नगर निगम के रैन बसेरों में प्राथमिक उपचार की व्यवस्था नहीं

प्राथमिक उपचार के लिए हर साल की जाती थी व्यवस्था
जिम्मेदारों की लापरवाही के कारण चौपट हो रही व्यवस्था

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राजधानी में ठंड का प्रकोप जैसे-जैसे बढ़ता जा रहा है वैसे-वैसे रैन बसेरों में आश्रयहीन लोगों की संख्या में इजाफा होने लगा है, लेकिन रैन बसेरों में लोगों को सुविधाएं नहीं मिल रही हैं। हर साल नगर निगम की ओर से रैन बसेरों में प्राथमिक उपचार के लिए जरूरी दवाएं रखी जाती थी लेकिन अभी तक यह व्यवस्था नहीं की गई है।
आश्रयहीन लोगों के लिए नगर निगम की ओर से 26 रैन बसेरे संचालित किए जा रहे हैं। नगर निगम के स्वास्थ्य विभाग की ओर से अभी तक रैन बसेरों में दवाएं नहीं भेजी गई हैं, जबकि हर साल नगर निगम आश्रयहीन लोगों को सामान्य बीमारियों के लिए नगर निगम प्राथमिक उपचार की व्यवस्था करता था। इसके लिए कोई खास बजट की आवश्यकता भी नहीं होती हैं। पिछली बार प्राथमिक उपचार के लिए 13 हजार का बजट था लेकिन अफसरों की लापरवाही के चलते अभी तक प्राथमिक उपचार की व्यवस्था नहीं की जा सकी है। यह हाल तब है जब जिला प्रशासन व नगर निगम आश्रयहीन लोगों को सुविधाएं देने के दावे कर रहे हैं।

दो दिन के भीतर शहर के सभी रैनबसेरों में प्राथमिक उपचार की व्यवस्था हो जाएगी।
डा. पीके सिंह नगर स्वास्थ्य अधिकारी

Pin It