सचिवालय में प्रमोशन पर नाराजगी

अपर निजी सचिव ने मुख्य सचिव को लिखा पत्र

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश सचिवालय अपर निजी सचिवों ने वाह्य विभाग के 24 कर्मियों को सचिवालय के विभागों में प्रमोशन दिये जाने की प्रक्रिया पर नाराजगी जाहिर की है। अपर निजी सचिव संघ ने इस बात को लेकर मुख्यसचिव को पत्र लिखा है। जिसमें कहा गया है कि सचिवालय में अपर निजी सचिवों की कमी के चलते बाहर के विभागों के 24 कर्मियों के कामों को पूरा करने के लिए बुलाया गया था, जिन्हें लगभग एक साल के लिए विनियमित किया गया था।
अपर निजी सचिव संघ के अध्यक्ष अमर सिंह ने आरोप लगाया है कि 24 कर्मियों को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग से नियमित रूप से चयनित 1999 बैच के अपर निजी सचिव से वरिष्ठ पदों पर इन कर्मियों को प्रमोशन दिए जाने की तैयारी की जा रही है, प्रमुख सचिव सचिवालय प्रशासन द्वारा की जा रही यह तैयारी सरासर गलत है। इस संबंध में विभाग के प्रतिनिधियों के साथ न्याय एवं वित्त विभाग के प्रतिनिधियों की बैठक भी आयोजित की जा चुकी है। इस तरह की कार्यवाई से समस्त निजी सचिव व अपर निजी सचिव मानसिक रूप से परेशान हैं। मुख्यमंत्री द्वारा इस नियम विरुद्ध कार्रवाई को ना किए जाने का अनुमोदन प्रदान किया जा चुका है। यदि इस प्रकार की कार्रवाई की जाती है तो तमाम विधिक जटिलताएं पैदा होंगी, जिसका सीधा असर अन्य संवर्ग सहित पूरे प्रदेश में पड़ेगा। इस प्रकरण से मुकदमों की संख्या में इजाफा होगा।

 

Pin It