के जगहथा गांव का रहने वाले सिपाही अखिलेश्वर सिंह (56वर्ष) अपनी बाइक से बाराबंकी ड्यूटी करने जा रहे थे। अखिलेश्वर डॉयल 100 में तैनात थे। आज सुबह जानकीपुरम थाना क्षेत्र के इंजीनियरिंग कॉलेज चौराहे के पास पहुंचे ही थे कि सामने से आ रही तेज रफ्तार ट्रक ने उनकी बाइक में टक्कर मार दी। सिपाही की मौत से उसके घर में कोहराम मचा हुआ है। पुलिस ने कांस्टेबल का शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पुलिस ने ट्रक को कब्जे में लेने के साथ ही चालक को भी गिरफ्तार कर लिया है।

पक्षियों की आजादी की मांग

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। पेटा इंडिया की कैम्पेन कोऑर्डिनेटर आयुषी शर्मा ने पिंजरे में कैद पक्षियों की आजादी को लेकर आज हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा के सामने प्रदर्शन किया। इस दौरान सफेद कपड़े पहने पिंजरे में बंद पक्षी की मुद्रा बनाकर आयुषी ने राजधानी की जनता से पक्षियों को आजाद करने की अपील की। उन्होंने कहा कि खूबसूरत पक्षी अपने पंखों पर हवा महसूस करने के लिए होते हैं, पिंजरों में कष्ट सहने के लिए नहीं। पूरा भारत आजादी का जश्न मना रहा है लेकिन पेटा इंडिया लखनऊ के निवासियों से अनुरोध करता है कि लोग पक्षियों को कैद करने के बजाय एक जोड़ी दूरबीनें खरीदें और उन्हें खुले आकाश में आजाद उड़ते हुए देखें।

Pin It