सीएम योगी झांसी को दे सकते हैं बड़ी सौगात

  • डिफेंस कॉरिडोर पर रक्षा मंत्री व रक्षा कंपनियों के साथ करेंगे बैठक

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ झांसी मण्डल के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उन्होंने आज दतिया में बगलामुखी मंदिर में मां पीताम्बरा शक्तिपीठ के दर्शन किए। सीएम यहां से झांसी चले गये। जहां वह जनसभा में भाग लेने के साथ ही डिफेंस कॉरिडोर को लेकर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण व रक्षा कंपनियों के साथ बैठक करेंगे। इस बैठक में रक्षा कॉरीडोर को लेकर कोई बड़ा फैसला आने की उम्मीद की जा रही है।
मुख्यमंत्री के झांसी मंडल में दौरे की शुरुआत ललितपुर से होगी। यहां मुख्यमंत्री झांसी और ललितपुर जनपद में चल रहीं योजनाओं की समीक्षा करेंगे। इसके बाद चित्रकूट चले जाएंगे। वहां शाम को लगभग पांच बजे सीएम चित्रकूट मंडल की समीक्षा करने के बाद रात्रि विश्राम करेंगे और कल सुबह जालौन आ जाएंगे।
इसके बाद उनका झांसी आगमन होगा। यहां क्राफ्ट मेला मैदान पर जनसभा को संबोधित करने के साथ ही मुख्यमंत्री डिफेंस कॉरिडोर के साथ ही अनेक योजनाओं की घोषणा करेंगे। झांसी में मुख्यमंत्री के साथ रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी आएंगी, तो रक्षा उत्पाद बनाने वाली देश की नामचीन आधा दर्जन रक्षा कंपनियों के सीएमडी व जीएम भी झांसी आएंगे।
गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा डिफेंस कॉरिडोर बनाए जाने की घोषणा करने के बाद से ही हलचल तेज होने लगी थी, जिन्हें अब मुकाम मिलने जा रहा है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ झांसी से इसकी विधिवत घोषणा करेंगे तो कंपनियों के अधिकारियों से चर्चा कर डिफेंस कॉरिडोर का स्वरूप भी तय करेंगे। जानकारों के मुताबिक कॉरिडोर के लिए गरौठा में पांच हजार हेक्टेयर जमीन चिन्हित की जा चुकी है।

नगर आयुक्त ने किया क्रिकेट प्रतियोगिता का शुभारम्भ

 4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम की ओर से आज केडी सिंह बाबू स्टेडियम में क्रिकेट प्रतियोगिता आयोजित की गई। प्रतियोगिता का पहला मैच महापौर एकादश और पत्रकार एकादश के बीच हुआ। इस अवसर पर नगर आयुक्त उदराज सिंह ने मैदान में पहुंच कर दोनों ही टीमों के खिलाडिय़ों से मुलाकात की। उन्होंने पार्षदों और पत्रकारों को खेल भावना के साथ मैच खेलने की सलाह दी। नगर निगम की ओर से आयोजित प्रतियोगिता का नोडल अधिकारी मुख्य कर निर्धारण अधिकारी अशोक सिंह को बनाया गया है। इस प्रतियोगिता का उद्घाटन महापौर को करना था लेकिन वह समारोह में नहीं पहुंच सकी। आज आयोजित मैच में महापौर एकादश न टॉस जीत कर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लिया। महापौर एकादश ने निर्धारित 25 ओवर में 223 रन बनाये। वहीं पत्रकार एकादश की टीम ने लक्ष्य का पीछा करते हुए दोपहर 12:30 बजे तक 15 ओवर में 114 रन बनाए थे। सुधीर तिवारी 65 रन बनाकर पिच पर जमे थे।

