4पीएम की खबर का बड़ा असर

सरकार ने कहा गोमती नगर विस्तार में काले धन से खरीदे फ्लैटों की होगी जांच

सरकार के प्रवक्ता व ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने कहा, हमने 4पीएम की खबर का लिया संज्ञान, करायेंगे काला धन रखने वालों के खिलाफ जांच और करेंगे कड़ी कार्रवाई
अरबों की काली कमाई ठिकाने लगाने के लिए गोमती नगर विस्तार में खरीदे गए सैकड़ों फ्लैट, आज तक नहीं खुला ताला
गंगा, यमुना, सरस्वती समेत कई अपार्टमेंट में हैं आईएएस अफसरों और राजनेताओं के दर्जनों फ्लैट

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। गोमती नगर विस्तार नौकरशाहों और राजनेताओं की काली कमाई खपाने का एक बड़ा अड्डा बन गया था, जब 4पीएम ने इसकी पड़ताल की तो यह सच साबित हुई। 4पीएम ने मंगलवार को इस खबर को प्रकाशित किया तो हडक़ंप मच गया। प्रदेश सरकार ने भी इस खबर को संज्ञान में लेते हुए काला धन रखने वालों के खिलाफ जांच कराने व उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की बात कही।
4पीएम ने मंगलवार को ‘गोमती नगर विस्तार में करोड़ों का कालाधन खपाया राजनेताओं और अफसरों ने’ शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। खबर छपने के बाद नौकरशाही से लेकर सरकार तक में हडक़ंप मच गया। प्रदेश सरकार ने भी खबर को संज्ञान में लेते हुए जांच की बात कही। आज सरकार के प्रवक्ता व ऊर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने भी इस मामले में सख्त कदम उठाये जाने की बात कही है। दरअसल गोमती नगर विस्तार में आईएएस अफसरों व राजनेताओं ने अपना काला धन खपाने के लिए करोड़ों रुपए का फ्लैट खरीद कर छोड़ रखा है। आलम यह है कि फ्लैट खरीदे पांच वर्ष से ज्यादा का समय हो गया है लेकिन अब तक इन फ्लैटों का ताला नहीं खुला है। विस्तार के सरस्वती अपार्टमेंट में 319 फ्लैट हैं, जिसमें से 42 फ्लैट ऐसे हैं जो कभी खोले ही नहीं गए। वहीं यमुना अपार्टमेंंट में एक दर्जन से ज्यादा फ्लैटों का ताला कभी नहीं खुला। यही हाल गंगा, शारदा, अलकनंदा समेत एक दर्जन सोसायटी का है, जहां दर्जनों फ्लैट सालों से कभी नहीं खुले। इनमें से अधिकांश फ्लैट किसी अज्ञात व्यक्ति के नाम या अपने रिश्तेदारों के नाम से खरीदे गए हैं, जिससे उन तक कभी भी पहुंचा न जा सके। इस संबंध में सोसायटी के पदाधिकारियों ने एलडीए को भी कई खत लिखे, मगर एलडीए ने यह कहकर पल्ला झाड़ लिया कि इन बंद पड़े फ्लैटों से एलडीए का कोई लेना-देना नहीं है। वहीं इन बंद पड़े फ्लैटों के कारण सोसायटी चलाने में भी परेशानियां खड़ी हो रही हैं क्योंकि इनसे मासिक शुल्क प्राप्त नहीं हो पा रहा और उसके कारण सोसायटी को भुगतान भी नहीं मिल पाता है। सोसायटी के भुगतान के लिए कई बार इन फ्लैट स्वामियों को लीगल नोटिस भी दिए गए, मगर गलत पता होने के कारण ये नोटिस वापस आ गए। जाहिर है कि इन बंद पड़े फ्लैटों के मालिकों ने अपनी पहचान छिपाने के लिए गलत पते दिए थे। इस समय एक फ्लैट की कीमत 70 से 75 लाख रुपए है, जाहिर है इसकी कीमत सैकड़ों करोड़ होगी, अगर इस मामले की बड़े पैमाने पर पड़ताल हो गई तो कई ऐसी मछलियां फंसेंगी जो बड़े पैमाने पर काला कारोबार करती हैं।

