ठेंगे पर शासन का आदेश, कर्मचारियों की स्क्रीनिंग से बच रहा नगर निगम

31 अक्टूबर तक करनी थी 50 वर्ष की उम्र पार कर चुके कर्मियों की स्क्रीनिंग
ब्योरा मिलने के बावजूद हाथ पर हाथ धरे बैठे हैं अफसर

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। नगर निगम में शासन के आदेशों की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। अफसरों की लचर कार्य प्रणाली के चलते अभी तक 50 वर्ष की उम्र पार कर चुके कर्मियों की स्क्रीनिंग का कार्य पूरा नहीं किया जा सका है जबकि निचले स्तर पर ब्योरा जुटाकर अफसरों के पास भेजा जा चुका है। ब्योरा मिलने के बावजूद नियुक्ति अधिकारी इस पर विचार नहीं कर पाए हैं। लिहाजा स्क्रीनिंग में विलंब होता जा रहा है।
शासन की ओर से 50 वर्ष की उम्र पार कर चुके कर्मचारियों की स्क्रीनिंग का पहला आदेश छह जुलाई को जारी किया गया था। तमाम विभागों में स्क्रीनिंग का कार्य पूरा किया जा चुका हैं लेकिन नगर निगम में यह कार्य अभी तक पूरा नहीं किया गया। शासन ने एक बार फिर कर्मचारियों की स्क्रीनिंग की तारीख बढ़ाकर 31 अक्टूबर कर दी। इसके बावजूद नगर निगम में स्क्रीनिंग नहीं की गई। अफसरों का कहना है कि विभाग में ऐसा कोई भी आदेश नहीं आया है। ऐसे में एक बार फिर स्क्रीनिंग की प्रक्रिया अधर में दिख रही है। शासन के आदेशानुसार निगम अफसरों को 31 अक्टूबर कर स्क्रीनिंग पूरी करनी थी लेकिन मामला क्यों लटका यह सवाल बना हुआ है। गौरतलब है कि 50 वर्ष की उम्र पूरी करने वाले कर्मियों की स्क्रीनिंग की व्यवस्था लंबे समय से चली आ रही है लेकिन कर्मचारियों की स्क्रीनिंग के शासनादेश पर अमल नहीं होता था। मुख्य सचिव ने यह काम फिर शुरू कराया। अपर मुख्य सचिव ने इसकी डेडलाइन तय कर कार्रवाई का आदेश जारी किया था। कई बार प्रक्रिया की समय सीमा बढ़ाई गई।
अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक ने शासन के अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों व सचिवों को अलग-अलग पत्र लिखा था इसमें स्क्रीनिंग की कार्रवाई 31 अक्टूबर तक पूरा कर कार्मिक अनुभाग एक को तय प्रारूप पर उपलब्ध कराने को कहा गया था, लेकिन नगर निगम के अफसरों को इस बात का ख्याल नहीं है।

जल्द ही कर्मचारियों की स्क्रीनिंग होगी। इसके लिए तैयारियां चल रही हैं। कमेटी द्वारा समीक्षा की जा रही है। रिपोर्ट के आधार पर निर्णय लिया जाएगा।
-उदयराज ंिसंह, नगर आयुक्त

मैंने अभी चार्ज संभाला है। ऐसा कोई भी मामला प्रस्तुत नहीं किया गया है। स्क्रीनिंग के संबंध में जानकारी मांगी जाएगी। जल्द ही स्क्रीनिंग करायी जाएगी।
-मनोज कुमार, अपर नगर आयुक्त

Pin It