राजधानी में जनसमस्याओं के समाधान के लिए नगर निगम ने तेज की कवायद

हर मंगलवार को जोनल कार्यालयों में होगी जनसुनवाई, समीक्षा
मूलभूत सुविधाओं के विस्तार का लिया गया निर्णय

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम कार्यकारिणी की बैठक के निर्णय के अनुसार अब हर मंगलवार को दो जोनल कार्यालयों में समीक्षा बैठक होगी। क्षेत्र में होने वाले कार्यों की समीक्षा के साथ ही जनता की समस्याओं का समाधान भी हो सकेगा। इसके अलावा जनता की सुविधा को ध्यान में रखते हुए 11 करोड़ की लागत से शहर भर में 110 आदर्श मोहल्ले बनाए जाएंगे। यहां मूलभूत सुविधाएं जैसे सडक़ें, जल निकासी की व्यवस्था, सीवर, कूड़ा निस्तारण, पार्क में कम्पोस्ट आदि की सुविधाएं होंगी। इनकी मॉनीटरिंग खुद मेयर स्तर से की जाएगी।
कार्यकारिणी की बैठक में पार्षदों के कोटे में 10 लाख की वृद्धि हुई है। अब पार्षदों को अपने क्षेत्र में काम कराने के लिए 95 लाख तक का बजट मिलेगा। हालांकि इन 10 लाख से हर वार्ड में एक आदर्श मोहल्ला बनाया जाएगा। ये निर्णय सोमवार को 6 घंटे चली नगर निगम की कार्यकारिणी समिति की बैठक में लिया गया।
इस दौरान शहर के सौन्दर्यीकरण के लिए 22 अरब 81 करोड़ का बजट भी पेश हुआ। निगम की ओर से वर्ष 2018.19 के लिए करीब 22 अरब 81 करोड़ 13 लाख का बजट तैयार किया गया है, जिसे सदन में रखा जाएगा। वहीं वर्ष 2017.18 में करीब 23 अरब 42 करोड़ का बजट पेश किया गया था। इसी तरह वर्ष 2016.17 में करीब 15 अरब करोड़ और वर्ष 15.16 में 22 अरब 66 करोड़ का बजट सदन में रखा गया था। वहीं, शहर में तीन स्मार्ट पार्किंग का संचालन निगम ने प्राइवेट संस्था को देने का निर्णय लिया था। इसमें 40 प्रतिशत लाभ निगम के खाते में आना था।
मेयर संयुक्त भाटिया ने इस पर सवाल उठाते हुए फिलहाल इस निर्णय को रोक दिया था लेकिन कार्यकारिणी ने 42 प्रतिशत की दर पर इस प्रस्ताव को हरी झंडी दे दी।

हाउस टैक्स भुगतान में राहत
नगर निगम कार्यकारिणी में हाउस टैक्स का पहला भुगतान करने वालों का ब्याज माफ करने का फैसला लिया गया है। बड़ी संख्या मे भवन स्वामी बकाये पर ब्याज लगने के कारण बिल का भुगतान नहीं कर रहे हैं। हाउस टैक्स के निस्तारण के लिए सभी जोनों में विशेष शिविर लगाया जाएगा। इस व्यवस्था से जनता को सुविधा मिलेगी। वहीं, टैक्स दाताओं की संख्या में इजाफा होगा।

Pin It