यूपी इन्वेस्टर्स समिट की तैयारियां तेज एक लाख करोड़ के निवेश का लक्ष्य

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीस केंद्रीय मंत्री समिट में हो सकते हैं शामिल
औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने की समीक्षा
समिट में 5000 से अधिक डेलीगेट्स आने की सम्भावना

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। प्रदेश के औद्योगिक विकास मंत्री सतीश महाना ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी आगामी 21 एवं 22 फरवरी को लखनऊ में होने वाली उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट-2018 में शामिल होंगे। इस समिट में लगभग 20 केन्द्रीय मत्रियों के भाग लेने की सम्भावना है। वृहद स्तर पर आयोजित की जाने वाली इस इन्वेस्टर समिट में उत्तर प्रदेश में बड़े पैमाने पर पूंजी निवेश को आकर्षित करने की भूमिका तैयार की जायेगी। श्री महाना यहां इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में उत्तर प्रदेश इन्वेस्टर्स समिट-2018 की तैयारियों की विस्तार से समीक्षा कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि तीन पार्टनर कंट्री नीदरलैण्ड, मारीशस तथा फिनलैण्ड के उद्योगपति इस समिटि में शामिल होने की स्वीकृति दे चुके हैं। अन्य देशों के उद्योगपतियों का कन्फरमेशन भी शीघ्र मिल जायेगा। समिट के दौरान एक लाख करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य रखा गया है। इस दृष्टि से समिट बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसलिए इसके आयोजन में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। मंत्री ने कहा कि प्रदेश के 22 विभागों को पूंजी निवेश कराने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिनमें प्रमुख रूप से आई.टी. इलेक्ट्रानिक्स, एग्रो एण्ड फूड प्रोसेसिंग, ऊर्जा, यूपीएसआईडीसी, ग्रेटर नोएडा, वाईईआईडीए, पर्यटन, डेरी डेवलेपमेंट, सिविल एवियेशन तथा पशुधन विभाग शामिल हैं। औद्योगिक विकास आयुक्त डॉ. अनूप चंद्र पांडेय ने औद्योगिक विकास मंत्री को भरोसा दिया कि समिट के आयोजन में किसी भी प्रकार की शिथिलता नहीं आने दी जायेगी। उन्होंने बताया कि इस समिट में देश के प्रसिद्ध औद्योगिक घरानों के उद्योगपतियों को आमंत्रित किया गया है। इनमें टाटा, बिरला तथा अम्बानी गु्रप प्रमुखता से शामिल हैं। इस समिट में 5000 से अधिक डेलीगेट्स को उपस्थित होने की सम्भावना है। बैठक में औद्योगिक विकास (राज्यमंत्री)सुरेश राणा, प्रमुख सचिव, खादी एवं ग्रामोद्योग नवनीत सहगल, प्रमुख सचिव ऊर्जा आलोक कुमार, प्रमुख सचिव परिवहन आराधना शुक्ला, निदेशक सूचना अनुज कुमार झा सहित अन्य विभागों के वरिष्ठ अधिकारी मौजूद थे।

Pin It