बंग्ला भाषा पर संगोष्ठी का आयोजन

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। लखनऊ बंगीय नागरिक समाज ने 19वें अन्तरराष्ट्रीय मातृभाषा दिवस पर बुधवार को बंग्ला भाषा पर संगोष्ठी का आयोजन किया। स्ंागोष्ठी में आर.के.चटर्जी ने कई बंग्ला गीत प्रस्तुत किए। मानसी दत्ता और रत्ना बापुली ने कविता पाठ किया। पार्थो सेन ने कहा कि ईश्वर चन्द्र विद्यासागर ने बंग्ला भाषा में महत्वपूर्ण काम किया। आज विश्व में 23 करोड़ लोग बंग्ला भाषा बोलते हैं। ये विश्व की छठी भाषा है और भाषाओं में इसको सबसे मीठी भाषा माना गया है। प्रकाश कुमार दत्ता ने सबके प्रति आभार प्रकट किया और राजधानी में बंगाली अकादमी को स्थापित करने की मांग की। बंग्ला भाषा को स्थापित करने के लिए 1945 से 1952 तक बांग्लादेश तथा भारत में हुए आन्दोलनों के शहीदों के प्रति श्रद्वांजलि अर्पित किया। राष्ट्रगान के साथ कार्यक्रम समाप्त हुआ।

Pin It