अपने-अपने गढ़ में भी जीत नहीं दिला सभी दलों के दिग्गज

अलीगढ़ में कल्याण, कौशांबी में केशव, कन्नौज-मैनपुरी में अखिलेश, सहारनपुर में मायावती हुईं फेल

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। निकाय चुनाव के परिणाम ने सबको चौंका दिया है। सभी दलों के बड़े नेता अपने-अपने गढ़ में अपनी पार्टी को जीत दिलाने में नाकाम साबित हुए। अलीगढ़ में कल्याण सिंह का जादू नहीं चला तो कौशांबी में उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य फेल हो गए। इतना ही नहीं इटावा, मैनपुरी और कन्नौज में अखिलेश भी समाजवादी पार्टी का परचम नहीं फहरा सके।
पूर्व मुख्यमंत्री और वर्तमान में राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह का गृह जनपद अलीगढ़ है। यहां नगर निगम की सीट बसपा ने भाजपा से छीन ली है। अतरौली सीट तो जैसे-तैसे भाजपा जीत गई किंतु दूसरी सीटों पर पार्टी को हार देखनी पड़ी है। ज्यादातर सीटों पर निर्दलीयों ने कब्जा किया है।
प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का गृह जनपद कौशांबी है। यहां भाजपा की बुरी तरह से पराजय हुई है। जिले की छह नगर पंचायतों में से सिर्फ एक पर भाजपा जीत सकी है बाकी सभी सीटों पर पार्टी हार गई है।
प्रदेश के नगर विकास मंत्री सुरेश खन्ना शाहजहांपुर से आठ बार के विधायक हैं। लेकिन शाहजहांपुर नगर पालिका लगातार चार बार हार गए हैं। इस बार भी भाजपा की नीलिमा प्रसाद पांच हजार से अधिक वोट से हार गई हैं। जिले में तिलहर, पुवायां और खुटार, रोजा में भी पार्टी चुनाव नहीं जीत सकी है।
सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव तीन बार कन्नौज से सांसद रहे और वर्तमान में उनकी पत्नी डिंपल यादव यहां से सांसद हैं। किंतु नगर पालिका की सीट सपा नहीं जीत सकी है। मैनपुरी सीट भी भाजपा ने जीती है। जसवंतनगर में भी सपा हार गई है, यहां शिवपाल समर्थक निर्दल उम्मीदवार चुनाव जीता है।

Pin It