अनियोजित कॉलोनियां हो सकती हैं वैध

शहर में अनियोजित तरीके से लगभग 400 कालोनियां हो चुकी हैं विकसित
शमन शुल्क वसूल कर अवैध निर्माणों को भी कर सकता है वैध

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। एलडीए शहर की अनियोजित कॉलोनियों को वैध करेगा। इसके लिए शासन के निर्देश पर एलडीए व्यावहारिक प्रस्ताव बनाकर शासन को भेजेगा। यही नहीं एलडीए अवैध निर्माणों को वैध करने के लिए व्यावहारिक शमन शुल्क वसूलने का प्रस्ताव तैयार कर रहा है। इसी के तहत अनियोजित कॉलोनियां विकास शुल्क लेकर वैध की जाएंगी। प्रस्ताव तैयार करने के लिए मास्टर प्लॉन में अवैध तौर पर चिह्नित कॉलोनियों के सर्वे की तैयारी की जा रही है।

शहर में ऐसी लगभग 400 कॉलोनियां हैं, जो अनियोजित तरीके से विकसित हो चुकी हैं। अवैध निर्माणों को वैध करने के लिए एलडीए फिर से शमन योजना ला सकता है। सूत्रों की मानें तो इस बार शमन योजना में कुछ बदलाव किया जा रहा है। मानचित्र से कुछ ज्यादा निर्माण करने वालों को भी इस श्रेणी में जगह मिल सकती है। इसके साथ शमन शुल्क घटाया भी जा सकता है। एलडीए पहले भी अवैध निर्माणों को वैध करने का प्रस्ताव तैयार कर चुका है। इसमें पास नक्शे से इतर आवासीय निर्माण पर 25 प्रतिशत और कमर्शियल निर्माण पर 50 प्रतिशत तक शुल्क लेने का प्रस्ताव था। सेटबैक न छोडऩे पर आवासीय प्लॉटों पर डीएम सर्किल रेट का 150 प्रतिशत व कमर्शियल निर्माण पर 300 प्रतिशत तक शुल्क वसूलने की बात कही गई थी। गौरतलब है कि बीते दिनों शासन स्तर पर अनियोजित रूप से बनी कॉलोनियों को वैध करने का प्रस्ताव पास हुआ था।

Pin It