4पीएम की खबर का संज्ञान लिया गया है। सरकार काला धन रखने वालों के खिलाफ जांच करायेगी और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
-श्रीकांत शर्मा, ऊर्जा मंत्री

गुजरात में लगा नेताओं का जमावड़ा मोदी, योगी और राहुल पहुंचे

विधानसभा चुनाव में भाजपा और कांग्रेस ने झोंकी ताकत

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
नई दिल्ली। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर गुजरात में भाजपा और कांग्रेस के वरिष्ठï नेताओं का जमावड़ा लगा हुआ है। गुजरात चुनाव में भाजपा खासकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रतिष्ठïा दांव पर लगी है। वे गुजरात में ताबड़तोड़ चुनाव प्रचार कर रहे हैं। आज भी मोदी कई जनसभा को संबोधित किए। वहीं दूसरी ओर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी प्रचार की कमान संभाल ली है। दूसरी ओर कांग्रेस भी गुजरात में अपनी खोई जमीन तलाशने के लिए जोर आजमाइश कर रही है। कांग्रेस के पक्ष में हवा बहाने के लिए पार्टी के राष्टï्रीय उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी गुजरात पहुंचे। राहुल ने कई जनसभा को संबोधित किया और पीएम मोदी पर जमकर निशाना साधा।

प्रधानमंत्री ने मोरबी में सभा को संबोधित किया और कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि बीजेपी-संघ हमेशा मोरबी के साथ रहे हैं, लेकिन कांग्रेस के नेताओं के बारे में कोई ऐसा नहीं बोल सकता है। उन्होंने कहा कि इंदिरा गांधी मुंह पर रुमाल रखकर मोरबी आईं थीं। मोदी ने कहा कि देश में जहां भी आपदा आई है उसके बाद वहां का विस्तार देखना चाहिए, आपदा के बाद किस तरह समस्या से निपटा जाता है वह गुजरात मॉडल से सीखना चाहिए। पीएम ने कहा कि कांग्रेस का विकास मॉडल हैंडपंप है और गुजरात का विकास मॉडल है नर्मदा का पानी बड़ी पाइपलाइन से घरों में जाना। जब हम सत्ता में नहीं थे, हमने तब भी मोरबी की सेवा की थी।
पीएम मोदी की दूसरी सभा गिर सोमनाथ जिले के प्रांची में है,जो सोमनाथ मंदिर से 30 किलोमीटर दूर है। सोमनाथ मंदिर में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी यहां दर्शन करेंगे। राहुल गिर सोमनाथ और अमरेली जिले का दौरा करेंगे। इस दौरान राहुल गांधी का रोड शो भी निकलेगा। राहुल अमरेली में रात्रि प्रवास करेंगे। वहीं पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल मुख्यमंत्री विजय रुपाणी के गढ़ राजकोट में एक बड़ी क्रंाति रैली करेंगे।

छिटपुट हंगामे के बीच प्रदेश में मतदान जारी

कहीं ईवीएम खराब तो कहीं वोटरलिस्ट में नाम नहीं, बाराबंकी में मतदाताओं पर पुलिस ने बरसाई लाठियां

