मौके पर जाकर विकास कार्यों की हकीकत देखें अधिकारी: योगी

  • लापरवाही का मामला सामने आने पर नोडल अधिकारी करें सख्त कार्रवाई

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिलों में विकास के कामों को अच्छे तरीके से कराने के लिए नोडल अधिकारियों को खासी नसीहत दी है। उनका कहना है कि अधिकारी अपने-अपने जिले में हर महीने जाना पक्का करें और वहां विकास के कामों, कानून व्यवस्था व अन्य योजनाओं में गड़बड़ी व लापरवाही बरतने वालों पर सख्त कार्रवाई करें और अपने दौरों की सही-सही रिपोर्ट शासन को समय से भेजें। उनकी रिपोर्ट को सरकार गंभीरता से लेगी।
प्रदेश सरकार ने वरिष्ठ आईएएस अधिकारियों को जिले आवंटित कर उन्हें महीने में दौरा करने व वहां की रिपोर्ट बनाने को कहा है। इन्हीं अधिकारियों के कामकाज की समीक्षा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार शाम लखनऊ लौटने पर की। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी पूरी संवेदनशीलता के साथ जनता की समस्याएं निपटाएं। इस निरीक्षण और भ्रमण के दौरान विशेष उल्लेखनीय तथ्यों और पायी गई कमियों के लिए दोषी अधिकारियों व कर्मचारियों के विरुद्ध कार्रवाई की जाए तथा सुधार के लिए विशिष्ट सुझावों का उल्लेख भी रिपोर्ट में करें। भ्रमण के दौरान पायी गई कमियों का जिले स्तर पर ही समाधान कराया जाए। नोडल अधिकारियों के निरीक्षण में पाई गई कमियों व कठिनाइयों का सभी प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा पूरी तरह समाधान कराया जाए। इस अवसर पर मुख्य सचिव अनूप चन्द्र पाण्डेय, अपर मुख्य सचिव कार्यक्रम क्रियान्वयन दीपक त्रिवेदी, सचिव मुख्यमंत्री मृत्युंजय कुमार नारायण व सभी नोडल अधिकारी मौजूद रहे।

महीने के दूसरे सप्ताह तक हर हाल में करें दौरा

मुख्यमंत्री योगी ने निर्देश दिए हैं कि नोडल अधिकारी जिलों में दौरे का कार्यक्रम हर हाल में महीने के दूसरे सप्ताह तक कर लें। महीने के आखिरी सप्ताह में जिले के प्रभारी मंत्री दौरा करेंगे। बड़ी लागत की दो परियोजनाओं का मौके पर निरीक्षण किया जाएगा। थाना, तहसील, जिला चिकित्सालय, सीएचसी, पीएचसी का दौरा करना होगा। किसी एक गांव का भ्रमण करना होगा। नोडल अधिकारी अपनी रिपोर्ट सीएम कार्यालय भेजेंगे। जो भी फीडबैक होगा उसका समाधान तत्परता से कराया जाएगा।

 

Pin It