बलरामपुर अस्पताल में धड़ल्ले से चल रहा प्राइवेट प्रैक्टिस का खेल

  • अस्पताल के डॉक्टर ने मरीज का ऑपरेशन टाला
  • निजी अस्पताल में ऑपरेशन कराने को किया मजबूर
  • मरीज ने निदेशक को पत्र लिखकर की शिकायत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। बलरामपुर अस्पताल में सरकारी डॉक्टर्स की निजी प्रैक्टिस का धंधा कम होने का नाम नहीं ले रहा है। ताजा मामला मारपीट में घायल मरीज अरुन कुमार का है, जिससे सर्जन आईसरन ने दो हजार रुपये लेकर निजी अस्पताल में जबरन ऑपरेशन कराने का दबाव बनाया। मरीज और उसके परिजनों ने बलरामपुर अस्पताल के निदेशक को पत्र लिखकर डॉक्टर पर आरोप लगाया है।
बाराबंकी में ख्वाजापुर पोस्ट निवासी अरुण कुमार का कहना है कि निजी अस्पताल में ऑपरेशन न कराने पर डॉक्टर ने उन्हें जबरन पीजीआई और ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। मरीज के तीमारदार ने स्वास्थ्य मंत्री, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य, महानिदेशक और निदेशक को चिट्ठी लिखकर मामले की शिकायत की है।
पीडि़त के मुताबिक 29 मार्च को सर्जन आईसरन ने मरीज को बलरामपुर अस्पताल में देखने के बाद निरालानगर स्थित अपनी प्राइवेट क्लीनिक में आने के लिए कहा था। जब मरीज को लेकर परिजन वहां पहुंचे और डॉक्टर ने सीटी स्कैन देखा तो तत्काल ऑपरेशन कराने की सलाह दी। इसके बाद मरीज को सेन्टर ऑफ न्यूरो साइन्सेज एवं ट्रामा सेंटर इंदिरा नगर में लाने का निर्देश दिया। परिजनों से कहा कि मरीज का ऑपरेशन वहीं किया जाएगा। बलरामपुर अस्पताल में ऑपरेशन करना सम्भव नहीं है।
जब तीमारदार ने निजी अस्पताल में ऑपरेशन कराने से मना कर दिया तो डॉक्टर ने उसे जबरन ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। इसलिए तीमारदार ने निदेशक को चिट्ठी लिखकर आरोपित डॉक्टर के खिलाफ शिकायत कर कार्रवाई की मांग की है। इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री, प्र्रमुख सचिव स्वास्थ्य और महानिदेशक को भी चिट्ठी लिखी है। निदेशक ने कार्रवाई करने के बजाय मामले को दबा दिया है।

मेरे पास शिकायत आयी थी। इस मामले की जांच चल रही है। जांच पूरी हो जाने के बाद ही कार्रवाई की जाएगी।
डॉ. राजीव लोचन, निदेशक , बलरामपुर अस्पताल

देश की सुरक्षा के लिए प्रतिबद्ध है सरकार: मोदी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। तमिलनाडु के महाबलीपुरम में डिफेंस एक्सपो 2018 के उद्घाटन के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि मैं महान चोलों के देश में बहुत खुश हूं, जिन्होंने व्यापार और शिक्षा के माध्यम से भारत की ऐतिहासिक सभ्यता के संबंध स्थापित किए। पीएम मोदी ने कंपनियों का स्वागत करते हुए कहा कि मैं बहुत खुश हूं कि इस बार इस प्रदर्शनी में 500 से अधिक भारतीय कंपनियां भाग ले रहीं है जबकि डेढ़ सौ से अधिक विदेशी कंपनियां हिस्सा ले रही हैं।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डेफ एक्सपो के दौरान एक्सपो में शामिल सभी कंपनियों की दिल से सराहना की। इसे देश के लिए एक बड़ी उपलब्धि बताया। उन्होंने कहा कि हमारी कोशिश लोगों को बचाना और शांति स्थापित करना है। इसके लिए हम अपनी सैन्य ताकतों का हर तरह से साथ देने के लिए तैयार हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने हथियार मैन्यूफैक्चरिंग के क्षेत्र में काफी काम किया है। पिछले कुछ समय में हमने डिफेंस मैन्यूफैक्चरिंग के लाइसेंस देने, एफडीआई, एक्सपोर्ट आदि को लेकर काफी कदम उठाए गए हैं। इस दौरान रक्षा प्रणालियों और इनके कलपुर्जो के निर्यात में भारत की क्षमता को दर्शाया जाएगा।