4पीएम न्यूज़ नेटवर्क
लखनऊ। उत्तर प्रदेश नगर निकाय चुनाव में अंतिम चरण का मतदान जारी है। 26 जिलों में चल रही इस चुनाव प्रक्रिया के दौरान कई जगह विरोध प्रदर्शन, अव्यवस्था और पोलिंग बहिष्कार की खबर है। कई जगह पुलिस को मामला शांत कराने में लाठियां भांजनी पड़ी। इसके साथ ही आज पांच नगर निगम में महापौर चुनने के लिए भी मतदान हो रहा है।
पश्चिम उत्तर प्रदेश में आज तीसरे तथा अंतिम चरण में बागपत, सहारनपुर और बुलंदशहर में एक-दो स्थानों पर फर्जी वोटिंग को लेकर हंगामे को छोड़ तीनों जिलों में शांतिपूर्वक मतदान जारी है। सहारनपुर में महापौर के साथ ही पालिका व नगर पंचायत अध्यक्ष व सभासद के लिए वोट डाले जा रहे हैं। बागपत व बुलंदशहर जिलों में पालिका व नगर पंचायत अध्यक्ष के लिए मतदान हो रहा है। बागपत के अग्रवाल मंडी टटीरी में फर्जी वोट डालने को लेकर कुछ देर हंगामा हुआ। निर्दलीय प्रत्याशी ने पुलिस पर आरोप लगाए। बागपत में फर्जी वोट डालने को लेकर जमकर हंगामा हुआ। पुलिस और फर्जी वोट डाल रहे युवक में हुई हाथापाई हुई। इस दौरान अफरा तफरी मच गई।

बाराबंकी में पीर वटावन के वार्ड 26 में पुलिस ने मतदाताओं पर जमकर लाठियां बरसाईं और एजेंटों की कुर्सियां तोड़ डाली। जिसके बाद जनता ने पुलिस और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की। दूसरी तरफ सहारनपुर के नानौता नगर पंचायत क्षेत्र में पुलिस ने फर्जी वोट डालते हुए तीन महिलाओं को गिरफ्तार किया है। वहीं जौनपुर के दो वार्डों में करीब 500 लोगों के नाम गायब होने के बाद प्रदर्शन किया गया। मतदाता सूची में नाम न होने के बाद सरस्वती कॉलेज के बूथ 151 पर लोगों ने प्रदर्शन किया। इतना ही नहीं वार्ड-28 जोगियापुर और 24 नखास के बूथ में लोग जबरन घुस गए। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें खदेड़ कर बाहर किया। इसी तरह अन्य जिलों से भी मतदाता सूची में गड़बड़ी के मामले सामने आ रहे हैं। लखीमपुर खीरी में जहां मृतकों के नाम वोटिंग लिस्ट में मिले हैं तो वहीं कई घरों के नाम काट दिए गए हैं। इतना ही नहीं कई जगहों पर मतदान केंद्र भी बदल दिए गए हैं। जौनपुर में सपा सरकार में मंत्री रहे पारसनाथ यादव समेत उनके पूरे परिवार का नाम वोटर लिस्ट से गायब है, जिसकी वजह से वे वोट नहीं डाल सके। प्रदेश के तीसरे चरण में 94 लाख मतदाता 28135 प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला करेंगे। मतदान शाम पांच बजे तक होगा। तीसरे चरण में पांच नगर निगम, 76 नगर पालिका परिषद व 152 नगर पंचायतों के लिए मतदान हो रहा है। अंतिम चरण के लिए 3599 मतदान केंद्र व 10817 मतदेय स्थल बनाए गए हैं।

पांच नगर निगमों के लिए मतदान
पांच नगर निगमों में सहारनपुर, मुरादाबाद, बरेली, फीरोजाबाद व झांसी हैं। इनमें मेयर पद के लिए 74 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। नगर निगमों में पार्षदों के 350 पद के लिए 3175 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं। नगर पालिका परिषद में अध्यक्ष के 76 पद पर 914 उम्मीदवार हैं। इसी प्रकार सदस्यों के 2002 पदों के लिए 11637 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। नगर पंचायतों पर नजर डाली जाए तो 152 पदों के लिए 1711 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इसमें सदस्यों के 1947 पद हैं। इसमें भी 10624 प्रत्याशी खड़े हैं।

आज इन जिलों में पड़ रहे हैं वोट
सहारनपुर, बागपत, बुलंदशहर, मुरादाबाद, संभल, बरेली, एटा, फीरोजाबाद, कन्नौज, औरैया, कानपुर देहात, झांसी, महोबा, फतेहपुर, रायबरेली, सीतापुर, लखीमपुर खीरी, बाराबंकी, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, महराजगंज, कुशीनगर, मऊ, चन्दौली, जौनपुर व मीरजापुर।

Pin It