महाधिवेशन में राहुल ने मोदी पर बोला सीधा हमला, भाजपा ने कहा हताश हो गयी है कांग्रेस

आठ साल बाद हो रहा है कांग्रेस का महाधिवेशन, तय होगी 2019 के लोकसभा चुनाव की रणनीति
पार्टी अध्यक्ष राहुल ने कहा, बांटा जा रहा है देश को, जोडऩे का काम करती है कांग्रेस

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

नई दिल्ली। कांग्रेस महाधिवेशन में आज पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला। राहुल ने उद्घाटन भाषण के दौरान कहा कि आज देश में गुस्सा फैलाया जा रहा है, देश को बांटा जा रहा है। हिंदुस्तान के एक व्यक्ति को दूसरे से लड़वाया जा रहा है। हमारा काम जोडऩे का है। कांग्रेस का निशान ही देश को जोड़ कर रख सकता है। वहीं दूसरी ओर भाजपा ने कहा कि लगातार हार से कांग्रेस हताश हो चुकी है।
राहुल ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि हम अपने सीनियर नेताओं को नहीं भूलते हैं। हमारे पार्टी के नेता जैसे मनमोहन सिंह पार्टी के लिए लड़ते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि यह महाधिवेशन भविष्य की बात कर रहा है, बदलाव की बात कर रहा है। हमारा काम सीनियर नेताओं और युवाओं को जोडऩे का है, सबको राह दिखाने का काम है। कांग्रेस पार्टी अपने दिग्गज नेताओं और युवाओं के समर्थन से आगे बढ़ेगी। हम पीछे की बात नहीं भूलते हैं। हम सबको साथ लेकर चलते हैं। मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि मोदी सरकार में लोगों को ये बात समझ नहीं आती कि उन्हें रोजगार कब मिलेगा, किसानों को उनके हक कब मिलेंगे? राहुल ने कहा कि देश को सिर्फ कांग्रेस पार्टी ही रास्ता दिखा सकती है। कांग्रेस पार्टी में और विपक्ष में क्या फर्क है? एक फर्क है कि वह गुस्से का प्रयोग करते हैं, हम प्यार का और भाईचारे का प्रयोग करते है। चाहे कुछ भी हो जाए, ये देश हम सबका है, हर जाति का है, हर धर्म का है। कांग्रेस पार्टी जो भी करेगी, वह सबके लिए करेगी। किसी को पीछे नहीं छोड़ेगी।

चार प्रस्ताव किए जाएंगे पारित

इस महाधिवेशन में कांग्रेस पार्टी अगले पांच साल की दशा-दिशा तक करेगी और इस दौरान आर्थिक एवं विदेशी मामलों सहित चार अहम प्रस्ताव पारित किये जाएंगे। यह महाधिवेशन इसलिए भी खास है क्योंकि यह 8 साल बाद हो रहा है। इनमें राजनीतिक, आर्थिक, विदेशी मामलों तथा कृषि, बेरोजगारी एवं गरीबी उन्मूलन के विषय शामिल होंगे। पार्टी प्रत्येक क्षेत्र के बारे में अपना दृष्टिकोण रखेगी और वर्तमान परिदृश्य से उसकी तुलना की जाएगी। दो दिन के गहन विचार-विमर्श सत्र में राजनीतिक स्थिति सहित दो प्रस्तावों को पहले दिन लिया जाएगा। अंतिम दिन दो प्रस्तावों पर विचार होगा जिनमें बेरोजगारी से संबंधित प्रस्ताव होगा। महाधिवेशन की मुख्य नजर 2019 में होने वाले आम चुनाव पर होगी। इस महाधिवेशन में पहली कतार में सोनिया गांधी, मल्लिकार्जुन खडग़े और मनमोहन सिंह सहित बड़े नेता मौजूद रहे।

राहुल गांधी जब से कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बने हैं निर्दलीय प्रत्याशियों से भी कम वोट कांग्रेस हर जगह पर पा रही है। पहले वह पार्टी के अंदर अपनी स्वीकार्यता तय करें उसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जैसे नेता पर कोई टिप्पणी करें। यह राहुल गांधी नहीं बल्कि उनके अंदर की हताशा बोल रही है।
-शलभ मणि त्रिपाठी भाजपा प्रवक्ता

योगी सरकार को जनता ने दिया रिटर्न गिफ्ट: अखिलेश यादव

सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने प्रदेश सरकार पर साधा निशाना
अब सीएम योगी करने लगे है विकास की बात

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एक बार फिर प्रदेश सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि उपचुनाव का असर दिखने लगा है। गठबंधन से राजनीतिक फायदा किसको होगा और कितना होगा यह अलग बात है लेकिन अब मुख्यमंत्री विकास की दिशा में जा रहे हैं। वह स्टैंड अप इंडिया और डिजिटल इंडिया की बात कर रहे हैं। हम पहले ही कहते थे कि अगर उत्तर प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले जाओगे तो लोगों को ज्यादा लाभ मिलेगा लेकिन उनकी भाषा कुछ और थी लेकिन अब वे विकास कार्यों पर चर्चा कर रहे हैं। सपा के राष्टï्रीय अध्यक्ष आज पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि 11 मार्च को सरकार का एक साल पूरा हुआ था। 11 मार्च को रिजल्ट आया था और गोरखपुर की जनता ने उन्हें 11 मार्च को ही रिटर्न गिफ्ट दे दिया। जनता के सामने भारतीय जनता पार्टी ने अधिक वादे किए पर एक वादे पर केंद्र सरकार खरी नहीं उतरी। उनकी कल बीटीसी छात्रों से मुलाकात हुई थी। उनकी प्रक्रिया पूरी हो चुकी है लेकिन उन्हें नियुक्ति पत्र नहीं दिया जा रहा है। मैं मुख्यमंत्री जी से कहना चाहता हूं अपने लोगों को नौकरी दे दीजिए सब की लिस्ट निकाल दीजिए। छात्रों पर लाठीचार्ज हुआ। जांच के बहाने बीटीसी छात्रों के भविष्य को अंधकार में डाला जाएगा यह कौन सा न्याय है। उनको नौकरियां दे दीजिए। मुझसे मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री ने छात्रों से भी मुलाकात की।

Pin It