अब ठ्ठह्म्द्ब ट्विटर के जरिए पुलिस की ले सकेंगे मदद

  • डीजीपी ओपी सिंह ने शुरू किया ट्विटर हैंडल
  • हर हफ्ते दो भ्रष्ट पुलिसवालों को पकडऩे का लक्ष्य

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। अब विदेशों में रहने वाले उत्तर प्रदेश के एनआरआई पुलिस से ट्विटर के जरिए मदद मांग सकेंगे। डीजीपी ओपी सिंह ने मंगलवार को एनआरआई के लिए ट्विटर हैंडल ञ्चक्कक्कशद्यहृक्रढ्ढ की शुरुआत की। इस ट्विटर हैंडल व यूपी पुलिस से जुड़ी अन्य नागरिक सेवाओं की जानकारी देने के लिए हर ऐसे देश में यूपी पुलिस एक को-ऑर्डिनेटर बनाएगी, जहां यूपी के लोग काफी संख्या में रहते हैं। योजना के मुताबिक को-ऑर्डिनेटर लोगों को यूपी पुलिस की सेवाओं के बारे में जागरूक करेंगे। इसके अलावा डिजिटल वॉलंटियर भी बनाए जाएंगे। ये लोग भी प्तहृक्रढ्ढष्ठङ्कक्कक्क के साथ ट्वीट कर सकते हैं।

को-ऑर्डिनेटर और डिजिटल वॉलंटियर एनआरआई का डेटाबेस और सामाजिक रूप से सक्रिय एनआरआई का वॉट्स ऐप ग्रुप बनाएंगे। ग्रुप के जरिए उन्हें यूपी पुलिस की नागरिक सेवाओं के बारे में बताने के साथ यूपी के बारे में झूठी खबरों और अफवाहों का खंडन करेंगे। इसके अलावा डीजीपी ओपी सिंह ने भ्रष्टाचार निवारण संगठन को हर सप्ताह दो भ्रष्ट पुलिसवालों को ट्रैप कर पकडऩे का लक्ष्य निर्धारित किया है। उन्होंने बताया कि इस साल अब तक 29 पुलिसवालों को रिश्वत लेते पकड़ा गया है। इस मौके पर दिल्ली से आईं ट्विटर की अधिकारी महिमा कौल, डीआईजी कानून एवं व्यवस्था प्रवीण कुमार और डीजीपी के जनसंपर्क अधिकारी एएसपी राहुल श्रीवास्तव मौजूद रहे।

 

Pin It