राज्य स्तरीय समिट में तैयार होगा जिलों के विशेष उत्पादों की ब्रांडिंग का खाका

  • इन्वेस्टर्स समिट में हुए एमओयू को प्रभावी ढंग से किया जाएगा लागू
  • रोजगार सृजन के लिए मुद्रा योजना के तहत दिया जाएगा ऋण

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। एक जिला, एक उत्पाद योजना को जमीन पर उतारने और इसके जरिए प्रदेश में रोजगार सृजन करने के लिए जल्द ही राज्य स्तरीय समिट का आयोजन किया जाएगा। इस समिट में उत्पादों की ब्रांडिंग का खाका तैयार किया जाएगा। साथ ही उद्यमियों को प्रोत्साहित करने के लिए मुद्रा योजना के तहत ऋण भी उपलब्ध कराया जाएगा।
प्रदेश के सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यम मंत्री सत्यदेव पचौरी ने कहा है कि एक जिला एक उत्पाद योजना को धरातल पर उतारने के लिए शीघ्र ही राज्य स्तरीय समिट का आयोजन किया जायेगा। इस समिट में लघु उद्योग विशेषज्ञों एवं उद्यमियों को विशेष रूप से आमंत्रित किया जायेगा और इसमें प्राप्त सुझावों का कार्यान्वयन किया जाएगा ताकि उत्पादों की ब्रांडिंग अन्तरराष्ट्रीय स्तर पर की जा सके। उन्होंने कहा कि योजना राज्य सरकार की महात्वाकांक्षी योजना है और इसके क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की उदासीनता और लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री युवा स्वरोजगार योजना तथा अन्य रोजगारपरक योजना के तहत प्रदेश सरकार ने आगामी चार वर्षों में 20 लाख लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है। इन योजनाओं के तहत एक वर्ष में पांच लाख लोगों को रोजगार से जोड़ा जायेगा। मुद्रा योजना के तहत आगामी 27 मई को 10 हजार लोगों को उद्यम स्थापना के लिए ऋण प्रदान किया जायेगा। प्रत्येक जिले में ऋण शिविरों का आयोजन किया जाय और कम से कम 1000 लोगों को प्रतिमाह रोजगार उपलब्ध कराया जाय। उन्होंने इन्वेस्टर्स समिट के दौरान हुए एमओयू को प्रभावी ढंग से क्रियान्वित करने का निर्देश भी दिया।

निवेश मित्र योजना पर भी फोकस

मंत्री ने बैठक में कहा कि निवेश मित्र योजना का व्यापक रूप से प्रचार-प्रसार सुनिश्चित किया जाय, ताकि उद्यमियों को इसके बारे में विधिवत जानकारी हो सके। भारत सरकार की योजनाओं के बेहतर संचालन के लिए एक समित बनाई जाय। इसके साथ ही योजना के क्रियान्वयन के लिए भी कमेटी का गठन किया जाय। बैठक में आयुक्त एवं निदेशक के रविन्द्र नायक, विशेष सचिव लघु उद्योग पवन कुमार सहित विभिन्न मंडलों तथा जनपदों के वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया। 

Pin It