प्रदेश में कानून-व्यवस्था ध्वस्त, कानपुर में बदमाशों ने दरोगा को मारी गोली तो लखनऊ में हिस्ट्रीशीटर ने सिपाही पर किया हमला

गम्भीर हालत में हैलट में भर्ती दरोगा अनुराग सिंह, पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी
लखनऊ के हसनगंज थाना क्षेत्र में वांछित अपराधी ने सिपाही पर किया हमला
जब प्रदेश में पुलिस ही सुरक्षित नहीं तो आम आदमी की सुरक्षा की बात करना बेमानी

अनिल सैनी
लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कानून-व्यवस्था का हाल बेहाल है। जिनके कंधों पर आम आदमी की सुरक्षा का जिम्मा है वह खुद बदमाशों के निशाने पर है। आज कानपुर में जहां एक दारोगा को बदमाशों ने गोली मारकर घायल कर दिया तो वहीं राजधानी लखनऊ में वांछित अपराधी ने सिपाही पर हमला कर दिया। वहीं तीन दिन पहले गाजियाबाद के निहली गांव में एक बदमाश को पकडऩे गयी एनआइए की टीम और गाजियाबाद पुलिस को निशाना बनाते हुये बदमाश ने गोली चला दी थी, जिसमें एक सिपाही घायल हो गया था।
उत्तर प्रदेश में आम लोगों की सुरक्षा भगवान भरोसे हैं। जब खुद पुलिस महकमें के लोग सुरक्षित नहीं है तो आम लोगों की सुरक्षा की बात करना बेमानी है। आज सुबह तडक़े कानपुर के पनकी थाने में तैनात दारोगा अनुराग सिंह बदमाशों की तलाश में निकले थे। बताया जाता है कि कि दारोगा अपनी टीम के साथ रतनपुर कस्बे में पहुंचे थे तभी उन्हें वहां पर कुछ संदिग्ध लोग दिखे। पुलिस टीम ने उन बदमाशों को रुकने के लिये कहा तभी बदमाशों ने पुलिस टीम को निशाना बनाते हुये गोली चला दी। अचानक चली गोली से वहां हडक़म्प मच गया। पुलिस का कहना है कि गोली दरोगा अनुराग के चेहरे को छूती हुयी निकल गयी। घायल दरोगा को हैलट अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां उनका उपचार चल रहा है। पुलिस का कहना है कि गोली चलाने वाले बदमाशों की तलाश की जा रही है। इसी तरह आज राजधानी के हसनगंज थाना क्षेत्र मे एक वांछित अपराधी ने पुलिस पर उस समय हमला कर दिया जब वर्दी वाले उसे पकडऩे गए थे। वांछित अपराधी के हमले मैं एक सिपाही घायल हो गया। पुलिस ने अपराधी के खिलाफ मामला दर्ज कर उसे पकडऩे का प्रयास करना शुरू कर दिया है।
हसनगंज इंस्पेक्टर विमलेश कुमार सिंह ने बताया कि अलीगंज का हिस्ट्रीशीटर एहसान गाजी हसनगंज में हुए एक मारपीट के आरोप में वांछित है। देर रात पुलिस उसके घर पर दबिश देने गयी थी। पुलिस टीम को देखकर बदमाश ने भागने का प्रयास किया। इस पर बदमाश गाजी ने टीम पर हमला कर दिया जिसमें एक सिपाही भगवंत बुरी तरह घायल हो गया। इंस्पेक्टर का कहना है कि जब तक पुलिस उस तक पहुंचती वह चकमा देकर फरार हो गया। कानपुर या लखनऊ में पुलिस पर हुई घटना कोई पहली घटना नहीं है। इससे पहले अभी 3 दिसम्बर को गाजियाबाद के निहली गांव में एक बदमाश को पकडऩे गयी एनआइए की टीम और गाजियाबाद पुलिस को निशाना बनाते हुये बदमाश ने गोली चला दी थी जिसमें एक सिपाही तहजीब खान को गोली लगी थी।

महापुरुषों के बारे में वर्तमान पीढ़ी जाने, इसीलिए हमने इनसे जुड़ी महत्वपूर्ण तिथियों पर बंद किया अवकाश: सीएम योगी

अंबेडकर की प्रतिमा पर राज्यपाल राम नाईक और सीएम योगी ने अर्पित की श्रद्धांजलि

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। राज्यपाल रामनाइक और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विधानसभा भवन के सामने स्थित अंबेडकर महा सभा में अंबेडकर की प्रतिमा पर श्रद्धांजलि अर्पित की। इस मौके पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आज पूरा देश बाबा साहब को अपनी श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा है। हम संविधान शिल्पी के रूप में उनका नमन करते हैं। सीएम ने कहा भारत के महापुरुषों के बारे में वर्तमान पीढ़ी जाने, इसीलिए हमने इनसे जुड़ी महत्वपूर्ण तिथियों पर अवकाश बंद किया। हमारी कोशिश है कि इस दिन विद्यालयों में डिबेट और कम्पटीशन आयोजित किए जाएं। संस्थाओं में महापुरुषों के विषय पर कार्यक्रम आयोजित हो।सीएम योगी ने दलित समाज को शिक्षा से जोडऩे पर बल दिया।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बाबा साहब ने इस देश के गरीब, दलित को मुख्यधारा के साथ बढ़ाया। उन्होंने इनके लिए जीवन भर काम किया। विदेश में रहकर बाबा साहब ने उच्च शिक्षा अर्जित की।
सीएम ने कहा कि मध्यकाल में देश में सामाजिक अश्पृश्यता की विकृति आई, जिसका शिकार बाबा साहब को भी बचपन में होना पड़ा था। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में भाईचारा स्थापित होना चाहिए। इस अवसर पर केन्द्र सरकार की उपलब्धियों को गिनाते हुए सीएम योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बाबा साहब से जुड़े स्थलों को पंचतीर्थ के रूप में विकसित किया। यूपी में 35000 उद्यमी प्रति वर्ष लाभान्वित हो पाएंगे। हर परिवार के पास व्यक्तिगत शौचालय के लिए सरकार संकल्पित है। अब तक 38 लाख शौचालय बनाए गए हैं। उन्न्होंनेकहा कि अनुसूचित जाति जनजाति के लिए छात्रवृत्ति समय पर मिली। विवाह के लिए अनुदान भी पहले मिले इसके लिए कहा है। इस दौरान कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या समेत बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे।

Pin It