राजधानी में तेजी से बढ़ रहे महिला अपराधों ने उड़ाई पुलिस की नींद

  • हत्या, बलात्कार की वारदातों पर नहीं लग पा रही लगाम
  • कई अपराधियों को भेजा गया सलाखों के पीछे

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। राजधानी में महिला अपराधों का ग्राफ तेजी से बढ़ता जा रहा है। बढ़ते अपराधों ने पुलिस की नींद उड़ा दी है। तमाम मुस्तैदी के बावजूद महिलाओं की हत्या, बलात्कार और अपहरण की वारदातों पर लगाम नहीं लग पा रही है। पिछले दिनों ऐसे कई मामले संज्ञान में आए हैं। हालांकि अधिकांश मामलों का खुलासा कर दिया गया है बावजूद स्थितियों में कोई सुधार होता नहीं दिख रहा है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि समाज में जागरूकता से ही ऐसे अपराधों को रोका जा सकता है।
तमाम कवायदों के बावजूद बदमाश महिलाओं को निशाने पर ले रहे हैं। इसके कारण महिलाएं खुद को असुरक्षित महसूस कर रही है। पिछले दिनों एक छात्रा से लूटपाट करने के बाद बदमाशों ने उसकी हत्या कर दी। वहीं एक अन्य महिला से गैंगरेप किया गया। पिछले माह पॉलिटेक्निक की छात्रा संस्कृति राय की ऑटो चालक ने हत्या कर दी। बलिया निवासी संस्कृति यहां किराए के मकान में रहकर पढ़ाई कर रही थी। परीक्षाएं खत्म होने के बाद वह अपने घर बलिया जाने के लिए निकली। स्टेशन पहुंचने के लिए उसने ऑटो लिया था। बताया जाता है कि ऑटो में दो अन्य लोग बैठे थे। ऑटो चालक संस्कृति को स्टेशन ले जाने की बजाए एकांत में ले गया। तीनों ने लूटपाट की और चलती ऑटो से संस्कृति को फेंक दिया। मडियांव के पास वह लहूलुहान हालत में मिली थी। पुलिस ने उसे अस्पताल पहुंचा जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। इस मामले को लेकर तमाम सामाजिक संगठनों ने पुलिस के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया था। इस हत्याकांड में पुलिस ने राजेश नामक ऑटो चालक को धर दबोचा। इसके अलावा अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया।
पीजीआई में प्लॉट दिलाने के नाम पर एक प्रॉपर्टी डीलर ने साथियों के साथ मिलकर महिला से गैंगरेप किया। प्रॉपटी डीलर राम सिंह रावन ने प्लाट दिखाने के लिए एक महिला को अपने कार्यालय बुलाया। वह महिला को अपने साथ एक नवनिर्मित खाली पड़े मकान में ले गया जहां उसने अपने दो साथियों के साथ उसके साथ गैंगरेप किया। महिला ने इसकी जानकारी अपने पति को दी। पीडि़ता ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। इस मामले में पुलिस आज तक आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं सकी है।

महिला का किया सौदा

राजधानी निवासी एक महिला ने मडिय़ाव क्षेत्र में रहने वाले परनदीप कालरा से प्रेम विवाह किया था। शादी के कुछ दिन बाद उसका पति उसे लेकर मुम्बई चला गया। महिला का आरोप है कि वहां पर उसके पति ने अपने दोस्तों के साथ संबंध बनाने की बात की। इसका विरोध करने पर उसने जबरन उसका सौदा अपने एक दोस्त से कर दिया और वहां से चला आया। महिला का आरोप है कि उसके दोस्त ने उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया। वह वहां से किसी तरह छूटकर भागी। महिला का आरोप है कि अपने साथ हुई इस घटना की शिकायत लेकर वह मडिय़ांव थाने गयी जहां से उसको लौटा दिया गया। महिला ने पुलिस के उच्चाधिकारियों से फरियाद की। इसके बाद महिला थाने मेंं मामला दर्ज हुआ। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

उन्नाव में गैंगरेप

उन्नाव के गंगाघाट जनपद में बदमाशों ने एक महिला के साथ गैंगरेप किया। बदमाश महिला को खींचकर जंगल की ले गये और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। यही नहीं बदमाशों ने इस पूरे घटनाक्रम का वीडियो बनाया। इस मामले में जब महिला थाने पहुंची तो वहां मारपीट का मामला दर्ज कर उसे टरका दिया गया लेकिन जैसे ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ पुलिस हरकत में आई और तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

जो भी वारदातें हो रही हैं पुलिस उनका खुलासा कर रही है और अपराधियों को सलाखों के पीछे भेजा जा रहा है। बलात्कार जैसे मामलों में अधिकांशत: परिचित ही आरोपी निकलते हैं। ऐसे अपराधों के प्रति समाज को जागरूक होने की जरूरत है।
आनंद कुमार, एडीजी कानून-व्यवस्था

 

Pin It