एलडीए के अफसर दबाए बैठे हैं फाइल, स्कैनिंग ठप

निजी संस्था को नहीं उपलब्ध करा रहे फाइलें
शिकायत मिलने के बाद सचिव ने कसे अफसरों के पेंच

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। एलडीए में फाइलों की सुरक्षा के लिए कराया जा रहा स्कैनिंग का काम ठप हो गया है। अफसरों की ओर से निजी संस्था को स्कैनिंग के लिए फाइलें पहुंचाने में हीलाहवाली की जा रही है, जिसके चलते फाइलों की स्कैनिंग का कार्य नहीं हो पा रहा है। निजी संस्था ने अफसरों द्वारा फाइलें मुहैया नहीं कराने की जानकारी पत्र द्वारा एलडीए सचिव को दी गई है। इस पर सचिव ने अफसरों को कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं।

एलडीए के लालबाग कार्यालय में निजी संस्था द्वारा विभिन्न फाइलों की स्कैनिंग का कार्य किया जा रहा है। फाइलों की स्कैंनिग के लिए संस्था ने एलडीए के अफसरों केसीएम सिंह और डीएम कटियार को पत्र भेज कर 500-500 फाइलों की मांग की गई थी लेकिन स्कैनिंग के लिए फाइलें नहीं मिली। लिहाजा फाइलों के स्कैंनिग का काम ठप हो गया है। यही नहीं, एलडीए के लालबाग स्थित रिकार्ड रूम में भी फाइलें खत्म हो चुकी हैं। इस मामले में संस्था द्वारा सचिव से शिकायत की गई तो सचिव ने संबंधित अफसरों के पेंच कसते हुए आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए।

संपत्तियों की होगी नीलामी
लखनऊ। (4पीएम न्यूज़ नेटवर्क) एलडीए एक बार फिर करीब दो सौ सम्पत्तियों की नीलामी की तैयारी कर रहा है। एक महीने पहले भी एलडीए ने इन सम्पत्तियों की नीलामी की थी लेकिन गोमतीनगर के अलावा किसी और जगह की संपत्तियों को कोई खास खरीदार नहीं मिले थे। संयुक्त सचिव डीएम कटियार ने बताया कि इस बार नीलामी 21 मार्च को कराई जाएगी। एलडीए की जानकीपुरम योजना, कानपुर रोड योजना, महानगर योजना और प्रियदर्शिनी योजना में ऐसी कई संपत्तियां हैं जो खाली पड़ी हैं। इसके अलावा कमर्शियल भूखंड भी एलडीए की इन योजनाओं में हैं। ये संपत्तियां गोमती नगर योजना, गोमती नगर विस्तार योजना, कानपुर रोड योजना, ट्रांसपोर्ट नगर योजना, शारदा नगर योजना, सोनिया गांधी नगर योजना, जानकीपुरम योजना, जानकीपुरम विस्तार येाजना, सीतापुर रोड योजना, अलीगंज योजना, टिकैतराय योजना समेत प्रियदर्शिनी येाजना में है।

Pin It