दूषित पेयजल की सप्लाई से हाहाकार हाथ पर हाथ धरे बैठा जलकल संस्थान

  • पाइप लाइन की लीकेज से चरमराई पेयजल की व्यवस्था
  • एक दर्जन से अधिक क्षेत्रों में रोजाना बर्बाद हो रहा लाखों लीटर पानी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। आधे शहर में गंदे पानी की सप्लाई से हाहाकार मच गया है। वाटर लाइन लीकेज के कारण पेयजल की समस्या पैदा हो गई है। इसके चलते लोगों के घरों में गंदे पानी की सप्लाई हो रही है। वहीं तमाम शिकायतों के बाद भी जलकल संस्थान व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने के बजाए हाथ पर हाथ धरे बैठा है। यह स्थिति तब है जब विभाग मरम्मत के नाम पर लाखों-करोड़ों का बजट खर्च कर रहा है। गंदे पानी की आपूर्ति से लोगों में आक्रोश है और कई स्थानों पर प्रदर्शन किया जा रहा है।
पूरन नगर की दूसरी गली में गंदे व बदबूदार पानी की आपूर्ति से परेशान लोगों ने मंगलवार को सडक़ पर उतरकर प्रदर्शन किया। वहीं सेक्टर एच की एलडीए कॉलोनी में बदबूदार पानी की सप्लाई से लोग परेशान हैं। मकान नंबर एम-3/781 दीपक सेठी ने बताया कि यहां महीनों से गंदा पानी आ रहा है। दुर्विजयगंज चौराहा निवासी वीरेंद्र गुप्ता ने बताया कि दुर्विजयगंज में सीवर जैसा पानी घरों में आ रहा है। पुराना टिकैतगंज निवासियों ने भी बदबूदार पानी की शिकायत की है। सीतापुर रोड स्थित भरतनगर व मोहिबुल्लापुर में पाइप लाइन डैमेज है। इसके कारण लाखों लीटर पानी रोजाना बर्बाद हो रहा है। फैजुल्लागंज और त्रिवेणी नगर के कई मोहल्लों के लोगों के घरों में पिछले एक सप्ताह से पानी की किल्लत हो गई है। कई घरों में पानी की सप्लाई ठप है। क्षेत्रीय लोगों का कहना है कि यहां कई जगह पानी की पाइप लाइन फट चुकी है, जिसके कारण घरों में पानी नहीं पहुंच रहा है। जहां पहुंच रहा है वह बदबूदार है।

Pin It