एकमुश्त बकाया हाउस टैक्स जमा करने पर सरकारी विभागों को ब्याज में मिलेगी राहत

  • आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए नगर निगम ने शुरू की कवायद
  • सरकारी विभागों पर बकाया है 500 सौ करोड़ से ज्यादा हाउस टैक्स
  • कार्यकारिणी में प्रस्ताव पास होने के बाद लागू होगी योजना

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। नगर निगम अपनी आर्थिक स्थिति सुधारने के लिए सरकारी विभागों को बकाया हाउस टैक्स जमा करने का सुनहरा मौका देने की तैयारी कर रहा है। अब सरकारी विभागों को एकमुश्त टैक्स जमा करने पर ब्याज में छूट दी जाएगी। इसके लिए नगर निगम की कार्यकारिणी में ब्याज माफी का प्रस्ताव लाया जाएगा।

सरकारी विभागों पर नगर निगम का 500 करोड़ रूपये से अधिक का हाउस टैक्स बकाया है लेकिन सरकारी विभाग टैक्स जमा नहीं कर रहे हैं। नगर निगम के टैक्स को लेकर कई विभागों ने आपत्ति भी दर्ज की है। इन सभी तरह के विवादों को सुलझाते हुए नगर निगम सरकारी विभागों से टैक्स जमा कराएगा। इसके लिए ब्याज में छूट दी जाएगी। इस योजना से सबसे ज्यादा लाभ नगर निगम के जोन-एक को होगा। इस जोन में सबसे ज्यादा सरकारी संपत्तियां हैं। जिन पर हाउस टैक्स के रूप में नगर निगम का करोड़ों बकाया है। अगर राज्य संपत्ति विभाग की बात करें तो इस विभाग की विभिन्न संपत्तियों पर लगभग 50 करोड़ रूपये हाउस टैक्स बकाया है। अफसरों का कहना है कि अगर कार्यकारिणी में प्रस्ताव पास हो जाता है तो यह स्कीम शुरू कर दी जाएगी।

आम जनता को राहत नही

निगम अफसरों ने बताया कि आम जनता के लिए अभी कोई स्कीम नहीं है लेकिन आने वाले दिनों में उन टैक्सदाताओं पर विचार किया जाएगा, जिनका दशकों पुराना टैक्स बकाया है। उनको ओटीएस के तहत टैक्स जमा करने का मौका देने पर विचार किया जाएगा।

सरकारी विभागों को एकमुश्त बकाया हाउस टैक्स जमा करने पर ब्याज में छूट देने के लिए कार्यकारिणी में प्रस्ताव रखे जाने की तैयारी है।
डॉ. इन्द्रमणि त्रिपाठी, नगर आयुक्त

आपदा से निपटने के लिए सबको आना होगा आगे: प्रो. भट्टï

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। किंग जार्ज चिकित्सा विश्वविद्यालय के कलॉम सेंटर में आपदा की तैयारी एवं प्रबंधन पर एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन मंगलवार को किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि प्रो. एमएलबी भट्ट ने किया।

प्रो. भट्ट ने कहा कि किसी भी आपदा का सामना केवल सरकारी तंत्र के बदौलत नहीं किया जा सकता। सभी साथ मिलकर आपदा का सामना कर सकते हैं। कार्यक्रम में ट्रॉमा सर्जरी विभाग के विभागाध्यक्ष प्रो. संदीप तिवारी ने कहा कि विश्व में लगातार हो रहा जलवायु परिवर्तन हाइड्रो-मेट्रोलॉजिकल खतरों के परिमाण और उसकी आवर्ती को भी बढ़ाएगा। किसी भी प्रकार की आपदा से निपटने के लिए समाज और समाज के लोगों को भी प्रशिक्षित करना चाहिए जिससे समाज के लोग आपदा से निपटने एवं राहत कार्यों में सहयोग प्रदान कर सके।

तीन अवैध निर्माण होंगे ध्वस्त

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। अवैध निर्माण के खिलाफ मंगलवार को एलडीए के विहित प्राधिकारी विश्वभूषण मिश्र ने तीन निर्माणों को ध्वस्त करने के आदेश जारी किए। ये तीनों निर्माण गोमतीनगर में किए जा रहे हैं। इनमें विकल्पखंड में श्रवण कुमार सिंह, निजामपुर मल्हौर में सुधीर श्रीवास्तव और विनयखंड में गिरजाशंकर त्रिपाठी का अवैध निर्माण शामिल हैं।

 

Pin It