लखनऊ जोन की जेलों में बंद बदमाशों से सुराग तलाशेगी राजधानी पुलिस

झांसी जेल में बंद मुन्ना बजरंगी से भी करेगी पूछताछ, टीम आज होगी रवाना
कई बिंदुओं पर काम कर रही पुलिस, पूर्वांचल के अन्य गैंगों पर भी नजरें

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ। राजधानी के गोमतीनगर थाना क्षेत्र में हुई तारिक की हत्या के खुलासे के लिये पुलिस की निगाहें अब लखनऊ समेत जोन में स्थित अन्य जेलों पर टिक गयी हैं। पुलिस इन जेलों में बन्द अपराधियों से पूछताछ करेगी। इसका मकसद तारिक हत्याकांड के सूत्र तलाशना है।
एसपी उत्तरी अनुराग वत्स ने बताया कि पुलिस की टीमें अब लखनऊ जोन स्थित सभी जेलों में बन्द अपराधियों से भी पूछताछ करेगी क्योंकि यहां पर कई अपराधी ऐसे हैं जिनका या तो मुन्ना बजरंगी या उसके विरोधी गैंग से संबंध रहा है। इसके अलावा मुन्ना बजरंगी गैंग का संबंध पूर्वांचल से रहा है लिहाजा पुलिस की ठीमें इस क्षेत्र पर भी अपनी निगाहें जमाए हुए है। एसपी उत्तरी ने बताया कि पुलिस टीम यहां भी रंजिश और अन्य बिंदुओं पर काम कर रही है। अभी तक पुलिस इस घटना को गैंगवार से जोडक़र देख रही थी मगर पुलिस की इस थ्योरी को डीजीपी ने सिरे से खारिज कर दिया है। इस संबंध में डीजीपी का कहना है कि यह घटना कोई गैंगवार नहीं थी बल्कि एक जघन्य वारदात है इसका जल्द खुलासा किया जायेगा। पुलिस सूत्रों का कहना है कि इस घटना के खुलासे के लिये पुलिस की एक टीम आज झांसी जेल में बंद मुन्ना बजरंगी से भी पूछताछ करने के लिये जायेगी। वहां पर पुलिस टीम बजरंगी से यह जानने का प्रयास करेगी कि जब तारिक उससे मिलने आता था तो क्या उसने कभी किसी से जान का खतरा होने की बात कही थी। पुलिस का यह भी कहना है कि तारिक की हत्या में जिन प्रतिबंधित कारतूसों के खोखे मिले है इस तरीके के असलहे मुन्ना बजरंगी गैंग के अन्य सदस्यों के पास होने की भी बात की जा रही है। इन सारे बिन्दुओं को लेकर आज पुलिस की एक टीम झांसी जायेगी। गौरतलब है कि गोमतीनगर विस्तार के रहने वाले तारिक की एक दिसंबर की शाम को फिल्मी स्टाइल में गोलियों से भूनकर हत्या कर दी गयी थी।

Pin It