आंधी-तूफान के कारण ताजमहल का पिलर टूटा

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
आगरा। ताजनगरी में बुधवार को देर रात आए आंधी-तूफान ने काफी तबाही मचाई। इसके कारण विश्व की सबसे खूबसूरत इमारत ताजमहल को भी खासा नुकसान हुआ है। भारी बारिश और आंधी की वजह से ताजमहल परिसर में स्थित एक पिलर का हिस्सा टूट कर गिर गया है। इस हादसे में किसी के हताहत होने की सूचना नहीं मिली है।
जानकारी के मुताबिक ताजमहल के एंट्री गेट के एक पिलर का हिस्सा आंधी-तूफान में गिर गया। तेज हवा के साथ आई भारी बारिश की वजह से ताजमहल के रॉयल गेट पर करीब 12 फिट ऊंचा पिलर टूटकर गिर गया। दक्षिणी गेट के ऊपर लगा आठ फुट ऊंचा पिलर भी टूट गया। सरहिंदी बेगम (सहेली बुर्ज) के मकबरे की छत का गुलदस्ता नीचे आ गया। परिसर में लगे कई पेड़ धराशायी हो गए हैं। इसके अलावा ताज के कई अन्य हिस्सों और परिसर में लगे उद्यान को क्षति पहुंची है। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण की टीम ने आज सुबह मौके पर पहुंचकर हालात का जायजा लिया। वहीं नुकसान की फोटोग्राफी भी कराई है।

इतिहास हमें कभी माफ नहीं करेगा: जस्टिस कुरियन

  • कॉलेजियम की सिफारिशों को लेकर केंद्र के रवैये पर जताई नाराजगी

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के जजों के बीच कायम गतिरोध खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस जे. चेलामेश्वर के सवाल उठाने के बाद अब जस्टिस कुरियन जोसेफ ने भी चीफ जस्टिस को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कॉलेजियम की सिफारिशों पर केंद्र सरकार के रवैए को लेकर नाराजगी जताई है।
जस्टिस जोसेफ ने लिखा है कि महीनों पहले की गई कॉलेजियम की सिफारिशों पर सरकार कार्रवाई करने के बजाय चुपचाप फाइल दबाए बैठी है। अब समय आ गया है इस बाबत सुप्रीम कोर्ट सरकार से सवाल पूछें क्योंकि सुप्रीम कोर्ट की साख भी दांव पर लगी है। आगे उन्होंने लिखा कि जस्टिस कर्णन के मामले की तरह तुरंत सात जजों की पीठ का गठन कर आदेश जारी करने की जरूरत है। अगर अब भी हम यानी कोर्ट चुप बैठा रहा तो इतिहास हमें कभी माफ नहीं करेगा। जस्टिस जोसफ ने जस्टिस के एम जोसफ और इंदु मल्होत्रा को सुप्रीम कोर्ट का जज नियुक्त करने की सुप्रीम कोर्ट कॉलेजियम की फरवरी में भेजी सिफारिशों पर सरकार की चुप्पी और निष्क्रियता पर निशाना साधते हुए इसे सबसे बड़ी अदालत के अधिकार और शक्ति को दी जा रही चुनौती बताया है।

प्रदर्शन

कांग्रेस ने यूपी की बदहाल कानून व्यवस्था और उन्नाव में रेप प्रकरण को लेकर आज राजधानी में हल्ला-बोल प्रदर्शन किया। पार्टी कार्यकर्ताओं ने बैरीकेडिंग फांद कर हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा और उसके आसपास के क्षेत्रों में हंगामा किया और सरकार विरोधी नारे लगाये। पुलिस को भी काफी मशक्कत करनी पड़ी।

गोदाम में आग

सआदतगंज के वजीरगंज क्षेत्र में ई-रिक्शा गोदाम में आग लगने से हडक़ंप मच गया। गोदाम में रखे काफी रिक्शे जलकर खाक हो गये। फायर ब्रिगेड की टीम ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया।

Pin It